X

जानिए किसे कहते हैं जीवन रेखा, किन दशाओं में इसे माना जाता है शुभ

हस्तरेखा विज्ञान की मानें तो जीवन रेखा का गहरी होना जरूरी है। कहते हैं कि जिन लोगों की जीवन रेखा हल्की होती है, वे लोग कमजोर स्वभाव के होते हैं।

क्या आप जानते हैं कि हम सबकी हथेली पर एक जीवन रेखा पाई जाती है? क्या आपको मालूम है कि किन दशाओं में इस जीवन रेखा को हमारे लिए लाभकारी माना जाता है? यदि नहीं तो आज हम आपको इस बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं। जी हां, हस्तरेखा विज्ञान के मुताबिक हम सबकी हथेली पर एक जीवन रेखा पाई जाती है। हर किसी की हथेली पर मुख्य रूप से तीन रेखाएं होती हैं। इनमें से सबसे पहली यानी कि हथेली के नीचले हिस्से से निकली हुई लाइन को जीवन रेखा कहा जाता है। हस्तेरखा विज्ञान में इस जीवन रेखा का बहुत ही महत्व है। चलिए जानते हैं कि यह जीवन रेखा हमारे जीवन को किसी तरह से प्रभावित करती है।

कुछ लोगों की हथेली पर यह जीवन रेखा गोलाकार रूप में होती है। ऐसे लोगों के बारे में कहा जाता है कि ये जिंदादिल इंसान होते हैं। माना जाता है कि ऐसे लोग बड़े ही सकारात्मक होते हैं और अपने जीवन में काफी तरक्की करते हैं। जीवन रेखा का कटा हुआ ना होना भी बड़ा ही लाभकारी माना गया है। कहते हैं कि ऐसी जीवन रेखा को धारण करने वाले लोगों का स्वास्थ्य बहुत ही अच्छा रहता है। माना जाता है कि ये लोग बीमार बहुत कम पड़ते हैं और शारीरिक रूप से काफी ऊर्जावान होते हैं।

हस्तरेखा विज्ञान की मानें तो जीवन रेखा का गहरी होना जरूरी है। कहते हैं कि जिन लोगों की जीवन रेखा हल्की होती है, वे लोग कमजोर स्वभाव के होते हैं। इसके साथ ही उनकी सेहत भी काफी कमजोर रहती है। इसके अलावा जीवन रेखा का पतली होना भी अच्छा माना जाता है। कहा जाता है कि ऐसे लोग काफी ऊर्जावान होते हैं। मालूम हो कि जीवन रेखा का अंदर की ओर झुका होना सही नहीं कहा जाता है। कहते हैं कि इससे व्यक्ति गंभीर बीमारियों की चपेट में आ जाता है।

ऐसा कहा जाता है कि जिन लोगों की जीवन रेखा शुक्र पर्वत को घेरे हुए होती है, उनकी शादीशुदा जिंदगी काफी अच्छी होती है। माना जाता है कि ऐसे पति-पत्नी के बीच बात-बात पर लड़ाई नहीं होती और वे लोग काफी मिलजुलकर रहते हैं। यदि पति-पत्नी में से किसी की एक की हथेली पर भी ऐसी जीवन रेखा हो तो इसे शुभ माना जाता है।

कुछ लोगों की हथेली में स्थित जीवन रेखा के साथ ही एक और रेखा समानांतर रूप से चल रही होती है। हस्तरेखा विज्ञान में इस दशा को शुभ माना गया है। कहते हैं कि ऐसे लोगों की इच्छाशक्ति गजब की होती है। साथ ही ये लोग अपनी इच्छा को पूरा करने के लिए काफी मेहनत भी करते हैं।

  • Tags: Religion,
  • Outbrain
    Show comments