ताज़ा खबर
 

भारत में बैन हो सकता है iPhone, ये रहे कारण

ट्राई एप्पल के साथ चल रहे तकरार को लेकर कोई बड़ा कदम उठा सकता है। यदि एप्पल ट्राई के इस फैसले को नहीं मानता है तो उसका डिवाइस टेलिकॉम नेटवर्क से रजिस्ट्रेशन रद किया जा सकता है। फोन भारतीय नेटवर्क पर काम नहीं करेगा।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

मोबाइल फोन की दिग्गज कंपनी एप्पल की मुश्किलें भारत में बढ़ सकती है। अाईफोन भारतीय नेटवर्क पर काम करना बंद कर सकता है। इसके पीछे वजह ये है कि ट्राई (टेलिकॉम अथॉरिटी ऑफ इंडिया) ने फेक कॉल्स और स्पैम मैसेज रोकने को लेकर दूरसंचार प्रदाता कंपनियों के लिए नए नियमों की घोषणा की है। एेसे में ट्राई एप्पल के साथ चल रहे तकरार को लेकर कोई बड़ा कदम उठा सकता है। बताया जा रहा है कि ट्राई एयरटेल, वोडाफोन जैसी कंपिनयों को नोटिस जारी कर एप्पल का रजिस्ट्रेशन रद्द कर सकती है।

गौरतलब है कि एप्पल और ट्राई के बीच डू नॉट डिस्टर्ब (डीएनड) ऐप को लेकर काफी समय से तकरार जारी है। ट्राई ने आईफोन यूजर्स के लिए डीएनडी ऐप का नया वर्जन DND 2.0 डिजाइन किया है, लेकिन एप्पल ने इसे अपने ऐप स्टोर पर इसे जगह नहीं दी है। ट्राई चाहता है कि इस ऐप को ऐप्पल अपने स्टोर में जगह दे ताकि यजूर्स को फेक कॉल्स और स्पैम मैसेज से राहत मिल सके। ट्राई का साफ कहना है कि अगर अमेरिकी स्मार्टफोन कंपनी एप्पल अपने फोन में इस ऐप को जगह नहीं देता है तो फोन भारतीय नेटवर्क पर काम करना बंद कर देगा। लेकिन एप्पल का इस मामले पर कहना है कि डीएनडी एप यूजर्स के कॉल्स और मैसेज रिकार्ड करने की अनुमति मांगता है, इससे यूजर्स की प्राइवेसी को खतरा है। साथ ही एप्पल का कहना है कि वो ट्राई के ऐप की जगह खुद का अपना ऐप डेवलप करेगी।

ट्राई की नई गाइड लाइन के अनुसार, देश के सभी टेलिकॉम आपॅरेटरों को यह सुनिश्चित करना है कि उनके नेवटर्व पर सभी रजिस्टर्ड डिवाइस पर डीएनडी ऐप के 2.0 वर्जन को रेग्यूलेशन के नियम 6(2)(e) तथा 23 (2) (d) के तहत नेटवर्क की अनुमति मिले। अगर किसी भी टेलिकॉम ऑपरेटर पर रजिस्टर्ड डिवाइस पर इस ऐप की अनुमति नहीं मिलती है तो उसके रजिस्ट्रेशन को टेलिकॉम नेटवर्क से रद्द कर दिया जाएगा। फिलहाल डू नॉट डिस्टर्ब ऐप का 2.0 वर्जन गूगल ने अपने प्ले स्टोर में एंड्रायड यूजर्स के लिए उपलब्ध करा दिया है। वहीं, यदि एप्पल ट्राई के इस फैसले को नहीं मानती है तो उसका डिवाइस टेलिकॉम नेटवर्क से रजिस्ट्रेशन रद किया जा सकता है। फोन भारतीय नेटवर्क पर काम नहीं करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Jio Phone Exchange Offer: 501 की जगह देने होंगे 1095 रुपये, जानिए क्‍यों
2 चुनाव से पहले वाट्सऐप के फीचर में बदलाव की तैयारी, एक संदेश 5 बार भेजने की सीमा तय, विदेशों में है 20
3 Vodafone के अब इस प्लान में मिलेगा JIO से दोगुना डेटा, साथ में ये सर्विस भी