ताज़ा खबर
 

दाना-पानी: सूजी-दलिया के नाश्ते, ऐसे बनाएं सूजी और हरी सब्जी, सूजी-दलिया अप्पम

नाश्ते में अक्सर परांठे, पूरी-सब्जी या फिर अन्य तली हुई चीजें खाने का आम चलन है। शहरों में लोग ब्रेड-आमलेट और दूध को ही मुख्य नाश्ता समझते हैं। मगर सुबह भाप में या बहुत कम तेल में पका हुआ नाश्ता करें, तो वह पचने में भी सुगम होता है और स्वास्थ्य की दृष्टि से भरपूर पोषण भी देता है। इसके लिए सूजी और दलिया से कुछ अलग हट कर नाश्ता बनाएं, तो वह खाने में विविधता लाएगा और पोषण भी भरपूर देगा। इसे खाकर दिन भर स्फूर्ति भी बनी रहेगी।

Author June 30, 2019 12:45 AM
सूजी-दलिया के नाश्ते

मानस मनोहर

सूजी और हरी सब्जी का नाश्ता

सूजी का बना हलवा, उपमा वगैरह तो आमतौर पर खाने को मिल जाता है, पर सूजी में हरी सब्जियां मिला कर उत्पम जैसा नाश्ता बनाएं, तो वह अलग भी होगा और भारपूर पोषण देगा। इसे बनाना बहुत आासान है। बच्चे भी इसे काफी पसंद करेंगे। सूजी और हरी सब्जी का नाश्ता बनाने के लिए जिस मौसम में जो हरी सब्जियां उपलब्ध हों, वे लें। पत्ता गोभी, हरा प्याज, बीन्स, गाजर, हरी मटर जैसी सब्जियां हर मौसम में मिल जाती हैं। वैसे फ्रोजन सब्जियों का पैकेट भी आजकल हर जगह उपलब्ध होता है। इसलिए इसमें फ्रोजन मिक्स वेजीटेबल का उपयोग किया जा सकता है। यों ताजा सब्जियों का स्वाद अलग ही होता है। इसलिए हरी सब्जियों को छोटा-छोटा काट कर अलग रख लें। अब एक बड़े कटोरे में एक कप सूजी यानी रवा लें और उसमें आधा कप दही मिलाएं। ऊपर से जरूरत भर का नमक, लाल मिर्च पाउडर, थोड़ा-सा काली मिर्च का पाउडर, आधा चम्मच सब्जी मसाला डालें और सारी चीजों को फेंट कर मिला लें। अगर दही कम पड़ रहा है, तो थोड़ा-सा पानी मिला कर ठीक से फेंट लें। ध्यान रखें कि घोल पतला नहीं होना चाहिए। इस घोल को आधे घंटे के लिए ढंक कर अलग रख दें, ताकि सूजी ठीक से पानी सोख ले और नरम हो जाए।

अब इसे बनाने के दो तरीके हैं। एक तो यह कि इस घोल में कटी हुई हरी सब्जियों को डाल कर ठीक से मिला लें और फिर नॉनस्टिक पैन पर हल्का तेल चुपड़ कर उत्पम की तरह फैला लें। हल्की आंच पर पकाएं। नीचे का हिस्सा पक कर सुनहरा हो जाए, तो पलट कर दूसरी तरफ से भी पका लें। ऐसा तो उत्पम बनाते समय हर कोई करता है। आप दूसरा तरीका अपनाएं और इस कुरकुरे नरम नाश्ते का आनंद लें। दूसरा तरीका यह है कि पैन में हल्का तेल चुपड़ें और उसमें सूजी के घोल की मोटी परत बिछाएं। उसके ऊपर कटी हुई सब्जियों की एक परत बिछाएं और फिर ऊपर से सूजी का घोल डालें। ठीक से फैला लें, ताकि सब्जियां ठीक से ढंक जाएं। अब पैन को ढक कर हल्की आंच पर दस मिनट के लिए पकने को छोड़ दें। जब नीचे की परत पक कर रंग बदलने लगे तो सावधानी से पलट लें और पैन को ढंक कर फिर से दस मिनट के लिए पकने दें। जब दूसरी तरफ की परत भी रंग बदलने लगे तो ढक्कन हटा दें और पलट कर दोनों तरफ से कुरकुरा होने तक सेंक लें। इसे सैंडविच की तरह काट कर बच्चों को खाने को दें या फिर उनके टिफिन में पैक करें, वे स्वाद लेकर खाएंगे। आपका भी सुबह का नाश्ता स्वादिष्ट और सेहतमंद हो जाएगा।

सूजी-दलिया अप्पम
दलिया की खिचड़ी, मीठा दलिया, छाछ के साथ दलिया खाने का चलन कई जगहों पर है, पर दलिया का अप्पम बनाएं, यह बहुत लजीज व्यंजन होता है। सुबह नाश्ते के रूप में खाएं, तो यह दूसरे तमाम पारंपरिक नाश्तों से अलग और पोषण से भरपूर होगा। इसमें भी हरी सब्जियों का उपयोग किया जा सकता है। सूजी दलिया अप्पम बनाने के लिए एक कप दलिया में आधा कप सूजी और एक कप दही मिलाएं। उसी में नमक, लाल मिर्च और काली मिर्च का पाउडर मिला लें। इन सारी चीजों को ठीक से फेंट कर मिलाएं। पानी कम पड़ रहा हो, तो थोड़ा पानी डाल कर ठीक से मिला लें। ध्यान रहे कि घोल पतला न हो, क्योंकि इसे गोलाकार बनाना है। इस घोल को तीन-चार घंटे के लिए ढंक कर रख दें, ताकि दलिया ठीक से पानी सोख ले और नरम हो जाए। जब दलिया और सूजी का घोल एकसार हो जाए, तो उसमें कटी हुई सब्जियां मिला दें और ठीक से फेंट लें। एक तरीका यह भी है कि सब्जियों को बीच में भर कर चारों ओर से गोलाकार ढंक लें। अब इसका अप्पम बनाना है, तो अप्पम स्टैंड में अंगुली पर तेल लेकर हल्का चुपड़ लें और उसके खांचों में घोल के गोलाकार को रख कर ढक्कन लगा दें और धीमी आंच पर पंद्रह मिनट तक पकने दें। फिर पलट कर दूसरी तरफ से भी पका लें।

अगर आपके पास अप्पम स्टैंड नहीं है, तो दलिया सूजी के घोल के लड्डू जैसे गोले बना लें। एक कड़ाही में हल्का तेल डालें और उसमें गोलों को रख कर ऊपर से ढक्कन लगा दें और धीमी आंच पर पकने दें। पलट-पलट कर चारों ओर से सेंक लें। अगर चाहें, तो इस घोल से अप्पम के बजाय इडली भी बना सकते हैं। उसके लिए इडली स्टैंड में घोल को डालें और जैसे इडली पकाते हैं, उसी तरह इसे भाप में पका लें। मगर भाप में पकी इसकी इडली में वह खस्तापन नहीं आता, जो अप्पम स्टैंड में पकाने पर आता है। सूजी और दलिया से बने इन नाश्तों को नारियल की चटनी, हरी चटनी, लाल चटनी, प्याज की चटनी, जिसके भी साथ खाना पसंद हो, खाएं। चाहें तो इसके साथ सांभर या फिर छाछ का भी उपयोग कर सकते हैं। यह संपूर्ण नाश्ता होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App