ताज़ा खबर
 

Batla House Movie Review and Rating: सच्ची घटना पर आधारित है जॉन अब्राहम की फिल्म, ‘बटला हाउस’ में है एक्शन का डबल डोज

Batla House Movie Review, IMDB Rating Download Online: बतौर एक्शन फिल्म `बटला हाउस’ एक ऐसी अच्छी थ्रिलर मूवी है जिसमें दो तरह के जज्बात हैं। एक तो पुलिस की कर्तव्यपरायणता के।

फिल्म बटला हाउस का एक सीन।

Batla House Movie Review and Rating:  साल 2008 में दिल्ली में जामिया नगर इलाके में बटला हाउस एनकाउंटर हुआ था जिसमें दिल्ली पुलिस के एक इंस्पेक्टर मोहन चंद्र शर्मा की मृत्यु हुई थी। ये एनकाउंटर काफी विवादास्पद भी हो गया था और तब कुछ दलों की तरफ से इसे मानवाधिकार हनन से जोड़ा गया था। बटला हाउस एनकाउंटर के बारे में भी कहा गया था कि ये आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिद्दीन से जुड़े आतंकवादियों को धर दबोचने के मकसद के अभियान के क्रम मे हुआ था।

फिल्म उसी घटना से प्रेरित है। हालांकि यहां भी काल्पनिक आजादी ली गई है। और इस काल्पनिक आजादी का अगर काल्पनिक नुकसान किसी को हुआ है तो मारे गए पुलिस इंस्पेक्टर मोहन चंद्र शर्मा को। उनके व्यक्तित्व के आधार पर केके वर्मा नाम का जो चरित्र यहां गढ़ा गया है वो इस फिल्म का नायक नहीं है। नायक है संजय कुमार जो आईपीएस अधिकारी है और जिसका किरदार जॉन अब्राहम ने निभाया है। केके वर्मा का चरित्र रवि किशन ने निभाया है जो अब सांसद हो गए हैं। बेशक सांसद बनने के पहले ये फिल्म साइन की होगी। अब नहीं करते या करते भी तो भी उनका रोल बड़ा होता। और हां, फिल्म के अंत में संकेत किया गया है कि संजय कुमार का चरित्र पुलिस अधिकारी संजीव यादव से प्रेरित है।

Batla House Box Office Collection Day 1 LIVE Updates:

बहरहाल इन पहलुओं को छोड़ दें तो बतौर एक्शन फिल्म `बटला हाउस’ एक ऐसी अच्छी थ्रिलर मूवी है जिसमें दो तरह के जज्बात हैं। एक तो पुलिस की कर्तव्यपरायणता के। फिल्म ये साफ साफ कहती है पुलिस के जवान और अधिकारी अपनी जान की बाजी लगाकर आंतकवादियों को पकड़ने की कोशिश करते हैं लेकिन नेता लोग और कुछ टीवी चैनल वाले ऐसे पुलिसकर्मियों की आलोचना करने में जुट जाते है और उनको ऐसा पेश करने लगते हैं मानों वे वर्दी के तहत काम करनेवाले अपराधी हों। हालांकि ये मतलब इसलिए भी निकलता है कि फिल्म में एक संदेहास्पद व्यक्ति को पकड़ने के लिए पुलिस सीधे एक न्यूज चैनल में छापामार की तरह पहुंचती है। हालांकि आम जीवन में ऐसा होता नही है लेकिन अगर फिल्म मे आप काल्पनिक आजादी लेना चाहें तो इस तरह की हरकतें दिखानी पड़ती हैं। यानी `बटला हाउस’ ये सीधे सीधे कहती है कि पुलिस हमेशा सही होती है और खबरिया चैनल गलत।

Batla House Full Movie Leaked Online:

जॉन अब्राहम ने इसमें ऐसे पुलिस अधिकारी की भूमिका निभाई है जो जाबांज तो है लेकिन मानसिक समस्याओं से जूझ रहा है। इस तरह उनके चरित्र की कई तहें हैं। वह अपनी जान की बाजी लगा सकता है लेकिन कुछ मौकों पर कुछ बोल नहीं पाता सिर्फ हाथ की उंगलिया इधर उधर करता रहता है। मृणाल ठाकुर ने संजय कुमार की पत्नी नंदिता की भूमिका निभाई है। नंदिता एक टीवी चैनल में काम करती है और वहां एंकर है। इसलिए पति- पत्नी में तनाव के मामले भी सामने आते हैं। फिल्म वैसे तो चुस्त है लेकिन आखिर का अदालती सीन लंबा और कुछ कुछ बोर हो गया है। लेकिन बतौर वकील राजेश शर्मा नए अंदाज में दिखे हैं और अदालत में भी एक्टिंग करते हैं। नोरा फतेही पर फिल्माया गया गाना `साकी ओ साकी’ पुराने गाने का रिमिक्स है फिर भी जमता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Mission Mangal Movie Review and Rating: भारतीयों का गर्व से सिर ऊंचा करती है ‘मिशन मंगल’
2 Jabariya Jodi Movie Review and Rating: जबरिया खींचती हुई फिल्म
3 Fast and Furious 9 Movie Review and Rating: दुनिया में तबाही मचाने का मिशन, एक्शन-सस्पेंस से भरपूर है हॉलीवुड फिल्म