scorecardresearch

समय बचाएं पौष्टिक पकाएं

कई लोग भोजन पकाने से इसलिए बचते हैं कि उसमें समय अधिक लगता है और उसके चलते उनके बाकी काम बाधित होते हैं। इसलिए वे फटाफट बन जाने वाले व्यंजन बनाना ज्यादा पसंद करते हैं। जिन व्यंजनों को बनाने में अधिक समय देना पड़ता है, प्राय: उन्हें बाजार से मंगा कर खाते हैं। मगर अच्छा रसोइया उसे माना जाता है, जो एक साथ कई काम करते हुए भोजन पका ले और स्वादिष्ट पकाए। ऐसे ही कुछ व्यंजन पकाने के आसान नुस्खे।

मानस मनोहर

राजमा और छोले
प्राय: राजमा और छोले पकाने में अधिक समय लगता है। इसलिए कि पहले इन्हें उबालना पड़ता है, फिर इनका मसाला तैयार करना पड़ता है। टमाटर-प्याज लहसुन वगैरह को पीसना, भूनना पड़ता है। मगर राजमा या सफेद छोले पकाने के लिए बहुत आसान तरीका अपनाएं। इससे समय भी काफी बचेगा, जिसमें दूसरे काम किए जा सकते हैं और भोजन स्वादिष्ट और पौष्टिक भी बनेगा।

राजमा या छोले बनाने हों तो उन्हें रात भर के लिए भिगो दें। फिर इनका मसाला तैयार करने के लिए टमाटर, प्याज, लहसुन, अदरक, हरी मिर्च को काट लें। प्राय: लोग प्याज और टमाटर को पीस कर तरी तैयार करते हैं। मगर उसकी जरूरत नहीं। प्याज और टमाटर रेशेदार सब्जियां हैं, जो पकाने से गल जाती हैं। आप राजमा बना रहे हों या छोले, टमाटर प्याज को लंबे-लंबे आकार में काट लें। उन्हें काटते वक्त महीन करने की चिंता बिल्कुल न करें। अदरक, लहसुन और हरी मिर्च को जरूर बारीक-बारीक काट लें।

अब एक कुकर में तेल गरम करें। उसमें एक इंच जितनी बड़ी दालचीनी का टुकड़ा, दो तेजपत्ते, एक बड़ी इलाइची, एक छोटा चम्मच साबुत धनिया, आधा छोटा चम्मच जीरा, दो लौंग तड़के में डालें। तड़का तैयार होते ही उसमें पहले अदरक, लहसुन, हरी मिर्च डाल कर चलाएं और फिर प्याज डालें। दो मिनट भूनें। फिर कटे हुए टमाटर डाल कर चलाते हुए दो से तीन मिनट तक भूनें।

जब प्याज और टमाटर नरम पड़ जाएं, तो उसमें जरूरत भर का नमक, हल्दी पाउडर और राजमा या छोले मसाला डाल कर दो मिनट और भून लें। अब भिगोए हुए राजमा या छोले डाल कर एक बार चला दें, ताकि मसाले अच्छी तरह आपस में मिल जाएं।

अब दो गिलास पानी डालें और कुकर पर ढक्कन लगा दें। आंच को धीमी और मध्यम के बीच रख कर छोड़ दें। अब आप एक घंटे के लिए भूल जाएं कि राजमा या छोले पका रहे हैं। सीटी का ध्यान रखने की बिल्कुल जरूरत नहीं। अगर आपके पास समय है, दफ्तर या कहीं और निकलने की हड़बड़ी नहीं है, तो आंच को धीमी करके कम से कम डेढ़ घंटे के लिए छोड़ दें।

इस बीच आप दूसरे काम कर सकते हैं। मसलन, घर के काम करने हैं, आसपास की दुकान से कुछ लाना है, कपड़े प्रेस करने हैं, कुछ लिखना-पढ़ना है, वगैरह। एक या डेढ़ घंटे बाद आंच बंद कर दें और जब तक भाप पूरी तरह निकल न जाए, तब तक कुकर का ढक्कन न खोलें।

