ताज़ा खबर
 

डॉक्टर स्ट्रेंज मूवी रिव्यू: सुपरहीरो मूवी के लिहाज से फिल्म का कैनवास बहुत बड़ा और आलीशान है

डॉक्टर स्ट्रेंज रिव्यू: अपने प्रेजेन्टेशन में यह फिल्म पूरे नंबर पाने की हकदार नजर आती है और दूसरी सुपरहीरोज फिल्म से काफी अलग भी है।

डॉक्टर स्ट्रेंज कास्ट: बैनेडिक्ट कम्बरबैच, च्विटेल ईजियोफोर, रशेल मैकएडम्स, बैनेडिक्ट वोंग, माइकल स्टलबार्ग, बेंजमिन ब्रैट
डॉक्टर स्ट्रेंज डायरेक्टर:स्कॉट डैरिक्सन

फिल्म में मार्वल के इस डॉक्टर के हैरतअंगेज कारनामों से लोग हैरान तो होंगे ही साथ ही इसे पसंद भी करेंगे। मार्वल कॉमिक्स के सुपरहीरोज पर बनी फिल्में हमेशा ही दर्शकों को एंटरटेन करती आई हैं। इसी सीरीज में डॉक्टर स्ट्रेंज एक नया सुपर हीरो इस कड़ी में डॉक्टर स्ट्रेंज एक नया सुपरहीरो है।

स्टीफन स्ट्रेंज उर्फ डॉ. स्ट्रेंज (बैनेडिक्ट कम्बरबैच) एक फेमस न्यूरोजर्सन हैं। एक भयानक एक्सिडेंट में में वह अपने दोनों हाथ गंवा चुका है। स्ट्रेंज को लगता है कि वह हर चीज के बारे में सब कुछ जानता है, लेकिन जैसे-जैसे फिल्म आगे बढ़ती है तो हर मोड़ पर उसे ये अहसास होता है कि वह असल में वह किसी भी चीज के बारे में कुछ भी नहीं जानता। कहानी नेपाल से शुरू होती है। जहां कमर ताज से कैलिकस (मैड्स मिकिलसन) और उसके अनुयाइयों ने वहां के लाइब्रेरियन का कत्ल कर रहस्यमय जानकारियों वाली एंशियंट वन (टिल्डा स्विंटन द्वारा निभाया गया एक काल्पनिक किरदार, जो डॉक्टर स्ट्रेंज का आर्दश भी है) की किताब चुरा ली है। एंशियंट वन, कमर ताज में रहस्यमयी शक्तियों के बारे में पढ़ाती है और वो कब से जिंदा है, ये अब तक कोई जान नहीं पाया है। चोरी की खबर पाने पर एंशियंट वन, कैलिकस का पीछा करती है, जिस वजह से कैलिकस पूरी किताब तो नहीं ले जा पाता, पर किताब के कुछ पन्ने साथ ले जाने में सफल हो जाता है।

वहीं एक भयानक कार हादसे में अपने हाथ गंवा चुके डॉ स्ट्रेंज के साथ काम करने वाली वह उनका प्यार रह चुकीं चुकी क्रिस्टीन पाल्मर (रशेल मैकएडम्स) इस हादसे को भुलाने में स्ट्रेंज की मदद कर रही है। लेकिन स्ट्रेंज का पूरा ध्यान अपने बेकार हो चुके हाथों को दोबारा पाने में है। महीनों तक कई सर्जरी के बाद स्ट्रेंज एक दिन जॉनाथन पैंगबॉर्न नाम के व्यक्ति से मिलता है, जो ऐसे ही एक हादसे में अपने पैर गंवाने के बाद फिर से चलने लगा था। पैंगबॉर्न, स्ट्रेंज को कमर ताज लेकर जाता है, जहां पहले उसकी मुलाकात कार्ल मोर्डो (च्विटेल ईजियोफोर) से और फिर एंशियंट वन से होती है। एंशियंट वन, स्ट्रेंज को अपनी शक्तियों से रू-ब-रू कराती है। स्ट्रेंज की काफी मिन्नतों के बाद एंशियंट वन उसे अपनी सब शक्तियां देने के लिए राजी हो जाती है।

वीडियो:Movie Review- प्यार, दोस्ती, रोमांस और एंटरटेनमेंट का एक बेहतरीन पैकेज है ‘ऐ दिल है मुश्किल’

पुराने लाईब्रेरियन के मर्डर के बाद अब लाईब्रेरी की देख-रेख मास्टर वांग (बैनेडिक्ट वांग) के हाथों में है। स्ट्रेंज को यहां पता चलता है कि धरती को तीन अदृश्य शक्तियों ने सुरक्षित कर रखा है। स्ट्रेंज को अपने हाथ वापस पाने के लिए धरती की रक्षा के टास्क में मदद करनी है। जल्दबाजी दिखाते हुए स्ट्रेंज, कैलिकस के चुराए गए पन्नों को पढ़ लेता है और समय को घुमाने की शक्ति हासिल कर लेता है। वांग और मोर्डो, स्ट्रेंज को चेतावनी देते हैं कि ऐसा करना खतरनाक हो सकता है। उधर, कैलिकस और उसके अनुयाई काली शक्तियों के मालिक डोरमाम्मू का आह्वान करते हैं, जिसकी वजह से धरती का एक सुरक्षित हिस्सा नष्ट होने लगता है। इसी बीच स्ट्रेंज और मोर्डों को कैलिकस बताता है कि एंशियंट वन की लंबी उम्र का राज भी डोरमाम्मू की काली शक्तियां ही हैं। कैलिकस, एंशियंट वन को घायल कर हॉन्गकॉन्ग भाग जाता है।

स्ट्रेंज और मोर्डो को पता लगता है कि रहस्यमयी काली शक्तियों ने धरती पर अपने पांव पसारने शुरू कर दिये हैं। स्ट्रेंज अपनी शक्तियों का प्रयोग कर समय को पलट देता है। अब स्ट्रेंज का निशाना डोरमाम्मू और उसकी काली शक्तियां हैं, जिन्हें वह नष्ट करना चाहता है। लेकिन इस पूरी कवायद में मोर्डो का साथ कुछ टूटने सा लगता है, क्योंकि मोर्डो को ये पता चल गया है कि एंशियंट वन काली शक्तियों के बल पर ही इतने सालों से जिंदा थी। इन सब बातों से स्ट्रेंज की चुनौतियां और बढ़ जाती हैं।

इसमें कोई दो राय नहीं कि एक नए सुपरहीरो के रूप में डॉक्टर स्ट्रेंज को लोग पसंद करेंगे। लेकिन सबसे ज्यादा उत्साह तो इस फिल्म के विजुअल इफेक्ट्स जगाते हैं। 3डी में इसका मजा दोगुना हो जाता है। एक सुपरहीरो मूवी के लिहाज से फिल्म का कैनवास बहुत बड़ा और आलीशान है। काली शक्तियों का चित्रण, एंशियंट वन का किरदार, उसके आस-पास का माहौल और एक्शन के तमाम सीन्स लाजवाब हैं। अपने प्रेजेन्टेशन में यह फिल्म पूरे नंबर पाने की हकदार नजर आती है और दूसरी सुपरहीरोज फिल्म से काफी अलग भी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.