ताज़ा खबर
 

Mohalla Assi Movie Review: भरपूर गालियों के साथ बनारस की गलियों की यात्रा कराएगी सनी देओल की फिल्म

Mohalla Assi Movie Review and Rating: फिल्म 'मोहल्ला अस्सी' कोस बने हुए काफी वक्त हो गया था। लेकिन फिल्म अब जाकर रिलीज की गई है। सनी की फिल्म एक कॉन्ट्रवर्शियल इशू पर बेस्ड है ऐसे में सेंसर बोर्ड ने फिल्म को 2 सालों से रोक कर रखा हुआ था। फिल्म में साक्षी तंवर सनी की पत्नी के किरदार में हैं।

Mohalla Assi Box Office Collection Day 3: फिल्म ‘मोहल्ला अस्सी’ में सनी देओल

Mohalla Assi Movie Review: सनी देओल की फिल्म ‘मोहल्ला अस्सी’ आखिरकार रिलीज हो गई है। फिल्म में सनी देओल के अलावा टीवी की जानी मानी एक्ट्रेस साक्षी तंवर और रवि किशन भी हैं। फिल्म ‘मोहल्ला अस्सी’ को बने हुए काफी वक्त हो गया था। लेकिन फिल्म अब जाकर रिलीज की गई है। सनी की फिल्म एक कॉन्ट्रवर्शियल इशू पर बेस्ड है ऐसे में सेंसर बोर्ड ने फिल्म को 2 सालों से रोक कर रखा हुआ था। फिल्म में साक्षी तंवर सनी की पत्नी के किरदार में हैं। सनी फिल्म में गंगा के घाट में पुजारी के रूप में नजर आते है। सनी फिल्म में अपने किरदार में काफी जम रहे हैं।

फिल्म में सनी देओल संस्कृत के अध्यापक की भूमिका में हैं। वहीं वह गंगा घाट पर तीर्थ यात्रियों को पूजा पाठ भी कराते हैं। फिल्म में सनी के किरदार का नाम है धर्मनाथ पांडे। धर्मनाथ अपने सिद्धांतों और नियमों को लेकर काफी सख्त है। धर्मनाथ वैश्विकरण के खिलाफ है। ऐसे में उसने अपने घर को मोहल्ले के वैश्वीकरण और बाजारवाद से दूर रखा है।

बनारस में कई विदेशी घूमते के लिए आते हैं। लेकिन ब्राह्मणों के इस मोहल्ले में गोरों के रहने का अक्सर विरोध किया जाता है। धर्मनाथ का मानना है कि विदेशियों की वजह से अस्सी घाट की संस्कृति भ्रष्ट हो रही है। यह चीज इस स्वर्ग को बाजारवाद की तरफ धकेल रही है। इधर, फिल्म में रवि किशन (गिन्नी) एक गाइड की भूमिका निभा रहे हैं। गिन्नी एक डायलॉग में कहता हैं, ‘गंगा हमारे लिए नदी नहीं है, मैया है और मैं गंगा को विदेशियों का स्विमिंग पूल नहीं बनने दूंगा।’ कहानी में आगे एक बड़ा ट्विस्ट आता है जब धर्मनाथ को एक दिन अपने सिद्धांतों से समझौता करना पड़ता है। दरअसल ब्राह्मण अपने इस मोहल्लो को भोले बाबा का घर मानते हैं। तो वहीं मोहल्ले में पप्पू की चाय की दुकान पर राजनीतिक चर्चा भी होती है। एक का एक डायलॉग काफी प्रभावित कर देने है जो है- ‘हिंदुस्तान में संसद दो जगह चलती है एक दिल्ली में और दूसरी मोहल्ला अस्सी के चाय की दुकान पर।’

फिल्म ‘मोहल्ला अस्सी’ में कलाकारों के मुंह से एक के बाद एक कई सीन्स में गाली सुनने को मिलती है। फिल्म में आपको ऐसे दृश्य भी हैरान कर सकते हैं जिसमें भगवान शिव के किरदार के मुख से भी गाली निकलती है। सेंसर बोर्ड में फिल्म के अटकने की एक वजह ये दृश्य भी थे। फिल्म में साक्षी तंवर और रवि किशन के अलावा फैजल रशीद ने भी दमदार अदाकारी दिखाई है। फिल्म का सेकेंड हाफ और भी मजबूत है। फिल्म में अमोद भट्ट ने संगीत दिया है। यह फिल्म काशीनाथ सिंह के उपन्यास ‘काशी का अस्सी’ पर आधारित है। फिल्म को 2.5 स्टार्स दिए गए हैं।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App