फिर ढक्कन खोल कर कलछी से अच्छी तरह फेंटें। आप देखेंगे कि प्याज-टमाटर-लहसुन वगैरह पूरी तरह गल कर चुके हैं। अच्छी तरह घोंट लें, ताकि राजमा या छोले मसालों के साथ घुलमिल कर लबाबदार हो जाएं। बारीक कटे हरा धनिया, अदरक के लच्छे और हरी मिर्च ऊपर से डालें और गरमा-गरम परोसें।

इस तरह आपका समय बचा और अलग-अलग कूटने-पीसने उबालने से सब्जियों की पौष्टिकता नष्ट होने का खतरा भी टल गया। सबसे अच्छी बात कि धीमी आंच पर पकने से भोजन में जो लाजवाब स्वाद आता है, वह इसमें मिलेगा।

पाव भाजी
पाव भाजी में पाव तो बाजार से मिल जाता है, मगर भाजी बनाना कई लोगों के लिए टेढ़ा काम जान पड़ता है। इसमें भी राजमा और छोले वाली झंझट नजर आती है, क्योंकि इसमें बहुत सारे लोग सब्जियों को अलग-अलग उबालते और फिर भाजी तैयार करते हैं। मगर यह भी राजमा की तरह बहुत आसान काम है। बल्कि पाव-भाजी तो जल्दबाजी में बनाए और खाए जाना वाला ही व्यंजन है। अगर आपने इसके लिए सब्जियां पहले से काट कर रखी हैं, तो पंद्रह-बीस मिनट में भोजन तैयार। भाजी के लिए सब्जियां काटने की भी झंझट क्यों रखें, आजकल तो पैकेट में मिक्स सब्जियां आती हैं, उनका ही इस्तेमाल करें। हां, प्याज और टमाटर काटने पड़ेंगे।

भाजी बनाने के लिए दो मध्यम आकार के आलू छील कर बड़े आकार में काट लें। सौ से डेढ़ सौ ग्राम सफेद कद्दू यानी पेठा या लाल सीताफल का छिलका उतार कर बड़े टुकड़ों में काट लें। दो सौ ग्राम मिक्स सब्जियां यानी मटर, गाजर, गोभी, बीन्स वगैरह ले लें। अगर समय है, तो पैकेट के बजाय अलग-अलग सब्जियां ले सकते हैं। इनके अलावा दो मध्यम आकार के टमाटर और एक प्याज लंबा-लंबा पतले आकार में काट लें। तड़के में डालने के लिए दो हरी मिर्च और थोड़ा-सा अदरक बारीक-बारीक काट कर रख लें।

कुकर में तेल गरम करें। उसमें जीरा, राई, सौंफ का तड़का दें और पहले मिर्च, अदरक छौंक दें। फिर पहले प्याज डालें, दो मिनट भूनें और टमाटर डाल कर भूनें। फिर सारी सब्जियां डाल कर एक बार चला लें। ऊपर से जरूरत भर का नमक, हल्दी पाउडर और पाव भाजी मसाला डालें और अच्छी तरह मिला लें। आधा गिलास पानी डालें और कुकर पर ढक्कन लगा कर आंच मध्यम कर दें। बीस से पच्चीस मिनट तक पकने दें। तब तक कोई दूसरा काम कर सकते हैं।

फिर आंच बंद कर दें। भाप पूरी तरह निकल जाए तो ढक्कन खोलें और मैशर या मथानी से दबा कर सारी सब्जियों को मसल लें। भाजी तैयार है। इसमें करीब पचास ग्राम मक्खन डाल कर मिला दें। हरा धनिया, अदरक लच्छा और हरी मिर्च से सजाएं। खाते समय नीबू का रस निचोड़ कर मिलाएं। पाव को मक्खन में सेंकें और भाजी के साथ गरमा-गरम परोसें।

पढें रविवारी (Sundaymagazine News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट