Dobaara Review: कहानी में दम नहीं लेकिन जबरदस्त एक्टिंग से हुमा कुरैशी और साकिब ने डाली जान- Dobara Movie Review and Film IMDB Ratings in Hindi - Jansatta
ताज़ा खबर
 

Dobaara Review: कहानी में दम नहीं लेकिन जबरदस्त एक्टिंग से हुमा कुरैशी और साकिब ने डाली जान

Dobaara Review: फिल्म दोबारा में पहली बार हुमा कुरैशी और उनके रियल भाई शाकिब सलीम की जोड़ी दिखाई देगी। यह पहला मौका है जब दोनों भाई-बहन ने किसी फिल्म में साथ काम किया है।

दोबारा इंग्लिश हॉरर फिल्म ‘ओक्युलस’ की ऑफिशियल हिंदी रीमेक के रूप में बनाई गई है।

स्टार कास्ट: हुमा कुरैशी, शाकिब सलीम, आदिल हुसैन, लिसा रे, रिया चक्रवर्ती

डायरेक्टर: प्रवाल रमन

रेटिंग: 2.5 स्टार

बॉक्स आॅफिस पर इस शुक्रवार हॉरर फिल्म दोबारा: सी योर इविल रिलीज हुई हैं। फिल्म दोबारा में पहली बार हुमा कुरैशी और उनके रियल भाई शाकिब सलीम की जोड़ी दिखाई देगी। यह पहला मौका है जब दोनों भाई- बहन ने किसी फिल्म में साथ काम किया है। दोबारा इंग्लिश हॉरर फिल्म ‘ओक्युलस’ की ऑफिशियल हिंदी रीमेक के रूप में बनाई गई है। यह कहानी है लंदन में रहने वाली भाई-बहन नताशा मर्चेट हुमा और कबीर मर्चेट साकिब की। जो 11 साल पहले अलग हो गए थे। लेकिन एक मर्डर की गुत्थी सुलझाने के लिए दोनों भाई-बहन फिर साथ आते हैं। नताशा एक आर्ट गैलेरी में काम करती है वहां वह हॉन्टेड मिरर के बारे में पूछती है।

नताशा अपने बचपन के दिनों को याद करती है, जहां उसके पिता एलेक्स आदिल और मदर लिसा लिसा, भाई कबीर और उनके पेट रैंबो बहुत खुशी से रहते थे। उनकी लाइफ में सबकुछ अच्छा चल रहा था लेकिन एक दिन उनके पिता घर पर मिरर लेकर आते हैं। एलेक्स को नहीं पता होता कि शीशे के पीछे एक अलग तरह की सुपरनैचरल पावर है और वो सम्मोहित करती रहती है। अचानक एक दिन नताशा के पिता अपनी पत्नी को गोली मारकर हत्या कर देते हैं और उसका भाई अपने पिता को गोली मार देता है।

बड़े होने के बाद कबीर और नताशा अपने पेरेंट्स की डेथ के पीछे का राज जानने की कोशिश करते हैं। इस कड़ी में कई गुत्थियां एक-एक करके सुलझती हैं, जिसे जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी। कबीर और नताशा उस हॉन्टेड मिरर को नष्ट करना चाहते हैं लेकिन मिरर में छिपी सुपरनैचुरल पावर इतनी आसानी से इसमें उन्हें कामयाब नहीं होने देती। फिल्म में इस्तेमाल किए गए स्पेशल इफैक्ट्स और कैमरा वर्क कमाल का है।

डायरेक्टर प्रवाल रमन हमेशा से ही अलग तरह की फिल्में बनाने के लिए जाने जाते हैं चाहे वो डरना मना है, डरना जरूरी है, हो या फिर 404। इस फिल्म को इशान सक्सेना, प्रवाल रमन, सुनील शाह और विक्रम खाखर के मिले जुले प्रोडक्शन से बनाया गया है। फिल्म की कहानी प्रवाल रमन ने लिखी और फिल्म का निर्देशन भी खुद उन्होंने ही किया है। हुमा और साकिब ने काफी अच्छी एक्टिंग की है जो दर्शकों को जरूर इम्प्रेस करेगी।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App