X

Laila Majnu Movie Review: कश्मीर की वादियों में इश्क की रूहानी कहानी है ‘लैला-मजनूं’

Paltan Movie Review and Rating: 'लैला-मजनूं' 7 सितंबर को सिनेमाघरों में दस्तक दे चुकी है। क्रिटिक्स ने फिल्म को पांच में से दो स्टार्स दिए हैं।

Laila Majnu Movie Review and Rating: ‘लैला-मजनूं’ प्रेम की खूबसूरत दास्तां बयां करती है। कहा जाता है कि कुछ प्रेम कहानियां कभी नहीं मरती क्योंकि लोगों का प्रेम से भरोसा कभी नहीं टूटता। एकता कपूर की ‘लैला-मजनूं’ भी रोमांटिक लव स्टोरी है जिसमें ड्रामा और सस्पेंस दोनों हैं। फिल्म की कहानी इम्तियाज अली ने लिखी है और फिल्म का निर्देशन साजिद अली ने किया है। कहा जाता है कि प्रेम-कहानियों को परदे पर उतारने की कला इम्तियाज को बखूबी आती है। लैला-मजनूं की कहानी शुरूआत में तो आपको थोड़ी धीमी लग सकती है लेकिन बाद में आप इस कहानी ने इमोशनली जुड़ जाते हैं।

फिल्म की कहानी कश्मीरी पृष्ठभूमि पर आधारित है। फिल्म में लैला (तृप्ति तिमरी) और कैस( अविनाश तिवारी) की लवस्टोरी को दिखाया गया है। फिल्म में आपको प्रेमी-प्रेमिका के बीच होने वाली खट्टी-मीठी नोंक-झोक और रोमांस को बखूबी दिखाया गया है। कश्मीर की खूबसूरत वादियों के बीच लैला-कैस के रोमांटिक लम्हों को अच्छी तरह से कैप्चर किया गया है। फिल्म में काफी खूबसूरत संवाद भी हैं। जिनमें से एक है- ‘प्यार का प्रॉब्लम क्या है न, जबतक कि उसमें पागलपन न हो वो प्यार ही नहीं।’

फिल्म की कहानी की बात करें तो कैस की एक बार लैला पर निगाह पड़ती है और उसे पहली नजर में ही लैला पसंद आ जाती है। कैस लैला के साथ जिंदगी गुजारने का सपना देखने लगता है। दोनों की एक-दो मुलाकातों में ही लैला को भी कैस से प्यार हो जाता है। दोनों परिवार वालों से छिप-छिप कर कश्मीर की वादियों में मिलने लगते हैं। कहानी में ट्विस्ट तब आता है जब लैला के परिवार को कैस के बारे में पता चल जाता है और वह कैस और लैला को दूर करने के लिए हर संभव कोशिश करते हैं। लेकिन लैला के प्यार में पागल कैस उससे दूर जाने के लिए तैयार नहीं होता है। तो क्या कैस की हो पाएगी लैला या फिर हो जाएगी दोनों की राहें जुदा, जानने के लिए आपको सिनेमाघरों का रुख करना पड़ेगा। ‘लैला-मजनूं’ 7 सितंबर को सिनेमाघरों में दस्तक दे चुकी है। क्रिटिक्स ने फिल्म को पांच में से दो स्टार्स दिए हैं।

  • Tags: laila majnu,
  • Outbrain