ताज़ा खबर
 

अब ईमेल भी होगा ‘एक्‍सपायर’: Gmail देने जा रहा है सुविधा, जानिए पूरी जानकारी

Gmail: ईमेल में अपने आप डिलीट होने के फीचर से इनबॉक्स में फालतू के मेल कम हो जाएंगे। दूसरा यूजर को निजी जानकारी रखने वाले ईमेल से छुटकारा मिल जाएगा।

Gmail में जी शूट ऐप्स जैसे गूगल जीमेल में गूगल कैलेंडर, स्मार्ट रिप्लाई को भी आसानी से ऐक्सेस दिया जाएगा।

गूगल जीमेल में बदलाव कर रहा है। हाल ही में खबर आई थी कि जीमेल को एक नया लुक दिया जाने वाला है। अब गूगल की इस सर्विस के बारे में दूसरी खबर है कि अब जीमेल में एक और शानदार फीचर आने वाला है और वो है पुराने मेल अपने आप डिलीट होने का। प्रोटॉन मेल की तर्ज पर काम करने वाले इस मेल में रिसीवर के देखने के निश्चित समय बाद ईमेल अपने आप डिलीट हो जाएंगे। इस नए फीचर से दो तरह की राहत मिलेगी। पहली बात कि ईमेल में अपने आप डिलीट होने के फीचर से इनबॉक्स में फालतू के मेल कम हो जाएंगे। दूसरा यूजर को निजी जानकारी रखने वाले ईमेल से छुटकारा मिल जाएगा। यह फीचर ‘प्रोटोनमेल’ की तरह काम करेगा, जो अपने आप थोड़े समय के बाद गायब हो जाएगा।

इसके अलावा गूगल जीमेल के लिए एक और फीचर पर काम कर रही है, जिसे ‘कांफिडेंशियल मोड’ कहा जा रहा है। इससे यूजर्स अपने ईमेल को पढ़ने वालों की संख्या सीमित कर सकेंगे। इस तरह के ईमेल को फारवर्ड, डाउनलोड या प्रिंट नहीं किया जा सकेगा, लेकिन, इसका स्क्रीनशॉट लेना संभव होगा। रिपोर्ट के मुताबिक ईमेल के अपने आप डिलीट होने की टाइम लिमिट को सेंडर के द्वारा सेट किया जा सकता है। टाइम लिमिट में एक सप्ताह, एक महीना और कई साल जैसे विकल्प शामिल हैं। इसके अलावा सेंडर एक टेक्स्ट मेसेज के जरिए पासकोड के साथ ईमेल पाने वाले की पहचान को पासकोड के साथ कन्फर्म भी कर पाएगा। उम्मीद है कि गूगल आईओ 2018 में इस बारे में ज्यादा जानकारी मिलेगी। गूगल द्वारा इस कॉन्फ्रेंस में नए जीमेल इंटरफेस का खुलासा भी किए जाने की उम्मीद है।

आपको बता दें कि जीमेल को जल्द ही एक फ्रेश लुक दिया जाएगा। इसके अलावा इसमें जी शूट ऐप्स जैसे गूगल जीमेल में गूगल कैलेंडर, स्मार्ट रिप्लाई को भी आसानी से ऐक्सेस दिया जाएगा। जीमेल के यूजर्स को ईमेल्स को snooze करने का फीचर भी मिल सकता है। इसका मतलब है कि यूजर किसी ईमेल को snooze कर सकते हैं ताकि वह किसी खास फिक्स किए गए टाइम पर ही इनबॉक्स में पॉप अप करे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App