ताज़ा खबर
 

IRCTC: बिना पैसे खर्च किए बुक करें रेलवे का टिकट, बाद में चुकाएं, यह है तरीका

IRCTC Indian Railway epaylater service: बाय नाउ पे लैटर’ फीचर के लिए आपको अपना आधार कार्ड, पैन कार्ड जैसी जानकारी मुहैया करानी होगी। फिर आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आपको ओटीपी प्राप्त होगा।

इस फोटो का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

भारतीय रेलवे कैटेरिंग और टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) एक नई सर्विस लॉन्च की थी। अब आईआरसीटीसी ‘बाय नाउ पे लैटर’ की सुविधा दे रहा है। आईआरसीटीसी टिकट बुक करने की सुविधा को आसान बनाने की लगातार कोशिश कर रहा है। बाय नाउ पे लैटर की सुविधा से रेल टिकट खरीदकर बाद में भुगतान करने का विकल्प मिलता है। बाय नाउ पे लैटर से टिकट बुक करते समय पेमेंट के दौरान आने वाली दिक्कतों में कमी आएगी। अभी जब टिकट बुक करते हैं तो कई बार बीच में ही ट्रांजेक्शन कैंसिल हो जाती है, कई बार तो अकाउंट से पैसे भी कट जाते हैं और टिकट भी बुक नहीं होता। आईआरसीटीसी इस सुविधा को ईपेलैटर के साथ साझेदारी करके दे रहा है। ई पे लैटर कंपनी बाय नाउ पे लैटर की सुविधा देती है। यह कंपनी ऑनलाइन शॉपिंग करने वालों को पेमेंट करने के लिए 14 दिन का समय देती है। ईपेलैटर आईआरसीटीसी से टिकट बुक करने पर पेमेंट करने के लिए 14 दिन का समय देगी। बाद में पेमेंट आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाकर करना होगा।

‘बाय नाउ पे लैटर’ फीचर के लिए आपको अपना आधार कार्ड, पैन कार्ड जैसी जानकारी मुहैया करानी होगी। फिर आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आपको ओटीपी प्राप्त होगा, जिसके बाद आप इसका इस्तेमाल कर सकेंगे। ईपेलैटर एनईएफटी के जरिए ऑनलाइन भुगतान स्वीकार करती है। ईपेलेटर का इस्तेमाल करने के लिए आपको ईपेलैटर पर अपना अकाउंट बनाना होगा। ईपेलैटर की शुरुआत मुंबई में दिसंबर 2015 में हुई थी।

ऐसे करें टिकट बुक: सबसे पहले IRCTC की वेबसाइट पर लॉगिन करें। इसके बाद अपनी यात्रा की डिटेल्स डालें। पे लैटर का इस्तेमाल करने के लिए भी ठीक वैसे ही टिकट बुक करनी है जैसे कि दूसरे तरीके से बुक करने के लिए करते हैं। इसके बाद जब पेमेंट पेज पर आएंगे तो आपको ई पे लैटर का ऑप्शन सिलेक्ट करना है। यहां इसके बाद आप ई पे लैटर के पेज पर आ जाएंगे। यहां आपको अपने अकाउंट में लॉगिन करना है और यहां आपका बुकिंग अमाउट आएगा, इसे कन्फर्म करना है और आपका टिकट बुक हो जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App