ताज़ा खबर
 

आज का पंचांग, 14 नवंबर 2020: आज बनेगा अभिजीत मुहूर्त, जानिये दिवाली पूजा का शुभ मुहूर्त और राहु काल का समय

Aaj Ka Panchang/ Diwali 2020's Panchang: कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष में 14 नवंबर, शनिवार दोपहर 2 बजकर 17 मिनट तक चतुर्दशी तिथि रहेगी। उसके बाद अमावस्या शुरू हो जाएगी।

diwali 2020, diwali panchang, diwali shubh muhuratDiwali 2020 Panchang: दिवाली लक्ष्मी पूजन से पहले पंचांग देख लेना चाहिए।

Today Panchang 14 November 2020 (आज का पंचांग): हिंदू पंचांग के मुताबिक हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को दिवाली मनाई जाती है। दिवाली के दिन माता लक्ष्मी की उपासना की जाती है। कहते हैं कि इस दिन भगवान गणेश, भगवान कुबेर और भगवान धन्वंतरि की आराधना भी करनी चाहिए।

साथ ही इस दिन सोने-चांदी का भी पूजन किया जाता है। कहते हैं कि किसी भी पूजा पाठ को करने के दौरान पंचांग और मुहूर्त का खास ख्याल रखना चाहिए। बिना मुहूर्त में किये गये कार्यों का फल नहीं मिलता है। इस साल दिवाली का त्योहार 14 नवंबर यानी आज मनाया जाएगा। आइए जानते हैं आज का पंचांग और शुभ मुहूर्त –

बन रहा है अभिजीत मुहूर्त – आज के दिन अभिजीत मुहूर्त बन रहा है। सुबह 11 बजकर 44 मिनट से दोपहर 12 बजकर 27 मिनट अभिजीत मुहूर्त बना रहेगा। बता दें कि इस योग को बहुत अच्छा माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इस योग में किये गए कार्य निश्चित तौर पर सफल होते हैं। इस योग में नई नौकरी या कोई धार्मिक कार्य करना चाहिए। जैसा कि नाम से प्रतीत होता है, इस योग में किये गए कर्म शुभ फल देने वाले होते हैं।

आज दोपहर 2 बजकर 17 मिनट तक स्वाति नक्षत्र रहेगा। कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष में 14 नवंबर, शनिवार दोपहर 2 बजकर 17 मिनट तक चतुर्दशी तिथि रहेगी। उसके बाद अमावस्या शुरू हो जाएगी।

आज के शुभ मुहूर्त – दोपहर 1 बजकर 53 मिनट से 2 बजकर 36 मिनट तक विजय मुहूर्त रहेगा। शाम 5 बजकर 17 मिनट से 5 बजकर 41 मिनट तक गोधूलि मुहूर्त का समय है। सायाह्न सन्ध्या का समय शाम 5 बजकर 28 मिनट से 6 बजकर 47 मिनट तक होगा। इसके अलावा, रात 11 बजकर 39 मिनट से 12 बजकर 32 मिनट तक निशिता मुहूर्त लगा रहेगा।

कब रहेगा राहु काल – सुबह 9 बजकर 24 मिनट से लेकर सुबह 10 बजकर 45 मिनट तक राहु काल का समय है। वहीं, गुलिक काल का सुबह 6 बजकर 43 मिनट से सुबह 8 बजकर 4 मिनट तक रहेगा। इसके अलावा सुबह 6 बजकर 43 मिनट से सुबह 7 बजकर 26 मिनट तक दुर्मुहूर्त भी लगा रहेगा। इसके अलावा यमगण्ड काल दोपहर 1 बजकर 26 मिनट से लेकर दोपहर 2 बजकर 47 मिनट तक रहेगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Horoscope Today, 14 November 2020: मकर राशि के उदार लोगों के लिए आज रहेगा खुशनुमा दिन, दान-पुण्य करने से कुंभ राशि के जातकों को मिलेगी शांति
2 Dhanteras 2020 Puja Aarti: धनतेरस के दिन ये आरती पढ़ने की है मान्यता, जानें महत्व
3 Naraka Chaturdashi 2020 Puja Vidhi, Muhurat: किस विधि से करनी चाहिए नरक चतुर्दशी की पूजा, जानें शुभ मुहूर्त
यह पढ़ा क्या?
X