ताज़ा खबर
 

जानकारी कॉलम में प्रकीर्तिमा का लेख : काजग की कला

कलाकार को पेपर फोल्डर कहते हैं। पेपरफोल्ड करके विभिन्न प्रकार की डिजाइनें बनाने की कला को जापानी भाषा में ओरिगेमी कहा जाता है।

Author नई दिल्ली | Published on: June 12, 2016 3:22 AM
कागज से बने फूल

एक कागज का टुकड़ा और हाथों का कमाल, लो देखते ही देखते फूल हो गया तैयार। यह है पेपर फोल्डिंग की कला, जिसको कहते है ‘ओरिगेमी’। यह ऐसी कला है जिसमें आप फूल ही नहीं और भी बहुत कुछ बना सकते हैं जैसे-पेड़-पौधे, मनुष्य, चेहरे, जानवर, पशु-पक्षी, भवन और वाहन आदि। बस जरूरत है एक कागज की और बाकी काम आप की अंगुलियां करेंगी।
ओरिगेमी वह कला है जिसमें कागज के टुकड़े को विभिन्न आकारों में मोड़ा जाता है, जिससे एक आकृति बनती है। पेपर फोल्ड कर तरह-तरह की डिजाइनें बनाने वाले

कलाकार को पेपर फोल्डर कहते हैं। पेपरफोल्ड करके विभिन्न प्रकार की डिजाइनें बनाने की कला को जापानी भाषा में ओरिगेमी कहा जाता है। जापानी भाषा में ओरू का मतलब होता है फोल्ड करना या मोड़ना और केमी या गेमी का मतलब पेपर या कागज होता है। वास्तव में ओरिगेमी जापानी कला नहीं है, बल्कि इसका जन्म तो चीन में हुआ, पर जापानियों को यह इतनी भाई कि उन्होंने इसे अपनी कला बना लिया।

आज यह दुनिया भर में मशहूर है। ओरिगेमी के लिए सिर्फ एक कागज की जरूरत पड़ती है। यह कागज बाजार में ओरिगेमी पेपर के नाम से मिलता है। यह लगभग छह इंच का चौकोर पेपर होता है, जो एक तरफ सफेद तो दूसरी तरफ रंगीन होता है। आजकल पेपर फोल्डर शीट मैटल और पास्तशीत तक का इस्तेमाल करने लगे हैं। पेपर फोल्डिग से जो आखिरी आकृति या डिजाइन बनती है वह मॉडल कहलाती है। मॉडल को फोल्ड करना डिजाइन कहलाता है, और जो डायग्राम ड्रा किए जाते हैं उन्हें सेट आॅफ डायग्राम्स कहते हंै।

कुछ बुनियादी तकनीक और सामान्य फोल्ड से ओरिगेमी की शुरुआत की जा सकती है। ओरिगेमी में पेपर को जितने भी तरीकों से फोल्ड किया जाए उसे एक नाम दिया जाता है। इसी प्रकार बेस भी कई तरह के होते है, लेकिन जो सबसे आसान फोल्ड है, वे हैं-वैली फोल्ड और माउंटेन फोल्ड। जो भी पेपर फोल्डर ओरिगेमी सीखता है, तो सबसे पहले ये दोनों फोल्ड ही काम करते हैं। वैली फोल्ड में पेपर को आगे की ओर फोल्ड किया जाता है, जिससे वैली जैसी आकृति बनती है। इसी प्रकार माउंटेन फोल्ड में पेपर को पीछे की ओर फोल्ड किया जाता है और माउंटेन जैसी आकृति बनती है। इसके बाद साधारण से लेकर जटिल फोल्ड और बेस है, जिनसे आप आकृतियां बना सकते हैं।

ओरिगेमी की तकनीक में चार बेस काफी लोकप्रिय है-काइट बेस, फिश बेस, बर्ड बेस और फ्रॉग बेस। ये नाम उनकी आकृतियों के ही आधार पर रखे गए हैं। अधिकतर फोल्ड और बेस जीव-जंतुओं की डिजाइनों के लिए इस्तेमाल होते हैं।

(प्रकीर्तिमा)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X