ताज़ा खबर
 

Surya Shashti Vrat 2019, Katha, Puja Vidhi: आज है सूर्य षष्ठी व्रत, जानिए इस व्रत का विधि और महत्व

Surya Shashti Vrat 2019, Katha, Puja Vidhi: सूर्य षष्ठी व्रत को उन लोगों के लिए खास बताया गया है जिन्हें त्वचा और शारीरिक दुर्बलता की शिकायत है। इस व्रत की खासियत होती है कि इसमें पारण के बाद भी उस दिन नमक का सेवन नहीं किया जाता है।

surya shashti Vfrat 2019: सूर्य षष्ठी व्रत के लाभ और पूजा विधि

Surya Shashti Vrat, 4 September 2019 : सूर्य देव की उपासना और व्रत हमेशा निरोग रखने के लिए की जाती है। आज यानी 4 सितंबर 2019 को भाद्रपद शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि है। इस दिन को सूर्य षष्ठी या ललिता षष्ठी भी कहा जाता है। सूर्य षष्ठी व्रत पर सूर्य देव की पूजा होती है। पुराणों में भी इस व्रत का जिक्र करते हुए कहा गया है कि जो इस दिन के व्रत से भगवान सूर्य को प्रसन्न करता है उसके तेज में कई गुना वृद्धि होती है और वह निरोग होता है। इस दिन गंगा स्नान का भी विशेष महत्व है।

कैसे रखें सूर्य षष्ठी का व्रत (Surya Shasti Vrat Vidhi)

भाद्रपद माह की शुक्ल पक्ष में षष्ठी तिथि को ये व्रत रखा जाता है। इसके लिए व्रती को एक दिन पूर्व से सामान्य भोजन करना होता है। इसके बाद व्रत वाले दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान कर सूर्य देव को शुद्ध मन से जल समर्पित करना चाहिए। इसके साथ ही आपका व्रत शुरू हो जाता है। भगवान सूर्य को अर्ध्य देने के अलावा धूप, दीप, कपूर, लाल पुष्प आदि से उनका पूजन करना चाहिए।

इस दिन स्नान के पश्चात सात प्रकार के फलों, चावल, तिल, दूर्वा, चंदन आदि को जल में मिलाकर उगते हुए भगवान सूर्य को जल देने का भी प्रावधान पुराणों में देखा गया है। सूर्य को अर्घ्य देने के बाद सूर्य मंत्र का जाप 108 बार करना चाहिए।

क्या है सूर्य उपासना का मंत्र: भगवान सूर्य देव को अर्घ्य देते समय इस मंत्र का जाप करना चाहिए। “ऊँ घृणि सूर्याय नम:” अथवा “ऊँ सूर्याय नम:”

लाल रंग का है खास महत्व: बताया जाता है कि सूर्य देव को लाल रंग से खास स्नेह है। इस कारण अगर व्रत करने वाला लाल रंग का पुष्प उन्हें अर्पित करता है या लाल वस्त्र आदि दान करता है तो भगवान इससे प्रसन्न होते हैं। वहीं इस व्रत में डूबते हुए सूर्य को अर्घ्य देकर ही व्रत का पारण कर दिया जाता है। पर खास बात का ख्याल ये रखा जाता है कि व्रत तोड़ने के पश्चात भी नमक का सेवन वर्जित माना जाता है।

Next Stories
1 लव राशिफल 4 सितंबर 2019: कन्या राशि वालों की पार्टनर से हो सकती है अनबन, इन्हें है संतान प्राप्ति का योग!
2 राशिफल 4 सितंबर 2019: धनु राशि वालों को व्यापार में मिलेगा लाभ, इस राशि के जातक दुर्घटना से रहें सावधान!
3 Chanakya Niti: चाणक्य की इन नीतियों को अपनाने से दुश्मनों को किया जा सकता है परास्त
ये  पढ़ा क्या?
X