ताज़ा खबर
 

Apple ने मांगी दुनिया भर के कस्टमर्स से माफी, स्लो होते iPhones पर दिया यह ऑफर

बैटरी रिप्लेसमेंट का प्रोसेस जनवरी 2018 से शुरू होगा। बैटरी के अलावा कंपनी iOS का भी अपडेट जारी करेगी ताकि फोन के परफॉर्मेंस पर कोई असर ना पड़े।

कंपनी द्वारा आईफोन स्लो करने की खबर के आने के बाद से ऐपल के 9 मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं।

ऐप्पल ने अपने पुराने आईफोन को स्लो कर दिया था। इसके बाद विवाद खड़ा हो गया था और कंपनी पर अलग-अलग देशों में लोग लगातार केस कर रहे थे। इस विवाद के बाद कंपनी ने अपने यूजर्स से माफी मांग ली है। अब कंपनी ने कम कीमत में पुराने आईफोन की बैटरी को बदलने का ऑफर दिया है। कंपनी ने कहा है कि वह वारंटी खत्म हो चुके आईफोन की बैटरी का रिप्लेसमेंट करीब 2,000 रुपए के बीच करेगी। इस बैटरी की मार्केट में कीमत करीब 6,500 रुपए है। हालांकि इस कीमत पर iPhone 6 और उससे बाद के आईफोन की ही बैटरी चेंज होगी।

यानी आईफोन 6 से पहले के आईफोन की बैटरी चेंज नहीं होगी। बैटरी रिप्लेसमेंट का प्रोसेस जनवरी 2018 से शुरू होगा। बैटरी के अलावा कंपनी iOS का भी अपडेट जारी करेगी ताकि फोन की परफॉर्मेंस पर कोई असर ना पड़े। हाल ही में कई यूजर्स ने पुराने आईफोन के स्लो होने की शिकायत की थी जिसके बाद खुद कंपनी ने अपने एक बयान में कहा कि उसने जानबूझकर आईफोन को स्लो किया है। कंपनी ने कहा कि बैटरी की खपत को कम करने के लिए उसने ऐसा कदम उठाया है। जब प्रोसेसर ज्यादा बैटरी मांगता है तब कंपनी ऐसे फैसले लेती है। कंपनी ने कहा कि यह दिक्कत सभी लिथियम ऑयन बैटरी के साथ है।

आपको बता दें कि कंपनी द्वारा आईफोन स्लो करने की खबर के आने के बाद से ऐपल के 9 मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं। न्यू यॉर्क, न्यू जर्सी और फ्लोरिडा के कुछ लोगों ने इस मामले में कंपनी द्वारा उनके साथ किए गए धोखे के मुआवजे की मांग की है। कैलिफोर्निया में ही एक महिला वियोलेटा मैल्यन ने ऐपल पर आईफोन स्लो करने को लेकर मुकदमा किया। इस मुकदमे में महिला के वकीलों ने कंपनी से लगभग 1 ट्रिलियन डॉलर (64 लाख करोड़ रुपए) का मुआवजा मांगा। इजरायल में किए गए एक मुकदमे में पुराने आईफोन स्लो होने की वजह से कंपनी से 120 मिलियन डॉलर (करीब 770 करोड़ रुपए) मुआवजे की मांग की गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App