Chrome Browser की सेटिंग्स में हैं कमाल के फीचर सिर्फ करना होता है एक-एक बदलाव

Chrome Browser की सेटिंग्स में बदलाव कर आप अपनी लोकेशन कैमरा एक्सेस और माइक्रोफोन एक्सेस को भी रोक सकते हैं।

google chrome browser, google chrome browser settings, how to protect cyber crime
Chrome Browser की सेटिंग्स में हैं कमाल के फीचर। (फोटोः द इंडियन एक्सप्रेस)

Chrome Browser का भारत समेत दुनिया भर में एक बड़ा यूजरबेस है। इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि इस क्रोम ब्राउजर के खास फीचर्स के बारे में। इसके लिए आपको अलग से कोई ऐप डाउनलोड करने की जरूरत नहीं होगी, सिर्फ सेटिंग्स में एक बदलाव करना होगा। आइये जानते हैं इनके बारे में।

क्रोम ब्राउजर की सेफ्टी शील्ड

क्रोम ब्राउजर का इस्तेमाल कंप्यूटर, लैपटॉप और स्मार्टफोन में खूब किया जाता है। इंटरनेट सर्चिंग के दौरान कई यूजर्स के डिवाइस में वायरस आ जाता है या फिर उनका कोई ऐप हैक होने की खतरा रहता है। इसके लिए ब्राउजर की सेटिंग्स में एक फीचर दिया गया है, जो ब्राउजर की सेफ्टी को बढ़ाता है।

इसके लिए कंप्यूटर या लैपटॉप में क्रोम ब्राउजर को ओपेन करें। इसके बाद सेटिंग्स के विकल्प में जाएं, जहां लेफ्ट साइड में प्राइवेसी और सिक्योरिटी का ऑप्शन मिलेगा, उस पर क्लिक कर दें। अब स्क्रीन के बीच में देखें, जहां स्टैंडर्ड प्रोटेक्शन के विकल्प पर क्लिक होगा, उकी जगह ऊपर की तरफ दी गई
Enhanced protection विकल्प पर क्लिक कर दें।

गैर जरूरी ऐप्स ट्रैक नहीं कर पाएंगे लोकेशन

गूगल क्रोम की सेटिंग्स के अंदर जाकर Site Settings के विकल्प में जाएं, आप लोकेशन के विकल्प पर क्लिक करके देख सकते हैं कि कौन-कौन से ऐप आपकी लोकेशन ट्रैक कर रहे हैं, उन्हें यूजर्स अपनी सहूलियत के मुताबिक बंद भी कर सकता है।

इस सेटिंग्स के अंदर ही यूजर्स देख सकते हैं कि आपके कैमरे, माइक्रोफोन और नोटिफिकेशन आदि को कौन-कौन एक्सेस कर रहा है। इन विकल्प की मदद से उन्हें ब्लॉक भी किया जा सकता है।

इसके अलावा यूजर्स चाहें तो सेटिंग्स में जाकर ब्राउजर की सर्च हिस्ट्री को डिलीट कर सकते हैं। इसके लिए ब्राउजर के राइट साइड में दिए गए तीन डॉट के विकल्प पर क्लिक करें। उसके बाद तीन सेटिंग्स के विकल्प में जाएं। वहां नीचे की तरफ स्क्रॉल करने पर ब्राउजर हिस्ट्री डिलीट करने का विकल्प मिल जाएगा।

अपडेट