scorecardresearch

बुद्धिबल बनाम बाहुबल

करौली और खरगोन का दंगा खबरों में अटका। वीडियो पर वीडियो। खरगोन में चुन-चुन कर घर जलाए गए! सोलह साल के एक लड़के के सिर पर पत्थर लगा। वह अभी तक वेंटीलेटर पर! एक पुलिस अधीक्षक के पैर में गोली… एक मुहल्ले से हिंदुओं का पलायन शुरू… और बहसें जारी…

madhya pradesh| khargone violence| bulldozer action|
खरगोन हिंसा के आरोपियों पर कार्रवाई हुई (Express Photo)

रामनवमी की शोभायात्रा। शोभायात्रा में डीजे। डीजे में ‘जय श्रीराम’। दिल्ली, बंगाल, गुजरात, मध्यप्रदेश, झारखंड… आठ राज्यों के दर्जनों नगरों में जुलूसों पर पथराव। ‘मुसलिम मुहल्लों’ से पथराव। आगजनी। एक भाजपा प्रवक्ता की आपत्ति : ये ‘मुसलिम मुहल्ला’ क्या होता है? यह ‘द्विराष्ट्र सिद्धांत’ है!

करौली और खरगोन का दंगा खबरों में अटका। वीडियो पर वीडियो। खरगोन में चुन-चुन कर घर जलाए गए! सोलह साल के एक लड़के के सिर पर पत्थर लगा। वह अभी तक वेंटीलेटर पर! एक पुलिस अधीक्षक के पैर में गोली… एक मुहल्ले से हिंदुओं का पलायन शुरू… और बहसें जारी…

डीजे बजा कर और घृणावादी नारे लगा कर मुसलमानों को क्यों उकसाया? क्या पुलिस ने इजाजत दी? डीजे बजाया तो क्या पेट्रोल बम मारोगे, गोली चलाओगे? ये पेट्रोल बम अचानक कहां से आ गए? छतों पर पत्थर कैसे आ गए? पहले से तैयारी थी। ये देखिए वीडियो… हिंदू अपने ही घर में पिट रहा है। रामनवमी की शेभायात्रा यहां नहीं निकलेगी, तो क्या पाकिस्तान में निकलेगी?

अपनी-अपनी घृणा और हिंसा को सही ठहराने वाले आपस में जूझते रहते हैं :

  • कानून व्यवस्था पुलिस का काम! करौली में वह हिंसा रोकती! – क्या तुमने खरगोन में रोका? – मामा ने बुलडोजर चलाया और चलाएंगे। क्या तुमने करौली के ‘आरोपित’ मतलूब को पकड़ा? – देश कानून से चलेगा या बुलडोजर से?
  • जो करेगा, सो भरेगा! हम डरने वाले नहीं! करौली दंगे में ‘आतंकवादी’ मुसलिम संगठन ‘पीएफआइ’ का हाथ, कांग्रेस का साथ! – सरकार ‘पीएफआइ’ को प्रतिबंधित क्यों नहीं करती?

फिर जेएनयू की ओर : एक हास्टल में रामनवमी के दिन एक ओर पूजा, दूसरी ओर इफ्तार। मांस नहीं का आग्रह! सब शांत-शांत, कि शाम को वामपंथी छात्रों ने हमला किया। विद्यार्थी परिषद और वामपंथी छात्रों की भिड़ंत! कोई यहां पिटा, कोई वहां पिटा! फिर एफआइआर पर एफआइआर! फिर प्रदर्शन पर प्रदर्शन! फिर ‘जय श्रीराम’! फिर जेएनयू की ढपली… ढपली वाले ढपली बजा… आजादी आजादी!

ओवैसी जी विक्षुब्ध कि अरसे से एक खास समुदाय निशाने पर है… पथराव, टकराव रोकना पुलिस का काम… आप मुसलिम समुदाय को ‘सामूहिक सजा’ दे रहे हैं… संघ परिवार ने इस देश में ‘हल्के असर वाले युद्ध’ में महारत हासिल कर ली है… ये सारी सरकारें मुसलमानों के खिलाफ घृणा फैलाती हैं…

क्या अल्पसंख्यक से बहुसंख्यक को खतरा हो सकता है?… भाजपा, कांग्रेस सब एक हैं… मुसलमानों को दबा के रखो, दोयम दर्जे का नागरिक बना कर रखो… घरों को तोड़ कर ‘परपीड़ावादी आनंद’ लिया जा रहा है… ये ‘कानून का शासन’ नहीं ‘बंदूक का शासन’ है… ये ‘क्लासिक फासीवाद’ है…

इस बीच मनसे के नेता राजठाकरे की चेतावनी कि अगर तीन मई तक लाउडस्पीकर बंद नहीं हुए, तो हम वहां ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ करेंगे… पीएफआइ का आवाहन : मुसलिम आत्मरक्षा के लिए नया मोर्चा बनाएं! प्रतिरोध के लिए तैयार रहें। बुलडोजर का प्रतिरोध करें।

एक चैनल की बहस में एक प्रवक्ता पूछता है : वह कौन-सा समुदाय है, जो जब अपराध करता है तो संविधान की दुहाई देता है, वरना ‘शरीआ’ को ही अपना विधान मानता है…?

एक चैनल पर एक तीखी बहस में अल्पसंख्यकों के एक नेता जैसे ही कहते हैं कि वीएचपी हिंदू आतंकवादी संगठन है, वीएचपी नेता सीधे धमका देते हैं कि हिंदू को आतंकवादी कहोगे, तो सड़क पर निकलना मुश्किल होगा… एंकर टोकती है : ये धमकी मत दीजिए!

बृहस्पतिवार को अधिकांश चैनल खबर ‘ब्रेक’ करते हैं : दिल्ली के नामी कालेज ‘एलएसआर’ ने पहले भाजपा के दलित चिंतक प्रो. ‘गुरुप्रकाश पासवान’ को आंबेडकर जयंती पर भाषण देने के लिए आमंत्रित किया, फिर ‘लेफ्ट’ के दबाव में कार्यक्रम रद्द कर दिया!

इन दिनों अपने लिए ‘आजादी’ की मांग करने वाले दूसरे की आजादी का गला टीपते हैं। जैसे कहते हों : वहां इनकी विचारधारा चली, तो यहां चलेगी अपनी विचारधारा! ‘विचारधारा’ से लड़ेगी ‘विचारधारा’ तो और भी ताकतवर बन कर उभरेगी ‘विचारधारा’! बहसों में ‘संप्रदायवाद’ की फसल लहलहाती है!

अमेरिका द्वारा भारत के ‘मानवाधिकार रिकार्ड’ पर नजर रखने की धमकी पर इस बार भारत ने घुड़क दिया कि हम भी अमेरिका के मानवाधिकार पर नजर रखे हैं! कल्लो क्या कल्लोगे?

रणबीर-आलिया की शादी! सारे चैनल ताका-झांकी में व्यस्त! यह शादी फिल्म ‘ब्रहमास्त्र’ का प्रोमो भी करती है, इसे खोलने की जगह कई एंकर आलिया के ‘न्यूनतम श्रृंगार’ पर ही मरते रहे! चलते चलते : एक चैनल पर खबर : ‘कश्मीर फाइल्स’ के बाद विनोद अग्निहोत्री बनाएंगे सिख विरोधी दंगों पर ‘दिल्ली फाइल्स’!

पढें रविवारीय स्तम्भ (Sundaycolumn News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.