scorecardresearch

AC Buying Guide: खरीदने से पहले जरूर जान लें ये बड़ी बातें, होंगे बिजली बचत जैसे बड़े फायदे

भीषण गर्मी से बचने के लिए अगर आप नया AC खरीदने की सोच रहे हैं तो कुछ बातों को जरूर याद रखें।

ac buying guide Air Conditioner
एयर कंडीशनर खरीदते समय स्टार रेटिंग का ध्यान रखें। (फोटो-फ्लिपकार्ट)

मिड-मई का समय है और गर्मी हर रोज नए रिकॉर्ड तोड़ रही है। लगातार भीषण गर्मी से राहत पाने के लिए लोग कूलर, पंखों और एसी का सहारा ले रहे हैं। हम एक ट्रॉपिकल क्लाइमेट वाले देश में रह रहे हैं जहां गर्मी में इस बार पारा 48 डिग्री के पार तक जा रहा है। अगर आप राहत पाने के लिए नया AC खरीदना चाहते हैं लेकिन इस बात को लेकर असमंजस में हैं कि कौन सा एसी आपके लिए सही है। जानिए एयर कंडीशनर खरीदने से पहले आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

टन क्षमता
टन क्षमता यानी किसी एयर कंडीशनर की कूलिंग क्षमता, एक टन का मतलब होता है कि 24 घंटे में एक टन बर्फ को पिघलने के लिए जितनी हीट चाहिए होती है। जरूरी है कि आप अपने कमरे के साइज़ के हिसाब से एसी खरीदें। अगर आपका कामरा 130 स्क्वायर फीट से छोटा है तो 1 टन का एसी पर्याप्त है। वहीं 185 स्क्वायर फीट जितने बड़े कमरे के लिए 1.5 टन क्षमता वाला AC पर्याप्त होता है।

एनर्जी रेटिंग
एनर्जी रेटिंग एक सबसे जरूरी पैरामीटर्स में से एक है जिसका ध्यान एसी खरीदते समय रखना चाहिए। महंगी बिजली दरों के बीच आपको ऐसा एसी खरीदने की जरूरत है जो कम पावर की खपत करे। इसलिए कोशिश करें कि 5 स्टार BEE रेटिंग, ड्यूल इनवर्टर, इनवर्टर एसी खरीदें। जितनी ज्यादा स्टार रेटिंग वाला एसी होगा, बिजली की खपत थोड़ी कम होगी। निश्चित तौर पर याद रखें कि 1 स्टार एसी की तुलना में 5 स्टार एसी कम बिजली खर्च करेगा।

स्पिलिट या विंडो एसी
आमतौर पर विंडो एसी सस्ते होते हैं और उन्हें इंस्टॉल करने में भी कम पैसे खर्च होते हैं। लेकिन स्पिलिट एसी की तुलना में शोर ज्यादा करते हैं। स्पिलिट एसी बेहतर एयर डिस्ट्रीब्यूशन के अलावा, रूम में लगाने पर खूबसूरती बढ़ाते हैं और तेजी से कूलिंग भी करते हैं। लेकिन स्पिलिट एसी लंबे समय तक इस्तेमाल के लिए ठीक होते हैं। दोनों ही तरह के एसी में आपको कई डिजाइन और साइज़ मिल जाएंगे।

एयर क्वॉलिटी
जो भी एसी आप खरीदें, जरूरी है कि यह इनडोर एयर क्वॉलिटी को सुधारे। इन एसी में साफ हवा देने के लिए फिल्टर होने चाहिए। अगर एसी में डीह्यूमिडिफिकेशन भी साथ में हो तो अच्छा रहेगा ताकि आपको मॉनसून के सीजन में कम ह्यूमिडिटी झेलनी पड़े।

एसी कंपोनेंट
एसी का सबसे जरूरी कंपोनेंट है ब्लोअर फैन, इसी से आपके पूरे घर में हवा का डिस्ट्रीब्यूशन होता है। ब्लोअर फैन जितना बड़ा होगा, एयर फ्लो उतना ज्यादा होगा। इसके अलावा कन्डेन्सर कॉइल भी जरूरी है जो फास्ट कूलिंग करता है। एसी इस तरह का होना चाहिए कि कन्डेन्सर कॉइल हीट एक्सचेंज सपॉर्ट करें और एंटी-कोरोसिव प्रॉपर्टीज इसमें मौजूद हों। प्रोटेक्टिव कैपेसिटर्स भी जरूरी होते हैं ताकि डिस्कनेक्शन या सर्किट फेल होने की स्थिति में आग से बचाव हो सके।

इंस्टॉलेशन और मेन्टिनेंस
एसी का ठीक और ज्यादा इस्तेमाल के लिए जरूरी है कि इसे अथॉराइज्ड डीलर से ही इंस्टॉल कराएं। स्पिलिट एसी में एक कंप्रेसर यूनिट होता है और जैसा कि नाम से ज़ाहिर है विंडो एसी खिड़की पर फिट हो जाता है। इंस्टॉलेशन ठीक तरह होना चाहिए और नियमित तौर पर इसकी सफाई और सर्विस भी होनी चाहिए। एसी खरीदते समय अपने डीलर से एसी की रेगुलर सर्विस, इंस्टॉलेशन चार्जे और कंपोनेंट को लेकर जरूर बात कर लें।

इन सब बातों के अलावा जरूरी है कि एसी खरीदते समय ब्रैंड का ध्यान रखें। रिव्यू पढ़ें और आफ्टरसेल सर्विस के बारे में भी पता कर लें। एसी एक कॉम्प्लेक्स मशीन है जिसे हर सीज़न में प्रोफेशनल सर्विस की जरूरत होती है। अगर आप एक ऐसे ब्रैंड का एसी लेने की सोच रहे हैं जिसके पास एक बढ़िया सर्विस नेटवर्क नहीं है तो आप दूसरे ब्रैंड ऑप्शन के बारे में विचार करें।

पढें टेक्नोलॉजी (Technology News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.