ताज़ा खबर
 

Surya Grahan 2021: सूर्य ग्रहण का सूतक कितने घंटे पहले हो जाता है शुरू, जानिए इस दौरान क्या न करें

Surya Grahan (Solar Eclipse) 2021 Sutak Date and Time: साल का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून 2021 को गुरुवार के दिन लगने जा रहा है। ग्रहण की शुरुआत दोपहर 1.42 बजे से होगी और इसकी समाप्ति शाम 6.41 बजे पर होगी।

Surya Grahan 2021: मान्यताओं अनुसार ग्रहण का सूतक काल लगते ही गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए।

Surya Grahan 2021 Date and Time: किसी भी ग्रहण से पहले सूतक काल शुरू हो जाता है। इस दौरान किसी भी तरह के शुभ कार्य और कुछ विशेष काम नहीं किये जाते हैं। चंद्र ग्रहण का सूतक काल 9 घंटे पहले तो सूर्य ग्रहण का सूतक 12 घंटे पहले लग जाता है। 10 जून को साल का पहला सूर्य ग्रहण लगने जा रहा है। यह ग्रहण शनि जयंती और वट सावित्री व्रत के दिन पड़ रहा है। मान्यताओं अनुसार ग्रहण का सूतक काल लगते ही गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। जानिए सूतक काल के समय और किन बातों का रखना चाहिए ध्यान…

2021 का पहला सूर्य ग्रहण: 
-साल का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून 2021 को गुरुवार के दिन लगने जा रहा है। ग्रहण की शुरुआत दोपहर 1.42 बजे से होगी और इसकी समाप्ति शाम 6.41 बजे पर होगी। ग्रहण का चरम समय शाम 4.16 बजे (IST) होगा। ये वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा जिस दौरान सूर्य कुछ क्षणों के लिए आसमान में आग की अंगूठी की तरह चमकता दिखाई देगा।
-यह ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा। जिस वजह से इसका सूतक काल भी मान्य नहीं होगा। ग्रहण काल में किसी भी तरह के कार्यों पर कोई पाबंदी नहीं होगी। ग्रहण कनाडा के कुछ हिस्सों, रूस, आर्कटिक महासागर, ग्रीनलैंड, उत्तरी अमेरिका, एशिया के कुछ भागों और यूरोप के प्रमुख हिस्सों में दिखाई देगा।
-यह ग्रहण विक्रम संवत 2078 में ज्येष्ठ माह की अमावस्या तिथि को अनुराधा नक्षत्र और वृषभ राशि में लगेगा।

ग्रहण के समय सूतक काल: जो लोग इस ग्रहण का सूतक काल मानेंगे उन्हें बता दें  कि सूर्य ग्रहण का सूतक काल ग्रहण लगने से ठीक 12 घंटे पहले शुरू हो जाता है जिसकी समाप्ति ग्रहण के साथ होती है। जानिए इस दौरान किन बातों का रखना होता है विशेष ध्यान…

-सूतक काल के समय भोजन बनाना और खाना दोनों ही मना होता है। हालांकि यह नियम बच्चों, बीमार लोगों और बुजुर्गों पर लागू नहीं होता।
-सूतक काल के दौरान किसी भी तरह का नया काम शुरू नहीं किया जाता है।
-सूतक लगते ही घर के मंदिर को ढक दिया जाता है और भगवान की मूर्तियों को हाथ से नहीं लगाया जाता है।
-सूतक काल के समय बालों पर कंघी करना, दांतून करना अशुभ माना जाता है। यह भी पढ़ें- Surya Grahan 2021 Horoscope: सूर्य ग्रहण के प्रभाव से 5 राशियों के जीवन में होंगे बड़े बदलाव, जानिए अपनी राशि का हाल
-इस दौरान मन ही मन अपने ईष्ट देव की अराधना करनी चाहिए। इससे आपके ऊपर नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है।

-इस समय आप धार्मिक पुस्तकों को पढ़ सकते हैं।
-सूतक काल लगने से लेकर ग्रहण की समाप्ति तक गर्भवती महिलाओं को चाकू और कैंची का प्रयोग न करने की सलाह दी जाती है।
-गर्भवती महिलाओं के लिए ग्रहण देखना अशुभ माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि अगर आप ग्रहण देखती हैं तो इससे आपकी गर्भ में पल रहे बच्चे को शारीरिक या मानसिक परेशानियां हो सकती हैं।
-सूतक काल लगते ही खाद्य पदार्थों में तुलसी दल या कुशा रखनी चाहिए। यह भी पढ़ें- Surya Grahan 2021 Today Live Updates: सूर्य ग्रहण कितने बजे से होगा शुरू, कहां और कैसे देखें लाइव जानिए पूरी डिटेल

Next Stories
1 Surya Grahan 2021 Today Live Updates: शाम इतने बजे खत्म होगा सूर्य ग्रहण, जानिए कहां देख सकते हैं इसे लाइव
2 Surya Grahan 2021 Horoscope: सूर्य ग्रहण के प्रभाव से 5 राशियों के जीवन में होंगे बड़े बदलाव, नौकरी में मिल सकता है प्रमोशन
3 Vat Savitri Vrat Katha: वट सावित्री व्रत कथा यहां देखें
ये पढ़ा क्या?
X