ताज़ा खबर
 

आज का पंचांग, 15 अगस्त 2020: अजा एकादशी पर दो तिथियों व नक्षत्रों का बन रहा योग, पंचांग से जानिये कब करें भगवान विष्णु की पूजा

Aja Ekadashi 2020, Aaj ka Panchang: भादो मास की कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि कल यानी 14 अगस्त दोपहर 2 बजे से ही शुरू हो चुकी है। आज दोपहर 2 बजकर 20 मिनट तक एकादशी तिथि रहेगी, इसके उपरांत कृष्ण पक्ष द्वादशी तिथि लग जाएगी।

aaj ka panchang, Aja Ekadashi 2020, ekadashi in 2020, panchang 2020, panchang today, ekadashi panchangआज सुबह 11 बजकर 59 मिनट से दोपहर 12 बजकर 51 मिनट तक अभिजित मुहूर्त रहेगा

Today Panchang 15 August 2020 (आज का पंचांग): हर महीने में 2 एकादशी होती है, कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष दोनों में ही एकादशी का व्रत किया जाता है। भगवान विष्णु को एकादशी तिथि परम प्रिय है, इसलिए इस दिन उनकी पूजा का महत्व अधिक है। भाद्रपद महीने के कृष्ण पक्ष की एकादशी को अजा एकादशी मनाई जाती है। शास्त्रों में ऐसी मान्यता है कि जो भक्त अजा एकादशी के दिन व्रत रखते हैं, उन्हें अश्वमेध यज्ञ कराने के समान फल प्राप्त होते हैं। सभी वैष्णव या श्री कृष्ण के भक्त उनकी प्रसन्नता के लिए यह व्रत इसलिए करते हैं ताकि मृत्यु से पहले उन्हें भगवद्दर्शन हों। साथ ही यह भी कहा जाता है कि एकादशी का व्रत मोक्षदायक होता है। ऐसे में आइए जानते हैं 15 अगस्त साल 2020, दिन शनिवार का पंचांग –

दोपहर तक ही होगी एकादशी तिथि: भादो मास की कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि कल यानी 14 अगस्त दोपहर 2 बजे से ही शुरू हो चुकी है। आज दोपहर 2 बजकर 20 मिनट तक एकादशी तिथि रहेगी, इसके उपरांत कृष्ण पक्ष द्वादशी तिथि लग जाएगी। बता दें कि द्वादशी 16 अगस्त को दोपहर 1 बजकर 50 मिनट तक रहेगी।

दो नक्षत्रों का बन रहा है योग: आज के दिन सुबह 6 बजकर 36 मिनट तक मृगशिरा नक्षत्र रहेगा। उसके उपरांत अगले दिन सुबह 7 बजकर 3 मिनट तक आद्रा नक्षत्र लगा रहेगा। वहीं, अगर योग की बात करें तो सुबह 9 बजकर 8 मिनट तक हर्षण योग होगा। जबकि इसके बाद वज्र योग लगेगा जो कि अगले दिन सुबह 7 बजकर 52 मिनट तक कायम रहेगा।

ये हैं आज के शुभ मुहूर्त: आज सुबह 11  बजकर 59 मिनट से दोपहर 12 बजकर 51 मिनट तक अभिजित मुहूर्त रहेगा। विजय मुहूर्त दोपहर 02:34 पी एम से 03:26 पी एम तक रहेगा। 6 बजकर 40 मिनट से 7 बजकर 4 मिनट तक गोधूलि मुहूर्त का समय है। सायाह्न सन्ध्या का समय शाम 6:53 से 7:59 होगा। 08:52 पी एम से 10:30 पी एम अमृत काल का माना जा रहा है। इसके अलावा, रात 12 से 12 बजकर 47 मिनट से निशिता मुहूर्त लगा रहेगा।

राहुकाल भी जान लीजिए: सुबह 9 बजकर 11 मिनट से लेकर 10 बजकर 48 मिनट तक राहुकाल का समय है। जबकि सुबह 5:57 से 7:34 तक का समय गुलिक काल का माना जा रहा है। वहीं, 5:57 से 7:40 तक दुर्मुहूर्त भी लगा रहेगा। इसके अलावा, यमगंड काल दोपहर 2 बजे से 3 बजकर 39 मिनट तक रहेगा।

अजा एकादशी का पूजा मुहूर्त: पंचांग के मुताबिक पूजा का शुभ मुहूर्त रात 8 बजकर 52 मिनट से लेकर साढ़े दस बजे तक रहेगा। वहीं, पारण का समय अगली सुबह यानी 16 अगस्त को सुबह 16 अगस्त – 05:51 ए एम से 08:29 ए एम तक का है।

1-अजा एकादशी का दिन आपके लिए क्या लेकर आएगा खास, जानिये अपना आज का राशिफल यहां

2-अजा एकादशी आज: पढ़ें एकादशी की प्राचीन व्रत कथा

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अजा एकादशी पर भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए पढ़ें ये स्तोत्र और आरती
2 अजा एकादशी कल: जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, पारण का समय और सभी जरूरी बातें
3 सुख-समृद्धि के लिए कैसी होनी चाहिए आपकी रसोई, जानिये क्या कहता है वास्तु शास्त्र
ये पढ़ा क्या?
X