ताज़ा खबर
 

चैट्स में इमोजी का करते हैं इस्‍तेमाल तो अनजाने में ढीली हो रही आपकी जेब, जानिए कैसे

साइबर मार्केटिंग फर्म '4सी इनसाइट्स' के प्रमुख मार्केटिंग अधिकारी एरन गोल्डमैन के अनुसार इन इमोजी की पसंद से विभिन्न कंपनियों को यूजर्स की पसंद और नापसंद, उनके शौक, जरुरतें, मनोदशा और उनकी इच्छाएं जानने में भारी मदद मिल रही है।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (express file photo)

सोशल मीडिया से जुड़े यूजर्स को लेकर साइबर मार्केटिंग फर्म ‘4सी इनसाइट्स’ ने चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। फर्म के मुताबिक अगर आप इन प्लेटफॉर्म पर इमोजी का इस्तेमाल कर रहे हैं तो यह आपकी जेब के लिए नुकसानदायक साबित होने वाला है। दरअसल सोशल मीडिया में अपनी भावनाएं व्यक्त करने के लिए आप जिन इमोजी का इस्तेमाल करते हैं उनकी मदद से कंपनियां ना सिर्फ आपकी पसंद के बारे में जान लेती है बल्कि उसके हिसाब से विज्ञापन जारी आपको गैर जरुरी चीजें खरीदने के लिए उकसाया जाता है।

खास बात यह है कि इस मामले में यह कंपनियां सफल भी हो रही हैं। सबसे पहले साल 2016 में ट्विटर ने ऐसे फीचर की शुरुआत की थी, जिसकी मदद से विज्ञापन दाता आराम से देख सकते हैं कि यूजर्स कौन सी इमोजी पोस्ट कर रहे हैं। साइबर मार्केटिंग फर्म ‘4सी इनसाइट्स’ के प्रमुख मार्केटिंग अधिकारी एरन गोल्डमैन के अनुसार इन इमोजी की पसंद से विभिन्न कंपनियों को यूजर्स की पसंद और नापसंद, उनके शौक, जरुरतें, मनोदशा और उनकी इच्छाएं जानने में भारी मदद मिल रही है।

उदाहरण के लिए अगर आप व्हॉट्सएप, ट्विटर या फेसबुक पर किसी दोस्त से बर्गर खाने की इच्छा जाहिर करते हैं तो विभिन्न कंपनियां आपकी इसी इच्छा का इस्तेमाल कर आपकी वॉल पर तुरंत पिज्जा का विज्ञापन चिपका देती है। इसमें ग्राहक बन चुके यूजर्स को एक पर एक मुफ्त या 30 से 40 फीसदी ऑफ का ऑफर दिया जाता है। यूजर्स ना चाहते हुए किसी कंपनी का ग्राहक बन जाता है तो वॉल पर नजर आ रही चीज को खरीदने पर मजबूर हो जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App