ताज़ा खबर
 

फैशन में आदिवासी पहनावा, चलन में अफ्रीकी प्रिंट तो गहने होते हैं खास

नए-नए फैशन को अपनाना चूंकि इस समय का चलन बन गया है, इसलिए फैशन डिजाइनर भी कुछ अलग हटकर प्रयोग करने में गुरेज नहीं कर रहे हैं। आजकल ट्राइबल फैशन जो आदिवासियों की जीवनशैली का हिस्सा था, काफी ट्रेंड में है। युवा इसे काफी पसंद कर रहे हैं, इसलिए चाहे कान की बाली हों या साड़ियां इनमें ट्राइबल लुक काफी प्रसिद्ध है। इन दिनों ट्राइबल प्रिंट्स हर तरह की पोशाकों में देखने को मिल रहे हैं। आदिवासियों का प्रकृति और जांनवरों से गहरा लगाव होता है इसलिए उनके परिधानों में भी प्राकृतिक प्रिंट और रंग का प्रयोग बढ़ रहा है। ट्राइबल प्रिंट वाले पश्चिमी परिधान भी काफी चलन में हैं। ये परिधान एक फ्यूजन लुक देते हैं और साथ ही ये प्रिंट भी काफी ट्रेंडी लगते हैं। लड़कियां हों या महिलाएं सभी पर आदिवासी जीवनशैली के फैशन का खुमार छाया है। आप भी खुद को ट्राइबल फैशन से कैसे संवार सकती हैं, बता रही हैं सुमन बाजपेयी।

Author December 30, 2018 1:57 AM
अफ्रीका का प्रिंट भी ट्राइबल लुक में अपनी जगह बना चुका है।

ट्राइबल लुक की साड़ियां भी इन दिनों काफी चलन में हैं। खासकर कॉटन और हैंडलुम की ट्राइबल प्रिंट की साड़ियां काफी पसंद की जा रही हैं। इस तरह के प्रिंट की साड़ियां पहन कर आप खुद को बाकियों से अलग दिखा सकती हैं। ये काफी क्लासी और एलिगेंट लुक भी देती हैं। ऐश्वर्या राय बच्चन से लेकर जेनेलिया डिसूजा और बिपाशा बसु तक इस तरह की साड़ियां पहने हुए देखी जा सकती हैं।

चलन में हैं अफ्रीकी प्रिंट
अफ्रीका का प्रिंट भी ट्राइबल लुक में अपनी जगह बना चुका है। खासकर अफ्रीकन प्रिंट के स्कार्फ से लेकर घर में बेडशीट या कुशन तक पसंद किए जा रहे हैं। अफ्रीकन प्रिंट के सलवार सूट का चलन भी बढ़ा है। ट्राइबल लुक को पारंपरिक सूट और साड़ी के साथ ही कैपरी, पतलून, ट्यूनिक्स से लेकर मिनीज तक पहने जा सकते हैं। ट्राइबल प्रिंट पैंट एक कूल लुक देते हैं। ट्राइबल प्रिंट वाली प्लाजो पैंट भी पहन सकती हैं जिसे आप टैंग टॉप या फिर क्रॉप टॉप के साथ पहन सकती हैं।

