ताज़ा खबर
 

फेसबुक मेसेंजर यूजर्स के लिए बुरी खबर! कोई और देख रहा है आपकी चैट्स

साइबर सिक्योरिटी फर्म इंपोरवा ने फेसबुक मैसेंजरे से जुड़े एक बग के बारे में बताया है। जिस खामी के बारे में पता चला है वो खामी यह है कि इसके बग के चलते अटैकर्स यह जान सकते हैं कि आप किससे बात कर रहे हैं।

फेसबुक मेसेंजर की एक खामी सामने आई है।

सोशल मीडिया साइट फेसबुक लोगों की जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुका है। कोसो दूर लोग एक दूसरे से फेसबुक के जरिए कई बार घुलते-मिलते हैं। फेसबुक के मेसेंजर एप के जरिए बात करते हैं, अगर आप मेसेंजर के जरिए बेहद निजी बातें भी किसी से करते हैं तो यह खबर आपके लिए है। साइबर सिक्योरिटी फर्म इंपोरवा ने फेसबुक मैसेंजरे से जुड़े एक बग के बारे में बताया है। जिस खामी के बारे में पता चला है वो खामी यह है कि इसके बग के चलते अटैकर्स यह जान सकते हैं कि आप किससे बात कर रहे हैं। यह आपकी प्राइवसी के लिए बड़ा खतरा साबित हो सकता है।

नंवबर 2017 में मसास और उनकी टीम ने फेसबुक मैसेंजर ऐप में पता लगाया जिसके कारण अन्य वेबसाइट में क्रॉस साइट फ्रेम लीकेज के द्वारा यूजर्स के प्रोफाइल को एक्सेस कर पा रही थी। फेसबुक मेसेंजर के पूरी दुनिया में 1.3 बिलियन यूजर्स हैं। सिक्योरिटी एजेंसी क कहना है कि, इस बग को हाई प्रोफाइल लोगों की प्रोफाइल को टारगेट करने के लिए यूज किया जाता है। मसास ने  आगाह करते हुए कहा कि ब्राउजर बेस्ड साइड चैनल अटैक को लेकर अभी भी इतना ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इस खतरनाक अटैक की चपेट में फेसबुक और गूगल जैसे दिग्गज कंपनियां भी है। वहीं, कई ऐसी कंपनियां हैं जिनको इनके बारे में पता ही नहीं है।

मामले को लेकर फेसबुक का कहना है कि  इस बग का पता चलते ही हमने इसे ठीक कर लिया है। यह सीधे फेसबुक से जुड़ा मामला नहीं है। वेबपेज और एंबेडेड कंटेट को वेब ब्राउजर के हैंडल करने से जुड़ा हुआ मामला है। ब्राउजर मेकर्स और वेब स्टैंडर्ड ग्रुप्स से फेसबुक ने इसपर काम करने को कहा है। मैसेंजर के वेब  वर्जन को अपडेट कर दिया गया है।इससे फेसबुक की कोई सर्विस पर फर्क नहीं पड़ेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App