ताज़ा खबर
 

कब और कैसे करें दूध का सेवन, आहार में खूब सेहत में भरपूर

आजकल गले में किसी भी तरह की तकलीफ का बढ़ना कोरोना संक्रमण की आशंका बढ़ाता है। ऐसे में दूध के कप में चुटकीभर काली मिर्च मिला कर पीएं। इससे आपको गले की समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाएगा। दूध में प्रोटीन की भरपूर मात्रा होती है इसलिए इसका सेवन मांसपेशियों को मजबूत करता है।

दूध पोषक तत्वों से भरपूर पूर्ण आहार है, लेकिन इसको पीने के साथ कुछ हिदायतें भी हैं।

दूध पीना फायदेमंद होता है, यह सीख हमें बचपन में ही मिल जाती है। अपने देश में तो कई ऐसे मुहावरे भी हैं जो ये दर्शाते हैं कि दूध अच्छी सेहत और शारीरिक मजबूती के लिए बेहद जरूरी आहार है। दरअसल, न सिर्फ हमारी परंपरा में बल्कि आहार विज्ञान में भी दूध को पूर्ण आहार माना गया है क्योंकि इसमें सभी जरूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। एक ऐसे समय में जब हम लगातार कोरोना संक्रमण के खतरे से गुजर रहे हैं तो दूध के सेवन के प्रति लोगों में जागरूकता काफी बढ़ी है। अलबत्ता इस बारे में यह समझना जरूरी है कि दूध शरीर और सेहत के लिए फायदेमंद तो है पर इसका जब-तब सेवन नुकसान भी पहुंचा सकता है। लिहाजा यह जानना जरूरी है कि दूध का सेवन हमारे लिए कैसे फायदेमंद है और इसके सेवन से जुड़ी हिदायतें क्या हैं।

पोषक तत्वों से भरपूर
जब भी आप दूध पीएं तो ध्यान रखें कि वो हल्का गरम हो न कि बहुत ठंडा। हल्का गुनगुना दूध पीने से पाचन बेहतर होता है। दूध में विटामिन, खनिज, प्रोटीन, वसा और एंटीआॅक्सिडेंट सहित कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं। इसके अलावा दूध में आवश्यक अमीनो एसिड भी होता है। दूध में मौजूद कैल्शियम, विटामिन डी, फॉस्फोरस और मैग्नीशियम हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। इसके अलावा भी दूध और डेयरी उत्पादों का सेवन सेहत के लिए अपेक्षित कई जरूरतों को पूरा करते हैं। सुबह के समय दूध के सेवन से आपको दिनभर ऊर्जा मिलती रहती है। रोजाना दूध के सेवन शरीर में कोलेस्ट्रोल का स्तर संतुलित रहता है, जिससे आप दिल की बीमारियों से बचे रहते हैं। अगर आप आंखों की रोशनी बढ़ाना चाहते हैं तो दूध में बादाम, हल्दी, खसखस या अश्वगंधा मिलाकर शाम के समय पीएं।

गुण कई, लाभ कई
अगर आपको एसिडिटी की परेशानी होती है तो रोज रात में सोने से पहले एक गिलास दूध पीएं। इससे पाचन क्रिया भी मजबूत होगी। गर्मी के दिनों में हर रोज सुबह एक गिलास दूध जरूर पीएं। इसमें इलेक्ट्रिक तत्व मौजूद होते हैं, जो शरीर को डिहाइड्रेट होने से बचाते हैं। दूध में मौजूद ट्रिप्टोफान व स्टार्च अनिद्रा की समस्या को दूर करता है। ऐसे में अगर आपको नींद नहीं आती है तो सोने से पहले बादाम या हल्दी वाला दूध पीएं। इसी तरह तनाव दूर करने में भी दूध कारगर है। हल्का गरम दूध पीने से तनाव दूर करने में मदद मिलती है और आप हल्का भी महसूस करते हैं। इससे आप अवसाद जैसी समस्या से भी बचे रहते हैं।

आजकल गले में किसी भी तरह की तकलीफ का बढ़ना कोरोना संक्रमण की आशंका बढ़ाता है। ऐसे में दूध के कप में चुटकीभर काली मिर्च मिला कर पीएं। इससे आपको गले की समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाएगा। दूध में प्रोटीन की भरपूर मात्रा होती है इसलिए इसका सेवन मांसपेशियों को मजबूत करता है।

जरूरी हिदायत
– दूध को कभी भी भोजन के साथ नहीं पीना चाहिए क्योंकि यह जल्द हजम नहीं हो पाता। इसी तरह रात को सोने से पहले दूध पीने के लिए जरूरी है कि आप शाम के भोजन के दो घंटे बाद ही इसे पीएं ताकि आपको रात को दूध पीने का लाभ मिल सके।
– अगर आप खट्टे फल खाने के बाद दूध पीते हैं तो आपको उल्टी सहित पेट से जुड़ी कई परेशानियां हो सकती हैं।
– दूध पीने से पहले कभी भी करेले और भिंडी की सब्जी का सेवन न करें। इनको खाने के बाद दूध पीने से आपके चेहरे पर काले धब्बे पैदा हो सकते हैं। इसी तरह उड़द की दाल खाने के बाद दूध का सेवन करने से आपका पाचन खराब हो सकता है। मूली और जामुन के सेवन के बाद भी दूध न पीने की सलाह दी जाती है। इससे आपको त्वचा संबंधी कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं।
– मछली खाना सेहत के लिए फायदेमंद होता है। यह त्वचा और बालों की सेहत के लिए बहुत अच्छा है लेकिन इसे खाने के तुरंत बाद दूध कभी नहीं पीना चाहिए। ऐसा करने से आपको पेट संबंधी कई तरह की परेशानी हो सकती है।

(यह लेख सिर्फ सामान्य जानकारी और जागरूकता के लिए है। उपचार या स्वास्थ्य संबंधी सलाह के लिए विशेषज्ञ की मदद लें।)

Next Stories
1 ‘अपनी गंध नहीं बेचूंगा’- बालकवि बैरागी
2 बाबा, गीता और प्रवचन
3 स्वाद हमेशा साथ हमेशा
ये पढ़ा क्या?
X