ताज़ा खबर
 

साज-सिंगार में कलमकारी

मेहंदी सदाबहार है। इसका लाल रंग अपनी खास पहचान के साथ सदियों से दुल्हन के सुहाग के साथ जुड़ा है।

Author May 20, 2018 6:40 AM
आजकल शादियों में दूल्हा-दुल्हन के पहनावे और साज-शृंगार पर खास ध्यान दिया जा रहा है।

शादियों में सजने-संवरने, पंडाल वगैरह की सजावट पर तो पहले से खास ध्यान दिया जाता रहा है, पर जबसे शादियों की योजना तैयार करने वालों की सक्रियता बढ़ी है, हर काम में नए-नए प्रयोग होने लगे हैं। आजकल शादियों में दूल्हा-दुल्हन के पहनावे और साज-शृंगार पर खास ध्यान दिया जा रहा है। आंखों में काजल, नाखूनों पर रंग, यहां तक कि मेहंदी आदि लगाने में भी कलात्मकता दिखने लगी है। इन दिनों शादियों में क्या चलन में है, बता रही हैं अनुजा भट्ट।

आजकल कोई भी समारोह विषय-वस्तु यानी थीम पर आधारित होता है। उसी के हिसाब से सजावट, खानपान, पहनावा और सजना-संवरना तय किया जाता है। आपको दूर से देख कर ही पता चल जाएगा कि वहां क्या खास होने वाला है। कभी शहरी लोग गांव की विषय-वस्तु लेकर शादी करते नजर आते हैं, तो गांव के समृद्ध परिवार शहरी अंदाज में। पुरानी फिल्मों का आभास भी हमें शादियों में दिखाई देता है। शादी को खास बनाने के लिए कई विकल्प हैं। जो विकल्प आप चुनते हैं, तैयारी भी उसी के हिसाब से होती है। आजकल सबसे पहले विषय-वस्तु का चुनाव किया जाता है और उसी के अनुरूप शादी का निमंत्रण पत्र छपता है, ताकि मेहमान भी उसी के हिसाब से तैयारी कर सकें। ड्रेस कोड में दूल्हा-दुल्हन ही नहीं, परिवार के सब लोग बंधे होते हैं। शादी में परिधान के साथ जो सबसे महत्त्वपूर्ण चीज होती है सजना-संवरना। इसके लिए क्या नए प्रयोग हो रहे हैं, आइए जानते हैं।

आंखों की सुंदरता

आंखों को सुंदर बनाने का काम काफी चुनौतीपूर्ण है। कलाकार यहां भी अपनी रचनात्मकता का परिचय दे रहे हैं। इस मौसम में मैट फिनिश आई मेकअप अपनाया जा रहा है। इसी के साथ क्रिएटिव आई मेकअप पर भी जोर है। यह आंखों की चमक को और गहरा करता है, जिससे आंखें उभरी नजर आती हैं। भूरा और गुलाबी रंग का प्रयोग मेकअप में पसंद किया जा रहा है। इन रंगों के आई शैडो गर्मियों में सुकून देते हैं। इसके अलावा दूसरे हल्के रंग भी पसंद किए जाते हैं। शैंपेन का रंग भी मेकअप में छाया हुआ है। काजल में हरा, नीला और बैंगनी रंग पसंद किया जा रहा है। आई लाइनर के तौर पर भी ऐसे रंगों का चलन बढ़ा है। इन बहुरंगी कास्मैटिक के जरिए आंखों की सुंदरता को बढ़ाया जा सकता है।

आंखों की खूबसूरती बढ़ाने का काम ओमरे तकनीक से भी किया जा रहा है। बालों को स्टाइलिश बनाने से शुरू हुई इस अवधारणा के आकर्षण को देखते हुए अब इसे आंखों को हाईलाइट करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा रहा है। इसमें हल्के रंग से शुरू करके गहरे रंगों तक का इस्तेमाल कर आंखों को सजाया जाता है। आई शैडो के चार-पांच रंगों के इस्तेमाल से आंखों की खूबसूरती देखने लायक होती है।

नकली पलकें : घनी पलकें आंखों को आकर्षक बनाती हैं। इसलिए नकली पलकें को भी लगाया जाता है।

बालों की सुंदरता : इसके लिए आजकल प्राकृतिक बालों के ऊपर कृत्रिम बाल लगाने का चलन है। फिर वह चोटी हो, जूड़ा या फिर खुले बाल। कलर्ड क्लिपआन के जरिए आप इन्हें लगा सकती हैं। जूड़ा बनाने का तरीका बदला है। अब ऊंचे और उभरे जूड़े की जगह सामान्य जूड़े ने ले ली है। आप किस तरह के आभूषण पहन रही हैं, उस पर भी आपकी केश सज्जा निर्भर करती है।

एचडी ट्रेंड : इसके प्रति लोगों का दीवानापन अब भी है। यह सिलिकॉन आधारित मेकअप होता है, जिससे त्वचा पर परत नहीं चढ़ती है। मेकअप बिलकुल पारदर्शी नजर आता है और आपकी सुंदरता को निखारता है। ब्राइडल मेकअप में इस्तेमाल होने वाला बेस काफी ज्यादा होता था, जिसकी वजह से मेकअप के बाद चेहरे पर लकीरें नजर आती थीं। आजकल के मेकअप में बेस बहुत कम रखा जाता है, जो आपकी त्वचा में आसानी से घुलमिल जाता है।