गहने होते हैं खास
पहनावे के साथ-साथ गहने में भी ट्राइबल लुक को ढाला जा रहा है। ट्राइबल डिजाइन की कान की बाली युवाओं से लेकर बड़ी उम्र की महिलाओं तक को खूब भा रही है। इनकी खासियत यह है कि ये पारंपरिक या चलन में चल रहे फैशन के साथ मैच करती हैं। आदिवासी क्षेत्रों में रहने वालीं ज्यादातर महिलाएं बहुत भारी आभूषण पहनती हैं। लेकिन डिजाइनर उनके डिजाइनों को काफी हल्का बना रहे हैं। अष्टधातुओं, तांबे के तारों के साथ मिक्स सिल्वर से बने ट्राइबल गहने इंडो-वेस्टर्न कपड़ों के साथ बहुत अच्छे लगते हैं। इनमें जानवर के प्रिंट वाले गहने जैसे टर्टल्ज रिंग, आउल चेन, पैरेट ईय्२ारिंग, लीफ सेट आदि इन दिनों बहुत चलन में हैं। ट्राइबल आभूषणों में एस्सेमेट्री, सिमेट्री लाइंस, एक तरह की अनुपातहीनता, आश्चर्यजनक पैर्टन, फैदर और रंग देखने को मिलते हैं। ट्राइबल लुक देने वाले सिल्वर हूप्स हर ड्रेस पर मैच करते हैं। इन दिनों बाजार में सिल्वर के साथ-साथ सफेद या काले मेटल से बनी बालियां भी मौजूद हैं। ट्राइबल बोहो कंगन भी एक अलग लुक देते हैं। इन्हें पश्चिमी परिधान से लेकर पारंपरिक कपड़ों के साथ पहना जा सकता है। बोहो कंगन को कड़े या ब्रेसलेट की तरह भी पहना जा सकता है।

स्कार्फ से खूबसूरती
ट्राइबल प्रिंट वाले स्कार्फ काफी स्मार्ट लुक देते हैं। इन्हें पहनने से आपकी खूबसूरती और रंगत में चार चांद लग जाते हैं। इन्हें जींस, ड्रेस या कुर्ती जींस किसी के साथ भी पहना जा सकता है। आप अपने फॉर्मल या कैजुअल ट्राइबल स्कार्फ को हर कपड़े के साथ पहन सकती हैं। अगर आप सादा कपड़े पहन रही हैं तो इसके साथ ट्राइबल प्रिंट स्कार्फ पहनें। यह आपकी ड्रेस को और भी आकर्षक बना सकता है अगर आप ब्रोच लगाती हैं तो साड़ी में ट्राइबल ब्रोच इस्तेमाल किया जा सकता है।

मेकअप पर छाया जादू
ट्राइबल लुक मेकअप का बढ़ता चलन युवाओं में देखा जा सकता है। ट्राइबल लुक देने के लिए आंखों के लिए खास मेकअप किया जाता है। उससे आंखें बोल्ड लगती हैं। इसके लिए ऊपर व नीचे की दोनों आईलीड्स को अच्छी तरह से उभारा जाता है और आंखों के उभार को बढ़ाने के लिए काजल का प्रयोग किया जाता है। इसके बाद आई शैडो से आंखों को बोल्ड लुक देते हैं, फिर मस्कारा लगाकर कृत्रिम लैशेज को लगाया जाता है। होंठों पर ट्राइबल लुक देने के लिए लिक्विड फाउंडेशन और ब्रांजर का इस्तेमाल किया जाता है। पर ब्रांजर का उपयोग बहुत कम मात्रा में किया जाता है, सिर्फ एक टच देने के लिए। न ही इस लुक के लिए ब्लशर का उपयोग किया जाता है। लिपस्टिक के लिए मैट रंगों को चुनें। ऐसा कलर जो केसरिया और कोरल के बीच का हो या फिर लाल से मिलते-जुलते शेड्स की भी लिपिस्टक लगाई जा सकती है।

बालों को ऐसे संवारें
आदिवासी लुक के लिए बालों को भी संवारना जरूरी है। बालों के स्टाइल की बात करें तो इस लुक के लिए बालों को खुला या ढीला ही रहने दिया जाता है। उंगलियों से ही बालों को बिखेर दें। खुले, साधारण कर्ल किए हुए बाल इस स्टाइल के लिए उपयुक्त रहते हैं। आदिवासी महिलाएं अपने बालों को सजाने के लिए तरह-तरह के भारी गहनों का इस्तेमाल करती हैं। पर उनको आधार बनाकर जो डिजाइन इन दिनों तैयार किए जा रहे हैं, उन्हें फैशन ज्वेलरी कहा जाता है। हैंगर, क्लेचर, हेयर पिन में जानवरों की आकृति वाले डिजाइन और ट्राइबल नृत्य के विभिन्न रूपों को समाहित किया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App