ताज़ा खबर
 

Surya Grahan/Solar Eclipse July 2019 Date, Time: 2 जुलाई के बाद इस साल पड़ेंगे अभी 2 और ग्रहण, जानें कब कौन सा ग्रहण पड़ने वाला है

Surya Grahan 2019 or Solar Eclipse July 2019 Date and Time in India: यह पूर्ण सूर्य ग्रहण होगा जो भारतीय समय के मुताबिक रात 10 बजकर 25 मिनट से शुरु होकर 3 जुलाई को सुबह 03 बजकर 31 मिनट तक रहेगा। यह ग्रहण करीब 4 घंटे का होगा।

Surya Grahan 2019, Solar Eclipse 2019 Dates and Time: Horoscope, rashifalसूर्यग्रहण और चंद्रग्रहण मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं- खग्रास और खंडग्रास।

Surya Grahan 2019 or Solar Eclipse July 2019 Date and Time in India, Surya Grahan July 2019 Tomorrow Dates and Timings:  साल 2019 की शुरुआत सूर्य ग्रहण से हो हुई थी, जो 6 जनवरी को पड़ा था और 2 जुलाई को दूसरा सूर्य ग्रहण होने जा रहा है। खगोल शास्त्रियों के साथ-साथ ज्योतिष शास्त्रियों के लिए ग्रहण में काफी दिलचस्पी होती है। लेकिन इस बार जुलाई के महीने में दो ग्रहण- सूर्य और चंद्र ने इनकी दिलचस्पी बढ़ा दी है। दरअसल, 2 जुलाई के बाद 2 और ग्रहण होंगे, जिसमें एक खंडग्रास चंद्रग्रहण और एक खंडग्रास सूर्यग्रहण शामिल है। सूर्यग्रहण और चंद्रग्रहण मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं- खग्रास और खंडग्रास। जब ग्रहण पूरी तरह दिखा देता है तो उसे ‘खग्रास’ और जब ग्रहण कम दिखाई देता है तो उसे ‘खंडग्रास’ ग्रहण कहा जाता है। आइए जानते हैं इस साल कब-कब ग्रहण पड़ेगा।

2 जुलाई 2019 को खग्रास सूर्यग्रहण: भारत के समय के मुताबिक, 2 जुलाई रात 10 बजकर 25 मिनट पर सूर्यग्रहण होगा और रात 2 बजकर 14 मिनट तक रहेगा। इसके बाद 3 बजकर 21 मिनट पर संपूर्ण ग्रहण मोक्ष हो जाएगा। नासा मुताबिक, यह सूर्य ग्रहण 4 घंटे 33 सेकेंड तक चलेगा। इस दौरान भारत में रात होने की वजह से सूर्यग्रहण नहीं दिखेगा। हालांकि, चिली में सैंटियागो, ब्राजील में साओ पाउलो, अर्जेंटीना में ब्यूनस आयर्स, पेरू में लीमा, उरुग्वे में मोंटेवीडियो और पैराग्वे के कुछ शहरों में इस ग्रहण को देखा जा सकेगा।

16 जुलाई 2019 को खंडग्रास चंद्रग्रहण: यह ग्रहण मध्यरात्रि 1 बजकर 32 मिनट से शुरू होगा और 4 बजकर 30 मिनट पर होगा यानी करीब 3 घंटे रहेगा। ग्रहण का पर्वकाल 2 घंटा 58 मिनट का रहेगा। चंद्र ग्रहण को भारत में आराम से देखा जा सकेगा।

26 दिसंबर 2019 को खंडग्रास सूर्यग्रहण: यह खंडग्रास सूर्यग्रहण होगा, जो मूल नक्षत्र एवं धनु राशि पर मान्य होगा। यह खंडग्रास सूर्यग्रहण केवल दक्षिण भारत के कुछ क्षेत्रों में ही दिखाई देगा। ग्रहण का स्पर्शकाल प्रात: 8 बजकर 10 मिनट, मध्यकाल प्रात: 9 बजकर 31 मिनट एवं मोक्ष 10 बजकर 51 मिनट पर होगा। ग्रहण का पर्वकाल 2 घंटा 41 मिनट का रहेगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Surya Grahan 2019: ग्रहण से पहले शुरु हो जाता है सूतक, जानें इस दौरान कौन से कार्य नहीं करने चाहिए
2 भौमवती अमावस्या: जानें इस दिन का महत्व और कैसे करें पितरों को प्रसन्न
3 Surya Grahan 2019: ग्रहण को लेकर ज्योतिषी भविष्यवाणी, इस साल भी जुलाई में ग्रहण के दौरान आ सकता है भूकंप
IPL 2020 LIVE
X