ताज़ा खबर
 

Fastag बिना एक दिसंबर से दोगुना टोल टैक्स, जानें क्या है, कहां मिलेगा, कैसे लगवाएं फास्टैग

FASTag Recharge Online, Price Charges: अभी अधिकांश कमर्शियल वाहनों ने FASTag अपनी गाड़ी में लगवा लिया है जिसकी वजह से उन्हें टोल प्लाजा से गुजरने पर रुकने की जरूरत नहीं होती

FASTag, toll plaza, toll taxFASTag लगवाने के बाद टोल प्लाजा लेन में रुकने की जरुरत नहीं होगी।

अगर अभी तक आपने अपनी गाड़ी पर Fastag नहीं लगवाया है तो यह खबर आपको जरूर पढ़नी चाहिए। केंद्र सरकार ने अब बिना Fastag लगी गाड़ियों से दोगुना टोल टैक्स वसूलने की तैयारी कर ली है। जरुरी है कि आप 1 दिसंबर से पहले Fastag अपनी गाड़ी पर लगवा लें ताकि आपको टोल टैक्स के पास समय भी ना गंवाना पड़े और दो बार टोल टैक्स चुकाने से भी आप बच सकें। वैसे गाड़ी मालिक जिन्होंने अपनी गाड़ी पर Fastag नहीं लगाया है और इलेक्ट्रॉनिक ट्रोल लेन में वो घुसते हैं तो उन्हें दो बार टोल चुकाना होगा।

क्या है Fastag? कई गाड़ी मालिकों के मन में यह सवाल अभी भी मौजूद है कि आखिर यह Fastag है क्या? Fastag दरअसल एक रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टैग है। सरकार की तैयारी है कि देशभर के राष्ट्रीय राजमार्गों (National Highway) पर बने टोल प्लाजा लेन को इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन (ETC) से लैस किया जाए। टोल प्लाजा पर यह सिस्टम लगने के बाद आपको टोल लेन में अपनी गाड़ी को रोकने की जरुरत नहीं पड़ेगी। अगर आपने अपनी गाड़ी पर FASTag लगा रखा है तो टोल के पैसे खुद-ब-खुद ही कट जाएंगे।

कहां लगेगा FASTag? अब सवाल यह है कि यह FASTag वाहन के किस हिस्से में लगाया जाएगा। यह रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन टैग वाहनों के विंडस्क्रीन पर लगा होगा। अभी अधिकांश कमर्शियल वाहनों ने FASTag अपनी गाड़ी में लगवा लिया है जिसकी वजह से उन्हें टोल प्लाजा से गुजरने पर रुकने की जरूरत नहीं होती और रकम अकाउंट से अपने आप कट जाती है।

कहां मिलेगा FASTag? यह टैग सभी टोल प्लाजा और कुछ बैंकों मसलन – एसबीआई, एचडीएफसी और आईसीआईसीआई समेत अन्य बैंकों में उपलब्ध है। इसके अलावा आप पेटीएम, अमेजन डॉट कॉम, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन, भारत पेट्रोलियन के पेट्रोल पंप से भी खरीद सकते हैं। कुछ बैंक इसके लिए ऑनलाइन फार्म भरवाते हैं। इसके लिए आवेदन फार्म के जरिए होता है। जरूरी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद एक FASTag खाता संख्या ग्राहक को आवंटित कर दिया जाता है। FASTag हासिल करने के लिए गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, वाहन मालिक की पासपोर्ट साइज फोटो और केवाईसी कागजात जरुरी है।

ऐसे करें रिचार्ज: पहली बार यह टैग हासिल करने के लिए ज्वायनिंग फीस 200 रुपया है। आप अपने फास्ट टैग को चेक या क्रेडिट-डेबिट कार्ड, एनईएफटी, आरटीजीसी के जरिए ऑनलाइन रिचार्ज करा सकते हैं। एक बार में कम से कम 100 रुपए और अधिकतम 1 लाख रुपए की राशि से फास्ट टैग कार्ड रिचार्ज कराया जा सकता है। इसके अलावा आप अपने सेविंग बैंक अकाउंट से भी फास्ट टैग को जोड़ सकते हैं। टोल प्लाजा पर फास्ट टैग का इस्तेमाल होते ही आपके सेविंग बैंक अकाउंट से राशि कट जाएगी। जल्दी ही रिचार्ज की सुविधा मोबाइल पर भी मिल जाएगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 रेलवे ने कैंसिल कीं 258 ट्रेनें, यहां देखिए पूरी List
2 अब JIO के भी टैरिफ प्लान होंगे महंगे, Vodafone-idea और Airtel पहले ही कर चुके हैं बढ़ोतरी
3 WHATSAPP यूजर्स की सेफ्टी पर मंडरा रहा खतरा! जारी हुई अडवाइजरी, तुरंत करें ये UPDATE