scorecardresearch

आज का पंचांग, 15 नवंबर 2020: आज बनेगा अभिजीत मुहूर्त, जानिये गोवर्धन पूजा का शुभ मुहूर्त और राहु काल का समय

Aaj Ka Panchang/ Govardhan Puja 2020: गोवर्धन पूजा के दिन भगवान श्री कृष्ण की उपासना की जाती है। कहते हैं कि इस दिन भगवान गोवर्धन, राधा रानी और भगवान श्री हरि की आराधना भी करनी चाहिए।

govardhan puja 2020, govard2020han puja, 15 november
Govardhan Puja 2020: गोवर्धन पूजा से पहले पंचांग देख लेना चाहिए।
Today Panchang 15 November 2020 (आज का पंचांग): हिंदू पंचांग के मुताबिक हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को गोवर्धन पूजा मनाई जाती है। गोवर्धन पूजा के दिन भगवान श्री कृष्ण की उपासना की जाती है। कहते हैं कि इस दिन भगवान गोवर्धन, राधा रानी और भगवान श्री हरि की आराधना भी करनी चाहिए।

साथ ही इस दिन गोबर से गोवर्धन पर्वत बनाकर उसकी भी पूजा करनी चाहिेए। कहते हैं कि किसी भी पूजा पाठ को करने के दौरान पंचांग और मुहूर्त का खास ख्याल रखना चाहिए। बिना मुहूर्त में किये गये कार्यों का फल नहीं मिलता है। इस साल गोवर्धन पूजा का त्योहार 15 नवंबर यानी आज मनाया जाएगा। आइए जानते हैं आज का पंचांग और शुभ मुहूर्त –

बन रहा है अभिजीत मुहूर्त – आज के दिन अभिजीत मुहूर्त बन रहा है। सुबह 11 बजकर 44 मिनट से दोपहर 12 बजकर 27 मिनट अभिजीत मुहूर्त बना रहेगा। बता दें कि इस योग को बहुत अच्छा माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इस योग में किये गए कार्य निश्चित तौर पर सफल होते हैं। इस योग में नई नौकरी या कोई धार्मिक कार्य करना चाहिए। जैसा कि नाम से प्रतीत होता है, इस योग में किये गए कर्म शुभ फल देने वाले होते हैं।

आज शाम 5 बजकर 16 मिनट तक विशाखा नक्षत्र रहेगा। कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष में 15 नवंबर, रविवार सुबह 10 बजकर 36 मिनट तक अमावस्या तिथि रहेगी। उसके बाद प्रतिपदा शुरू हो जाएगी।

आज के शुभ मुहूर्त – दोपहर 1 बजकर 53 मिनट से 2 बजकर 36 मिनट तक विजय मुहूर्त रहेगा। शाम 5 बजकर 17 मिनट से 5 बजकर 41 मिनट तक गोधूलि मुहूर्त का समय है। सायाह्न सन्ध्या का समय शाम 5 बजकर 27 मिनट से 6 बजकर 47 मिनट तक होगा। इसके अलावा, रात 11 बजकर 39 मिनट से 12 बजकर 33 मिनट तक निशिता मुहूर्त लगा रहेगा।

कब रहेगा राहु काल – दोपहर 4 बजकर 7 मिनट से लेकर शाम 5 बजकर 27 मिनट तक राहु काल का समय है। वहीं, गुलिक काल का दोपहर 2 बजकर 46 मिनट से दोपहर 4 बजकर 7 मिनट तक रहेगा। इसके अलावा दोपहर 4 बजकर 2 मिनट से दोपहर 4 बजकर 44 मिनट तक दुर्मुहूर्त भी लगा रहेगा। इसके अलावा यमगण्ड काल दोपहर 12 बजकर 6 मिनट से लेकर दोपहर 1 बजकर 26 मिनट तक रहेगा।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट