ताज़ा खबर
 

रविवार को क्यों नहीं तोड़ी जाती तुलसी, जानिए

तुलसी के पौधों को घर के आंगन में लगाना चाहिए। साथ ही इसे घर में लगाने का सबसे उत्तम महीना कार्तिक का होता है।

भगवान विष्णु को तुलसी प्रिय बनाने का श्रेय भगवान गणेश को जाता है।

सनातन धर्म में शुभ मुहूर्त देखकर कार्य किए जाते हैं। वहीं पूजा-पाठ भी समय के अनुसार किए जाते हैं। शुभ कार्य में इस्तेमाल की जाने वाली चीजों का भी पूजा में बहुत महत्व होता है। अलग-अलग देवों को प्रसन्न करने के लिए अलग-अलग तरह का प्रसाद तैयार किया जाता है। वहीं तुलसी को लेकर मान्यता है कि रविवार को तुलसी नहीं तोड़नी चाहिए। तुलसी पत्र तोड़ने से लेकर पूजा में इस्तेमाल करने के बारे में अनेक मान्यताएं हैं। जैसे गुरुवार के दिन तुलसी का पौधा लगाना चाहिए। तुलसी के पौधों को घर के आंगन में लगाना चाहिए। साथ ही इसे घर में लगाने का सबसे उत्तम महीना कार्तिक का होता है। हिंदू धर्म में इसी तरह की अनेक मान्यताएं फैली है। इसके साथ ही माना जाता है रविवार के दिन तुलसी तोड़ना अशुभ होता है। आइए जानते हैं रविवार को तुलसी क्यों नहीं तोड़नी चाहिए।

रविवार विष्णु भगवान का दिन माना जाता है। और तुलसी विष्णु की प्रिय मानी जाती है। इसलिए रविवार के दिन तुलसी नहीं तोड़नी चाहिए। भगवान विष्णु को तुलसी प्रिय बनाने का श्रेय भगवान गणेश को जाता है। गणेश जी के वरदान से ही तुलसी कलयुग में भगवान विष्णु और कृष्ण जी की प्रिय बनी और जगत को जीवन और मोक्ष देने वाली भी बनी। लेकिन गणेश जी ने यह शाप भी दिया थी कि उनकी पूजा में कभी तुलसी नहीं चढ़ाई जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App