ताज़ा खबर
 

Co-Win App for Covid-19 vaccination: कोविन एप से मिलेगी वैक्सीन, ऐसे करेगा काम और ये होंगी शर्तें

16 जनवरी से हिन्दुस्तान में वैक्सीनेशन अभियान शुरु हो जाएगा और देश के हर जरूरतमंद इंसान तक कोविन एप वैक्सीन पहुंचाएगा। इसके लिए Co-WIN APP पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा।

CoWin app, CoWin app launch soon, how to registar on CoWin app,देश में कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए कोविन (Co-WIN) ऐप बनकर तैयार, जल्द होगा लॉन्च। (फोटोः इंडियन एक्सप्रेस)

Co-Win app for Covid-19 vaccination: देश में कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए कोविन (Co-WIN) ऐप बनकर तैयार है, लेकिन अभी इसे Google Play Store या किसी किसी एप स्टोर पर अभी उपलब्ध नहीं कराया गया। लेकिन आपको बताते हैं कि कोविन (Co-WIN) ऐप कैसे देश के कोने कोने में वैक्सीन पहुंचाने में मददगार साबित होगा और कोविन पर रजिस्ट्रेशन कैसे होगा। साथ ही कुछ नकली एप बनकर तैयार हो गए हैं, जो लोगों के साथ ठगी कर सकते हैं, मंत्रालय ने उनसे सावधान रहने की सलाह दी है।

Co-WIN APP एक इलेक्ट्रॉनिक प्लेटफॉर्म है, जिस पर वैक्सीनेशन से जुड़ा सारा डेटा उपलब्ध होगा। ये वैक्सीन लगवाने वालों को ट्रैक करेगा और उन्हें वैक्सीन साइट्स की जानकारी, तारीख और समय बताएगा। वैक्सीनेशन से पहले और बाद की प्रक्रियाओं की निगरानी भी करेगा। यहां भारत में लगाई जाने वाली वैक्सीन का पूरा डिजिटल डेटाबेस होगा।

अभी प्रक्रिया में है कोविन एप
अभी कोविन एप पर हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स का डेटा अपलोड हो रहा है। इस समय ऐप्लीकेशन पर सेल्फ-रजिस्ट्रेशन की इजाजत नहीं है। लेकिन आने वाले वक्त में आप खुद भी वैक्सीन के लिए रजिस्टर कर सकते हैं। सरकार ने यह भरोसा दिलाया है कि वैक्सीनेशन के बाद के चरणों में भारतीय भाषाओं में कोविन एक ऐप्लीकेशन या वेबसाइट के तौर पर उपलब्ध होगा। पहले फेज के बाद कोई भी व्यक्ति कोविन पर सेल्फ रजिस्ट्रेशन कर सकेगा। आधार या सरकारी फोटो आईडी से आवेदक की पहचान की पुष्टि की जाएगी। कोविन पर 50 साल के कम उम्र के लोग भी रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे लेकिन उन्हें हाई रिस्क है ये साबित करने के लिए किसी पुख्ता दस्तावेज देने होंगे।

कोविन से मिलेंगे मैसेजस
पहला SMS रजिस्ट्रेशन कंफर्म होने का आएगा। इसके बाद दूसरे मैसेज में वैक्सीनेशन का दिन और जगह का पता आएगा। तीसरे मैसेज में पहले डोज के बाद दूसरे डोज की तारीख आएगी और चौथे मैसेज में डिजिटल सर्टिफिकेट का लिंक मिलेगा, जिसे आप डाउनलोड कर सकेंगे।

ऐसे काम करेगा कोविन
Co-WIN प्लेटफॉर्म पर 5 मॉड्यूल हैं। एडमिनिस्ट्रेटर मॉड्यूल, वैक्सीनेशन सेशन कंडक्ट करने वाले एडमिनिस्ट्रेटर्स के लिए है। रजिस्ट्रेशन मॉड्यूल में आप वैक्सीन के लिए आवेदन करेंगे। वैक्सीनेशन मॉड्यूल के तहत वैक्सीन लेने वाले की जानकारी अपडेट होगी। इसके बाद वैक्सीनेशन के बाद QR बेस्ड सर्टिफिकेट्स जारी होगा। रिपोर्ट मॉड्यूल में रिपोर्ट्स तैयार होंगी कि कितने वैक्सीन सेशन हुए हैं।

नकली कोविन एप से रहें सतर्क
कोविन ऐप पर 24X7 हेल्पलाइन की सुविधा उपलब्ध होगी। कोविन ऐप में चैट बॉट फीचर्स भी होगा। ये पैटर्न रिकॉगनिशन के जरिये पोर्टल को नेविगेट करने में मदद करेगा। कोविन एप अभी आम लोगों के लिए उपलब्ध नहीं है, लेकिन उससे पहले ही ठगों ने कोविन नाम से नकली ऐप बनाकर लोगों को ठगना शुरू कर दिया है। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों को जागरुक किया है। मंत्रालय ने कहा कि हम नागरिकों को आगाह करना चाहते हैं कि कुछ अराजक तत्वों ने CO-WIN App के नकली ऐप बना लिए हैं। लोगों को इनसे बचकर रहना है। ये ऐप स्टोर पर देखे जा रहे हैं। इन ऐप्स पर अपनी कोई निजी जानकारी ना दें। असली ऐप के आते ही सरकार उसके बारे में अधिकारिक जानकारी लोगों तक पहूंचाई जाएगी। बताते चलें कि कोविन एप कोरोना संकट के बीच सरकार का दूसरा कदम होगा जब वो तकनीक का सहारा लेकर महामारी से निपटने की कवायद कर रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Samsung Galaxy A32 5G लॉन्च, ये कंपनी का सबसे सस्ता 5G फोन, जिसमें हैं पांच कैमरे और मजबूत बैटरी
2 Whatsapp की नई पॉलिसी से Signal App की बढ़ रही है लोकप्रियता, कई नामी लोगों ने शुरू किया इसका इस्तेमाल
3 WhatsApp की चैट पर लगाएं पर्दा, पास बैठा आदमी नहीं पढ़ पाएगा आपके प्राइवेट मैसेज बनी रहेगी प्राइवेसी
यह पढ़ा क्या?
X