ताज़ा खबर
 

ऐपल लाने जा रही ऐसी तकनीक, मोबाइल ऑपरेटर कंपनियों के उड़ सकते हैं होश

सामान्य (क्लासिक) सिम एक छोटा सी चिप जैसा होता है, जिसे फोन में मैनुअली फिट किया जाता है। आपको इसे बाजार से जाकर लाना या किसी से मंगाना पड़ता है, जबकि ई-सिम के मामले में यूजर को ऐसा कुछ भी नहीं करना होगा।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Pixabay)

अमेरिकी कंपनी ऐपल इनकॉरपोरेशंस इस वक्त अपने नए आईफोन्स और गैजेट्स लॉन्च करने को लेकर सुर्खियों में है। पर आने वाले दिनों में यह एक और खास तकनीक भी ला सकती है, जिससे मोबाइल ऑपरेटर कंपनियों के होश उड़ सकते हैं। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, ऐपल बाजार में इलेक्ट्रॉनिक सिम (ई-सिम) पेश कर सकती है। ई-सिम लॉन्च करने की बात तब से सामने आ रही है, जब कंपनी ने अमेरिका के न्याय विभाग में वेराइजन कम्युनिकेशन इनकॉरपोरेशंस और एटी एंड टी इनकॉरपोरेशंस के खिलाफ शिकायत दी थी। ऐपल का आरोप था, “दोनों कंपनियां मिलीभगत कर हमें इस बाजार में उतरने से रोक रही हैं।” न्याय विभाग उस मामले में जांच-पड़ताल कर रहा है।

आपको बता दें कि सामान्य (क्लासिक) सिम एक छोटा सी चिप जैसा होता है, जिसे फोन में मैनुअली फिट किया जाता है। आपको इसे बाजार में जाकर लाना या किसी से मंगाना पड़ता है, जबकि ई-सिम के मामले में यूजर को ऐसा कुछ भी नहीं करना होगा। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि ई-सिम, वर्चुअल होगा। यानी कि इसके लिए आपको कहीं जाना नहीं पड़ेगा। महज स्मार्टफोन की सेटिंग्स पर जाकर यूजर मोबाइल कंपनी का नेटवर्क/करियर बदल सकेंगे।

ई-सिम अगर वाकई में आ गया, तो इससे मोबाइल ऑपरेटर कंपनियों के बीच कांटे की टक्कर और भी तेज हो जाएगी। प्रमुख कारण- यूजर को एक कंपनी से दूसरी कंपनी का नेटवर्क चुनने के लिए तब अधिक झंझट और समय नहीं जाया करना पड़ेगा। हमें इस बात का उदाहरण स्पेन में देखने को मिल चुका है। वहां मोबाइल ऑपरेटर बदलने के नियमों में फेरबदल किया गया था, जिसके अंतर्गत यूजर्स 24 घंटों के भीतर अपना मोबाइल नेटवर्क बदल सकते हैं।

मई में यूरोपीय चिपमेकर एसटी माइक्रो इलेक्ट्रॉनिक्स एनवी ने भी ई-सिम के बारे में एक कार्यक्रम में संकेत दिए थे। चिपमेकर की ओर से कहा गया था, “हमें उम्मीद है कि साल के अंत तक हमारी डिवाइस (ई-सिम) बाजार में उपलब्ध स्मार्टफोन्स में लगी मिले।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App