मनुष्य के जीवन को बर्बाद कर सकती हैं ये 3 चीजें, जानिये क्या कहती है विदुर नीति

महात्मा विदुर के अनुसार अत्यधिक काम भावना मनुष्य के जीवन को बर्बाद कर सकती है। इसलिए काम भावना पर नियंत्रण रखना बेहद ही जरूरी है।

Vidur Niti, Vidur Neeti, Religion News
महात्मा विदुर के अनुसार क्रोध जीवन को बर्बाद कर सकता है

महात्मा विदुर की तेज बुद्धि और दूरदर्शिता से हर कोई प्रभावित था। हस्तिनापुर के महामंत्री महात्मा विदुर और राजा धृतराष्ट्र के बीच ‘महाभारत’ युद्ध से पहले जितनी भी बातें हुई थीं, उन्हें ‘विदुर नीति’ के नाम से जाना जाता है। महाभारत काल के प्रसिद्ध महात्मा विदुर की नीतियां आज के समय में भी प्रासंगिक मानी जाती हैं, माना जाता है कि जो व्यक्ति विदुर जी की नीतियों को अपना लेता है, वह जिंदगी में सुखमय जीवन जीता है।

विदुर जी ने ऐसे तीन चीजों का जिक्र किया है, जो किसी की व्यक्ति की जिंदगी को पूरी तरह से बर्बाद कर देती हैं। इसलिए विदुर जी के मुताबिक इन तीन चीजों का तुरंत त्याग कर देना चाहिए।

मनुष्य को तुरंत कर देना चाहिए इन 3 चीजों का त्याग-

क्रोध: विदुर जी के अनुसार क्रोध मनुष्य के विवेक को नष्ट कर देता है। क्रोध किसी भी व्यक्ति के सोचने-समझने की शक्ति को पूरी तरह से खत्म कर देता है। गुस्सा में आकर मनुष्य ऐसा काम कर बैठता है, जिसके लिए बाद में उसे पछताना पड़ता है। गुस्से में मनुष्य को सही और गलत का भी ख्याल नहीं रहता। इसलिए दूसरे से अधिक वह खुद को नुकसान पहुंचा देता है। यही कारण है की महात्मा विदुर क्रोध का त्याग करने की सलाह देते हैं।

काम भावना: महात्मा विदुर के अनुसार अत्यधिक काम भावना मनुष्य के जीवन को बर्बाद कर सकती है। इसलिए काम भावना पर नियंत्रण रखना बेहद ही जरूरी है।

लोभ: किसी भी मनुष्य के लिए लोभ सबसे ज्यादा खतरनाक साबित होता है। क्योंकि लोभी मनुष्य सही और गलत का फैसला नहीं कर पाता। जो मनुष्य लोभी होता है, जीवन में उसे कभी संतुष्टि प्राप्त नहीं होती। इसी कारण लोभी मनुष्य की जिंदगी बर्बाद हो जाती है। इसलिए महात्मा विदुर कहते हैं की मनुष्य को अपने जीवन से लोभ को पूरी तरह से निकाल कर फेंक देना चाहिए।

पढें Religion समाचार (Religion News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट