ताज़ा खबर
 

ये फूल चढ़ाने से प्रसन्न होती हैं सरस्वती जी, इन बातों का रखें ध्यान

आप चाहें तो सरस्वती जी की पूजा में सफेद कनेर के फूलों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस दौरान इस बात का ध्यान रखें कि फूलों पर किसी प्रकार की गंदगी ना हो।

Author नई दिल्ली | May 22, 2018 7:55 PM
सरस्वती जी।

सरस्वती जी को विद्या की देवी कहा जाता है। कहते हैं कि सरस्वती जी की कृपा से व्यक्ति का पढ़ाई-लिखाई में मन लगता है और वह परीक्षाओं में सफलता हासिल करता है। इसलिए विद्यार्थियों के बीच सरस्वती जी का विशेष महत्व है। विद्यार्थी व अन्य दूसरे लोग भी सरस्वती जी की पूजा करते हैं और उन्हें प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुछ ऐसे फूल हैं जिनको अर्पित करने से सरस्वती जी काफी प्रसन्न होती हैं। वे बड़ी आसानी से अपने भक्त की पुकार सुन लेती हैं और उस पर उनकी कृपा बरसती है। आज हम इन्हीं फूलों के बारे में विस्तार से बात करेंगे। इसके साथ ही ये भी बताएंगे कि इस दौरान किन बातों का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए।

ऐसा कहा जाता है कि विद्या की देवी सरस्वती जी को सफेद और पीला रंग पसंद है। इसलिए उन्हें इन्हीं रंग के फूल चढ़ाए जाने चाहिए। ऐसे में आप सफेद गुलाब या पीले रंग के गेंदें के फूल का इस्तेमाल कर सकते हैं। सरस्वती जी की पूजा में इनके इस्तेमाल से वे काफी प्रसन्न होती हैं। मां को फूल अर्पित करते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वे सूखे हुए ना हों। ऐसा करने से सरस्वती जी आपसे नाराज हो सकती हैं।

आप चाहें तो सरस्वती जी की पूजा में सफेद कनेर के फूलों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस दौरान इस बात का ध्यान रखें कि फूलों पर किसी प्रकार की गंदगी ना हो। वे बेहद ही साफ-सुथरे और ताजे हों। हालांकि केतकी के सफेद फूलों को चढ़ाने से मना गया है। सामान्य तौर पर ऐसा कहा जाता है कि किसी भी देवी-देवता के पूजन में केतकी के फूलों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इनके प्रयोग से देवी-देवता प्रसन्न नहीं बल्कि दुखी होते हैं। इसलिए सरस्वती जी की पूजा में उपरोक्त बातों का ध्यान रखें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App