ताज़ा खबर
 

Dish TV ग्राहकों के लिए खुशखबरी, चैनल हटाने को अब नहीं करना होगा और इंतजार

Dish TV: यदि कोई डिश टीवी उपभोक्ता अपने पहले से मौजूद चैनल बकेट में से किसी चैनल को हटाना या जोड़ना चाहते थे तो इसके लिए उन्हें लॉक-इन-पीरियड का पूरा होने का इंतजार करना पड़ता था, जो कि 30 दिन था।

Technology News, Utility News, Dish TV, Dish, Channel, Cabel operator, Pay Channel, Channel Bouquets, Dish TV Subscriber, DTH, DTH Company, Channel Subscriberडिश टीवी ने चैनल हटाने और बदलने के लिए लॉक इन पीरियड को हटा दिया है। (फाइल फोटो)

Dish TV: डिश टीवी ने अपने उपभोक्ताओं को बड़ी राहत देते हुए शुल्क वाले चैनल और चैनल बकेट से 30 दिनों का लॉक-इन-पीरियड हटा लिया है। डीटीएच सर्विस प्रोवाइडर डिश टीवी ने अपने शुल्क वाले चैनल और चैनल बकेट के लिए लॉक-इन-पीरियड को लागू किया था। इसका मतलब ये था कि यदि कोई डिश टीवी उपभोक्ता अपने पहले से मौजूद चैनल बकेट में से किसी चैनल को हटाना या जोड़ना चाहते थे तो इसके लिए उन्हें लॉक-इन-पीरियड का पूरा होने का इंतजार करना पड़ता था, जो कि 30 दिन था।

दूसरे शब्दों में कहें तो यदि कोई उपभोक्ता ये चाहते कि आज वो अपने चैनल बकेट में किसी नए चैनल को जोड़ें या फिर किसी चैनल पर प्रसारित होने वाले खास शो की समाप्ति के बाद उसे हटा दें तो वे तत्काल ऐसा नहीं कर पाते थे। अब ये संभव हो पाएगा। यहां एक बात बता दें कि डीटीएच सर्विस प्रोवाइडर ने नई ट्राई टैरिफ व्यवस्था की शुरुआत के बाद यह कदम उठाया है।

पहले की व्यवस्था के अनुसार, जब उपभोक्ता ने अपने डिश टीवी अकाउंट डैशबोर्ड पर 30 दिनों का लॉक-इन पीरियड ध्यान देते थे, तो उन्हें काफी नाराजगी होती थी। हालांकि, अब जब इन चैनलों पर लॉक-इन पीरियड को हटा दिया गया है, तो उपभोक्ता अपने पसंद के चैनल को जोड़ने व अन्य चैनलों को तत्काल हटाने में सक्षम हो गए हैं। यदि लॉक-इन पीरियड की व्यवस्था लागू रहती, तो उपभोक्त किसी चैनल को सब्सक्राइब करने के बाद 30 दिनों तक उसे हटा नहीं सकते थे।

ट्राई द्वारा पारदर्शिता को बनाए रखने तथा चैनल चुनने के लिए उपभोक्ताओं को आजादी देने के इरादे से नई व्यवस्था लागू की गई है। ट्राई टैरिफ व्यवस्था ने उपभोक्ताओं के लिए प्रत्येक चैनल का चुनाव करने का विकल्प उपलब्ध करवाया है। उपभोक्ता अपने पसंद के अनुसार चैनलों का चुनाव कर सकते हैं। इससे डीटीएच कंपनियों की मनमानी पर अंकुश लगा है। साथ ही गैर-जरूरी चैनलों पर होने वाले खर्च में भी कमी हुई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Whatsapp लैंडलाइन नंबर से भी कर सकते हैं ऑपरेट, यह है तरीका
2 दुनिया का पहला 5G स्मार्टफोन Samsung Galaxy S10 लॉन्च, जानिए- क्या है खासियत
3 iPhone यूजर्स के लिए यह खास Whatsapp लाई कंपनी, भारत समेत कुछ ही देशों में मिलेगी सुविधा
ये पढ़ा क्या?
X