ताज़ा खबर
 

Mardaani 2 Movie Review, Rating: हिंसक प्रतिशोध की गाथा है रानी की ‘मर्दानी 2’

Mardaani 2 Movie Review, Rating: ये फिल्म महिलाओं के साथ हो रहे बलात्कार की घटनाओं को लेकर बनाई गई है। राजस्थान के कोटा को केंद्र बनाकर कहानी गढ़ी गई है।

Mardaani 2, Mardaani 2 review, Mardaani 2 movie review, Mardaani 2 film review, Mardaani 2 cast, panipat rating, Mardaani 2 review, Mardaani 2 movie release, Mardaani 2 box office collection, Mardaani 2 movie rating, Mardaani 2 film rating, Mardaani 2 film review, Rani Mukerji Mardaani 2, Rani Mukerji Mardaani 2 review, Rani Mukerji Movie Mardaani 2फिल्म मर्दानी 2 में रानी मुखर्जी

Mardaani 2 Movie Review, Rating: साल 2014 में रानी मुखर्जी की फिल्म आई थी `मर्दानी’। `मर्दानी 2’ उसी का सिक्वेल है। ये फिल्म महिलाओं के साथ हो रहे बलात्कार की घटनाओं को लेकर बनाई गई है। राजस्थान के कोटा को केंद्र बनाकर कहानी गढ़ी गई है। यहीं पर पोस्टेड है पुलिस अधिकारी शिवानी शिवाजी रॉय (रानी मुखर्जी) और यहीं का है सनी (विशाल जेठवा), जो एक सीरियल रेपिस्ट है। सनी चालाक, धूर्त, शातिर और हृदयहीन है। उसे पकड़ना या कानून के फंदे में लाना आसान नहीं है। पर उसका सामना होता है एक ऐसी महिला पुलिस अधिकारी से जो न सिर्फ जांबाज है बल्कि महिलाओं के साथ होनेवाले किसी अत्याचार को मिटाने के लिए कटिबद्ध है।

शिवानी सरेआम उन लोगों की धुलाई करती है जो महिलाओं के साथ यौन दुर्व्यहार करते हैं। क्या शिवानी ऐसे चालाक अपराधी को कानूनी शिकंजे में ले पाएगी?
इसमें संदेह नहीं कि `मर्दानी 2’ उस समय आई है जब महिलाओं और लड़कियों के साथ यौन दुर्व्यवहार की घटनाएं बढ़ रही हैं। पर ये उस समय भी आई है जो पुलिस कानून अपने हाथ में लेकर उन लोगों का काउंटर करते हुए उनकी हत्याएं भी कर रही है जिन पर बलात्कारी होने के आरोप है।

हैदराबाद एक हालिया उदाहरण है। ये फिल्म भी पुलिस के कानून हाथ में लेने और अपराधियों को अपनी तरफ से दंड देने की वकालत करती दिखती है। `मर्दानी 2’ हिंसक प्रतिशोध की कहानी भी है। क्या ऐसे हिंसक प्रतिशोध का समर्थन किया जाना चाहिए। ये सवाल भी उठता है। हम एक न्यायप्रिय समाज बनाना चाहते हैं या प्रतिशोध से भरा समाज। हालांकि इस तरह के संदेश कई फिल्मों में आए हैं और आते रहे हैं। इसलिए `मर्दानी 2’ में जो दिखाया गया है उसमें नया कुछ नहीं है।

यहां सिर्फ ये कहा जा रहा है कि ये फिल्म यौन दुर्व्यवहार को जितनी संवेदनशील बताती है उससे अधिक पुलिस द्वारा कानून को हाथ में लेने के समर्थन में खड़ी दिखती है। रानी मुखर्जी पुलिस अधिकारी की भूमिका में जबरदस्त लग रही हैं। कह सकते हैं कि ये फिल्म `सिंघम’जैसी फिल्मों की कड़ी में है जिसमें पुलिस अधिकारी को ईमानदार के साथ-साथ अपराधियों की ठुकाई करनेवाला दिखाया जाता रहा है। रानी अब अपने कैरियर के उस दौर में हैं जहां वो किसी रोमांटिक भूमिका के लिए नहीं रह गई हैं।

इसलिए पुलिस अधिकारी की भूमिका में ही लीड रोल में आ रही हैं। अभी भी वे अपने चेहरों पर जज्बात दिखाने में सक्षम हैं। जहां तक फिल्म के खलनायक विशाल जेठवा का मसला है वे एक नई खोज की तरह हैं। हालांकि वे टेलीविजन के जाने माने कलाकार हैं पर अपने इस फिल्मी रूप में वे एक ऐसे शख्स के रूप में सामने आते हैं जो मनोवैज्ञानिक स्तर पर भी क्रूर यानी `साइको’ है। बिना किसी पश्चाताप के अपराध करनेवाला।

मर्दानी 2 (2 1/2*)
निर्देशक- गोपी पुत्रन
कलाकार- रानी मुखर्जी, विशाल जेठवा, जिसु सेनगुप्ता, दीपिका अमीन, श्रुति बापना

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Pati Patni Aur Woh Movie Review, Rating: टूटते भरोसे और नाजायज संबंधों की कहानी है ‘पति पत्नी और वो..’
2 Panipat Movie Review: एक पराजय गाथा में लिपटी शौर्य कथा है अर्जुन कपूर की Panipat
3 Commando 3 Moview Review: भटकते भटकते कमांडो कहां पहुंचा?
ये पढ़ा क्या?
X