नाखूनों पर कलाकारी

नेल पेंट के परंपरागत तरीके से अलग आप अपने नाखूनों को सजाने के लिए कई विकल्प अपना सकती हैं। इस नए चलन ने परंपरागत डिजाइन को एकदम उलट दिया है। पहले जहां नेल टॉप को खाली छोड़ा जाता था वहीं इस नए स्टाइल में नेल टॉप को डीपमैट शेड्स के नेल कलर या ग्लासी कलर से पेंट किया जाता है। नेल आर्ट का यह डिजाइन लंबे नाखून या फिर आॅलमंड शेप नाखून पर बहुत अच्छा लगता है। सबसे पहले नाखून को न्यूड कलर से कोट करें और इसे सूखने के लिए छोड़ दें। पहले कोट के सूखने के बाद नाखून के नीचे वाले मून पार्ट को नेल गाइड लगा कर ब्लॉक कर दीजिए, अब आप अपने मनपसंद रंग से नाखून को पेंट कर लीजिए। इस बार नेल कलर करने के लिए दो कोट कीजिए नेल कलर सूखने पर नेल पर शाइन कोट करिए। अपने परिधान के साथ कैसे उसका मेल करवना है यह आप तय करें।

नया अंदाज

इसके अलावा कुछ और प्रयोग करके आप नाखून को दे सकती हैं फंकी लुक। बेस कोट से स्टार्ट कीजिए, नाखून के सबसे ऊपर नियॉन ऑरेंज या शाइनी ब्लू लगाएं। अंत में नेल कटर से उसे फाइनल टच दीजिए। सी फ्लेश टोंड नेल लैक्योर (जल्दी सूखने वाला पदार्थ, जो चमक के लिए लगाया जाता है) से अपने नाखून को रंगिए। नाखून की शुरुआत में गहरा नीला या फिर काले रंग से अर्ध चंद्रमा बनाएं। ज्यादा चमक के लिए नाखून पर रंग सूख जाने के बाद आखिरी परत चढ़ाइए। इसमें रंग और टेक्सचर का विरोधाभास पैदा किया जाता है।

टैटू भी है पसंद

पहले दूल्हा-दुल्हन शादी में मेहंदी में अपने साथी का पहला अक्षर बनवाते थे। अब यह काम टैटू कर रहा है। आकर्षक डिजाइन में पहला अक्षर अंकित किया जा रहा है। फिल्म स्टार सैफ अली खान जैसी कई सिलेब्रिटी हैं जो टैटू के डिजाइन को लेकर बेहद संजीदा हैं। आजकल नाम के अलावा भी कई तरह के डिजाइन पसंद किए जा रहे हैं। जैसे-जैसे टैटू के प्रति लोगों की दीवानगी बढ़ी है, वैसे वैसे इसमें कई तरह के प्रयोगों की गुंजाइश भी बढ़ती जा रही है। आजकल नया चलन है थ्री डी टैटू का। थ्री डी टैटू बनाने के लिए खास तरह की सुई इस्तेमाल की जाती है। ब्लैक इंक टैटू के शाहिल मेहता की मानें, तो थ्री डी टैटू बस रंगों का कमाल है। क्योंकि इसे उभारने में सारा खेल शेडिंग इफेक्ट का है। इसमें एक रंग को लिया जाता है और उसमें हल्के से लेकर चटक तक कई शेड्स इस्तेमाल किए जाते हैं। इसमें रंगों का इस्तेमाल इस तरह किया जाता है कि चित्र का प्रभाव अंदर से बाहर की ओर आता लगता है। आमतौर पर इसमें एक रंग की तीनश्रेणियां ली जाती हैं। मसलन, हल्का भूरा, गहरा भूरा और फिर काला। यह टैटू रोशनी में एकदम अलग नजर आता है।

मेहंदी सदाबहार

मेहंदी सदाबहार है। इसका लाल रंग अपनी खास पहचान के साथ सदियों से दुल्हन के सुहाग के साथ जुड़ा है। डिजाइन में यहां भी विविधता आई है। परंपरागत डिजाइन के अलावा यहां आधुनिक डिजाइन भी बन रहे हैं। दूल्हा-दुल्हन की असली तस्वीरें बनाई जा रही हैं। थ्री डी का प्रयोग यहां भी है।
फूलों-सा चेहरा तेरा : अलग अलग रंगों के फूलों से पहले सिर्फ गजरे बनते थे। आजकल फूलों का प्रयोग आभूषण के विकल्प के तौर पर भी हो रहा है।

संक्षेप में कहें तो शादी को खास बनाने की तैयारी में हर कोई जुटा है। आपके बजट के हिसाब से आपके लिए थीम है, जिसमें हर छोटी से बड़ी बात का खयाल रखा गया है। आप थीम चुनिए और चैन की नींद सो जाइए। कोई तनाव नहीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App