ताज़ा खबर
 

पद्मावत MOVIE REVIEW: रानी पद्मिनी की बहादुरी और राजपूतों के शौर्य को बयां करती है फिल्म

Padmavati Movie Review: संजय लीला भंसाली निर्देशित इस फिल्म में दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर मुख्य किरदार निभाते नजर आएंगे। 'पद्मावत' संजय लीला भंसाली की एक ऐसी फिल्म जिसके विषय को लेकर पिछले काफी समय से विवाद देखने को मिला।

Padmaavat Movie Review: संजय लीला भंसाली की फिल्म में देखें राजपूतों की आन-बान और शान।

Padmaavat (Padmavati) Movie Review: ‘पद्मावत’ संजय लीला भंसाली की एक ऐसी फिल्म जिसके विषय को लेकर पिछले काफी समय से विवाद देखने को मिला। लेकिन भारी विवाद के बीच ये फिल्म सिनेमाघरों तक आने में सफल रही। संजय लीला भंसाली निर्देशित इस फिल्म में दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर मुख्य किरदार निभाते नजर आएंगे। बात फिल्म की करें तो इसे देखने के बाद ऐसा बिल्कुल नहीं लगता है कि निर्देशक को किसी भी समाज और संगठन से किसी तरह की हरी झंडी दिखाए जाने की जरूरत है। इसकी वजह यह है कि फिल्म में कहीं भी राजपूतों के मान सम्मान को ठेस पहुंचाने की कोशिश की ही नहीं गई है। बल्कि संजय लीला भंसाली ने फिल्म में राजपूतों की ‘आन, बान और शान’ को पर्दे पर बखूबी उकेरा है।

फिल्म बेहद दमदार डायलॉग, शानदार दृश्यों और जुनून को दर्शाती है। फिल्म देखने के बाद आप खुद को खोया हुआ सा महसूस करेंगे। दीपिका रानी पद्मिनी के रूप में बेहद खूबसूरत नजर आई हैं। उन्होंने अपनी दमदार एक्टिंग और एक्सप्रेशन से रानी के किरदार को जीवंत कर दिया है। उन्हें इस फिल्म में देख ऐसा लगता है कि निर्देशक ने कैसे इतनी खूबसूरत रानी को चिता में डालने के बारे में सोचा भी होगा। रानी के किरदार की मजबूती को दीपिका ने बखूबी निभाया।

यह फिल्म 13वीं शताब्दी की एक ऐतीहासिक कहानी को दर्शाती है। फिल्म में खिलजी वंश के शासक जलालुद्दीन खिलजी (रजा मुराद) दिल्ली को जीतने की योजना बनाते हैं। इसी दौरान उनका भतीजा अलाउद्दीन खिलजी भी वहां आता है और चाचा की बेटी मेहरूनिसा (अदिति राव हैदरी) से निकाह कर लेता है। लेकिन अलाउद्दीन बेहद शातिर है वह अपने चाचा को मारकर दिल्ली का राजा बन जाता है। दूसरी तरफ मेवाड़ के राजा महारावल रतन सिंह (शाहिद कपूर) की मुलाकात राजकुमारी पद्मिनी (दीपिका पादुकोण) से होती है। इसके बाद दोनों शादी कर लेते हैं। इस बीच उनके राज्य के पुरोहित को देश निकाला दे दिया जाता है। वह दिल्ली जाकर अलाउद्दीन के सामने रानी पद्मिनी के रूप रंग की तारीफ करता है। उनकी बातों में आकर अलाउद्दीन रानी पर फिदा हो जाता है। वह चित्तौड़ पर आक्रमण के लिए निकलता है। इस बीच वह महारावल के साथ छल के जरिए उन्हें बंदी बनाकर दिल्ली ले आता है और उन्हें छोड़ने की शर्त में रानी को एक बार देखने की बात करता है। बस यहीं से शुरू होती राजपूतानी शान और शौर्य की कहानी।

फिल्म में रानी पद्मिनी के किरदार में दीपिका बेहद खूबसूरत नजर आईं हैं। वह भव्य सैट और सुंदर कॉस्ट्यूम में रानी के किरदार को जीवंत करती सी लगती हैं। वहीं जब उनकी इज्जत पर आती है तो उनका अपनी शान के लिए अड़ना और कभी नहीं झुकना ये सब उन्हें खास बनाता है। फिल्म में दीपिका जब शांत होती हैं तो खूबसूरत रानी सी लगती हैं वहीं जब उन्हें क्रोध और गुस्सा आता है तो वह चंडी की तरह आंखें लाल किए अपनी इज्जत के लिए अडिग खड़ी रहती हैं। वहीं बात शाहिद की एक्टिंग की करें तो वह राजा रतन सिंह के किरदार में काफी जंचे हैं। उन्होंने फिल्म में राजपूतों की शान को बखूबी दर्शाया। रानी के साथ उनका प्यार और अलाउद्दीन के साथ उनकी तकरार देखते बनती है। बात करें खिलजी बने रणवीर सिंह की तो वह शानदार हैं। वह एक मुस्लिम शासक के किरदार में गजब कर गए हैं। उनके किरदार में सनक, पागलपन, वैहसीपना, मक्कारी और झक्कीपना सब देखने को मिलता है। वह जैसे अपने मन में आगे की योजना बनाते हैं। खुद में मुस्कुराते हैं और मांस को जिस अंदाज में खाते हैं वह सब रणवीर ही कर सकते हैं। इस फिल्म को देखने के बाद दर्शक रणवीर की एक्टिंग के दीवाने हो जाएंगे।

फिल्म शुरूआत से लेकर अंत तक दर्शकों को बांधे रखने में कामयाब रहेगी। संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ के गाने, लोकेशन, सैट और किरदारों की एक्टिंग देखने के बाद शायद लोग फिल्म के प्रति अपनी सोच बदल सकें।

पद्मावत मूवी कास्ट: रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण, शाहिद कपूर, रजा मुराद, अदिति राव हैदरी
पद्मावत मूवी निर्देशक: संजय लाली भंसाली
पद्मावत मूवी रेटिंग: 2.5 स्टार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App