ताज़ा खबर
 

फेसबुक के लगभग 3 करोड़ यूजर्स का डेटा चोरी, जानिए कौन सी जानकारी हैकर्स के पास

जुलाई 2017 और सितंबर 2018 के बीच हैकर्स ने फेसबुक के कोड में सेंधमारी की। इस हैकिंग से फेसबुक पर यूजर्स के अकाउंट अपने आप बंद होने लगे थे। हैकर्स ने यूजर्स की नौकरी और शिक्षा जैसी डीटेल चुरा ली हैं।

फेसबुक के मुताबिक. 5 करोड़ लोगों के अकाउंट हैक होने का डर था लेकिन 3 करोड़ अकाउंट ही हैक हुए। (फोटो सोर्स : Indian Express)

फेसबुक ने यूजर्स के डाटा को लेकर एक बड़ा चौंकाने वाला खुलासा किया है। हैकर्स ने दुनियाभर के 29 मिलियन (2.9 करोड़) उपभोक्ताओं के डेटा को एक्सेस कर लिया है। इसका खुलासा बीते महीने हुआ। फेसबुक के मुताबिक, हैकर्स ने 4 लाख लोगों के अकाउंट पर साइबर अटैक कर तीन करोड़ यूजर्स का डाटा हैक कर लिया। इस हैकिंग से फेसबुक पर यूजर्स के अकाउंट अपने आप बंद होने लगे थे। हैकर्स ने नाम और कॉन्टैक्ट डीटेल चुरा लिए हैं।

फेसबुक ने अपने बयान में कहा कि, हैक हुए खातों को लेकर हमारा आंकलन ज्यादा था हालांकि उसकी तुलना में कम लोग ही प्रभावित हुए हैं। सुरक्षा चूक के कारण यह सेंधमारी हुई है। फेसबुक के मुताबिक 5 करोड़ लोगों के अकाउंट हैक होने का डर था लेकिन हैकर्स केवल 3 करोड़ अकाउंट ही हैक कर पाए। फेसबुक ने इस कमी को दूर कर लिया है।

कंपनी ने दो दिनों के भीतर इस सेंधमारी से निजात पा ली गई। कंपनी ने शुक्रवार को देर रात इस बात खुलासा किया। 14 मिलियन लोगों की नौकरी, शिक्षा और दोस्तों की लिस्ट हैक हुई है जबकि 15 मिलियन लोगों के सिर्फ नाम और कॉन्टैक्ट डीटेल चोरी हुए हैं।

फेसबुक के मुताबिक, हैकर्स ने डाटा चुराने के लिए फेसबुक के फीचर ‘View As’ का इस्तेमाल तीन अलग-अलग सॉफ्टवेयर बग्स के जरिए किया। इसके माध्यम से हैकर्स को यूजर्स के एक्सेस टोकन मिल गए, इनकी मदद से हैकर्स ने करीब तीन करोड़ लोगों की जानकारी चोरी कर लीं। जुलाई 2017 और सितंबर 2018 के बीच हैकर्स ने फेसबुक के कोड में सेंध लगाई। फेसबुक ने खामी को दुरुस्त कर इसकी जानकारी साइबर क्राइम शाखा को दे दी है। जांच में फेसबुक एफबीआई का सहयोग कर रही है।

फेसबुक ने बताया कि, उनकी नजर 14 सितंबर, 2018 को हैकर्स की मूवमेंंट पर पड़ी। जो कि उन्हें सामान्य नहींं थीं। इसके बाद फेसबुक ने जांच शुरू की और 25 सितंबर को यह निर्धारित किया कि यह एक अटैक ही था।

फेसबुक ने साथ ही संभावित रूप से हैक किए गए अकाउंट्स के लिए एक्सेस टोकन बहाल करके लोगों के खातों को सुरक्षित किया। फेसबुक ने ‘View As’ को सावधानी के तौर पर बंद कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App