ताज़ा खबर
 

Pink Review: जबर्दस्त फिल्म है अमिताभ बच्चन और तापसी पन्नू की PINK

Pink Movie Review: फिल्म से जुड़े सभी लोग तारीफ के हकदार हैं। आखिरकार एक शक्तिशाली, बहादुर मेनस्ट्रीम फिल्म आई है जो असल यंग महिलाओं पर फोकस करती है।
Pink Review:मॉडर्न वर्किंग वुमेन को बखूबी दिखाती है फिल्म।

Pink movie cast: तापसी पन्नू, कीर्ती कुलहारी, एंडिया तरियांग, अमिताभ बच्चन, अंगद बेदी, राशुल टंडन, विजय वर्मा, तुषार पांडेय, पीयूष मिश्रा, विनोद नागपाल, दिबांग

Pink movie director: अनिरुद्ध रॉयचौधरी

फिल्म से जुड़े सभी लोग तारीफ के हकदार हैं। आखिरकार एक शक्तिशाली, बहादुर मेनस्ट्रीम फिल्म आई है जो असल यंग महिलाओं पर फोकस करती है। उनकी रोजमर्रा की जिंदगी और मुद्दे को बखूबी दिखाया गया है जिनका सामना उन्हें करना पड़ता है। फिल्म में दिखाई गई इन बातों से सभी महिलाएं खुद को कनेक्ट कर पाएंगी। फिल्म की बॉटमलाइन यही है कि अगर कोई लड़की ना कहती है तो उसका सीधा मतलब ना ही होता है। मतलब यह कि दूर हो जाओ और परेशान ना करो। महिलाएं शॉर्ट स्कर्ट पहन सकती हैं। रॉक कॉन्सर्ट पर जा सकती हैं। वह अपने दोस्त के साथ खुलकर हंस सकती है, उसके साथ ड्रिंक कर सकती है। वो सेक्शुअली एक्सपीरियंस्ड भी हो सकती है।

किसी बॉलीवुड फिल्म में ‘क्या आप वर्जिन हैं’ जैसा डायलॉग सुनना काफी मीनिंगफुल है। फिल्म में तीन एक्ट्रेस हैं। मीनल (तापसी पन्नू) जो कि एक इवेंट मैनेजर हैं। जिनका काम कई बार देर रात तक रहता है। फलक (कीर्ती कुलहारी) एक कॉर्पोरेट सेटअप में काम करती है। एंड्रिया (एंड्रिया तरियांग) नॉर्थ ईस्ट की एक लड़की का किरदार निभा रही हैं। तीनों लड़कियां साउथ दिल्ली के पॉश इलाके में एक फ्लैट में रहती हैं। फिल्म में उनका इंट्रोडक्शन तब होता है जब वह सुबह-सुबह कहीं से वापस आ रही होती हैं। वो थोड़ी देर पहले हुई किसी घटना से परेशान दिख रही होती हैं।

यहां से फिल्म की कहानी शुरू होती है। दिखाया जाता है कि कुछ देर पहले तीनों लड़कियां सूरजकुंड हरियाणा में तीन लड़कों के साथ होती हैं। सभी एक रॉक कॉन्सर्ट के बाद साथ में थे। डिनर के बाद कुछ ऐसा होता है कि उनमें हाथापाई हो जाती है। इसमें एक लड़का घायल हो जाता है। इसके बाद घायल राजवीर (अंगद बेदी) और उसके दोस्त डंपी (राशुल टंडन), विश्वा (तुशार पांडेय) और उनका एक और (विजय शर्मा) जो कि एक पॉलिटिकल फैमिली से ताल्लुक रखते हैं, उन लड़कियों से बदला लेने की सोचते हैं। इसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचता है। फिल्म में अमिताभ बच्चन को एक वकील के किरदार में दिखाया है जो कि लड़कियों का केस लड़ते हैं। दिखाया गया है कि अमिताभ को बाईपोलर बीमारी है। लेकिन बीमारी के बावजूद वह इन लड़कियों की तरफ से केस लड़ते हैं और धीरे-धीरे कहानी का सस्पेंस डोज बढ़ने लगता है. आखि‍रकार केस कौन जीतेगा? यह देखना मजेदार होगा। फिल्म की तीनों एक्ट्रेसेज ने एक मॉडर्न वर्किंग वुमेन का रोल बखूबी निभाया है।

The #pinksquad is now ready to paint meri Dilli #pink my favourite place to be on this planet!

A photo posted by Taapsee Pannu (@taapsee) on

4 days to gooooooo. Dekhte hai janta kya jawaab degi 😁 #4daysforPink

A photo posted by Taapsee Pannu (@taapsee) on

Happiness galore #7daystopink

A photo posted by Taapsee Pannu (@taapsee) on

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.