ताज़ा खबर
 

तुलसी माला पहनने के बताए गए हैं ये लाभ, धारण करते समय इन बातों का रखें ख्याल

तुलसी माला धारण करने से जीवन में सकारात्मकता आने की मान्यता है। कहा जाता है कि इसे धारण करने से नकारात्मकता दूर होती है और व्यक्ति के जीवन में उत्साह आता है।

Author नई दिल्ली | June 18, 2018 8:59 PM
तुलसी माला धारण करने से जीवन में सकारात्मकता आने की भी मान्यता है।

हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को मां का दर्जा दिया गया है। इसे तुलसी मां कहकर पुकारा जाता है। इसके साथ ही तुलसी के ढेरों फायदे भी बताए गए हैं। तुलसी के पेड़ की गिनती औषधीय पोधों में की जाती है। तुलसी के पत्तों, छाल और जड़ों में तमाम औषधीय गुण मौजूद हैं। इसके अलावा तुलसी माला धारण करने की प्रथा भी बहुत लोकप्रिय है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि तुलसी माला धारण करने के क्या लाभ हैं और इसे धारण करते वक्त किन बातों का ख्याल रखना चाहिए। आज हम इसी बारे में आपको विस्तार से बताने जा रहे हैं। ऐसा कहा जाता है कि तुलसी माला धारण करने से ग्रह दोष दूर होता है। इसके साथ ही तुलसी माला से कुंडली में बुध और गुरु की दशा भी काफी मजबूत होती है।

तुलसी माला को औषधीय लाभ के लिए भी धारण किया जाता है। कहते हैं कि गले में इसे धारण करने से तमाम बीमारियां दूर होती हैं। इसके साथ ही तुलसी माला धारण करने से जीवन में सकारात्मकता आने की भी मान्यता है। कहा जाता है कि तुलसी माला धारण करने से नकारात्मकता दूर होती है और व्यक्ति के जीवन में उत्साह आता है। इसके अलावा बुरी नजर से बचने के लिए भी तुलसी माला धारण करने की बात कही गई है।

इसके साथ ही तुलसी माला धारण करने से पहले कुछ खास बातों का ख्याल रखने के लिए कहा गया है। बताते हैं कि तुलसी माला धारण करने से पहले उसे गंगा जल और धूप दिखाना चाहिए। ऐसी मान्यता है कि तुलसी माला धारण करने वालों को प्याज और लहसुन का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके साथ ही ऐसे लोगों को मांस-मदिरा का सेवन करने के लिए भी मना किया गया है। ऐसा कहा जाता है कि तुलसी माला धारण करने के बाद व्यक्ति को पूरी तरह से धार्मिक कार्यों में लग जाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 माता मुंडेश्वरी के इस मंदिर में दी जाती है रक्तहीन बलि, जानिए कैसे
2 हृदय और मस्तिष्क रेखाएं एक हो जाएं तो जानिए क्या है उसका मतलब
3 जान‍िए लोग क्‍यों करते हैं दूध से जुड़े ये पांच टोटके