ताज़ा खबर
 

Surya Grahan 2019 Date and Time in India: 6 जनवरी को 2019 का पहला सूर्य ग्रहण, इतने समय तक रहेगा प्रभाव

Surya Grahan 2019 Dates and Time in India, Partial Solar Eclipse 2019 January Date and Timings in India: चंद्रमा के पृथ्वी और सूर्य के बीच में आ जाने की वजह से यह खगोलीय घटना होती है। इस स्थिति में पृथ्वी से सूर्य का दिखना आंशिक या संपूर्ण रूप से कुछ समय के लिए बंद हो जाता है।

surya grahan, surya grahan 2019, surya grahan 2019 dates and time, surya grahan 2019 dates and time in india, surya grahan 2019 dates and time in india in hindipartial solar eclipse, partial solar eclipse 2019, partial solar eclipse 2019 timings, partial solar eclipse india, partial solar eclipse january 2019, partial solar eclipse date and time, solar eclipse 2019, solar eclipse 2019 india, solar eclipse 2019, solar eclipse 2019 india timings, solar eclipse 2019 timings, surya grahanSurya Grahan 2019 Dates and Time: साल 2019 में कुल तीन सूर्य ग्रहण लगने वाले हैं।

Surya Grahan 2019 Dates and Time in India, Partial Solar Eclipse 2019 January Date and Timings in India: साल 2019 का पहला सूर्य ग्रहण लग चुका है। इस साल की ऐसी पहली खगोलीय घटना 06 जनवरी, दिन रविवार को हो रही है। भारत में रह रहे खगोल प्रेमियों को इस बार थोड़ी निराशा हो सकती है। क्योंकि यह आंशिक सूर्य ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देखा। साल 2019 के पहले सूर्य ग्रहण का प्रभाव उत्तर-पूर्वी एशिया और उत्तरी पैसिफिक देशों रहेगा। यानी कि इसे जापान, कोरिया, मंगोलिया, ताइवान, रूस और चीन के पूर्वी छोर के अलावा अमेरिका के पश्चिमी हिस्से में भी देखा जा सकेगा। खगोलविदों का कहना है कि बीजिंग में सूर्य का 20 फीसदी, टोक्यों में 30 फीसदी और व्लादिवोस्टक में 37 फीसदी हिस्सा चंद्रमा के पीछे छिप जाएगा। बता दें कि भारतीय समयानुसार ग्रहण सुबह 5.04 बजे पर शुरू होगा और 9.18 बजे खत्म होगा।

साल 2019 में कुल तीन सूर्य ग्रहण लगने वाले हैं। पहला ग्रहण 06 जनवरी, दूसरा 02 जुलाई और तीसरा 26 दिसंबर को लगेगा। साल के अंतिम दिनों में यानी कि 26 दिसंबर को लगने वाले सूर्य ग्रहण को भारत में भी देखा जा सकता है। यह आंशिक सूर्य ग्रहण होगा। इसका प्रभाव 2 घंटे, 40 मिनट और 6 सेकेंड तक रहेगा। इसकी शुरुआत सुबह 8.17 बजे होगी और 10.57 बजे खत्म हो जाएगा। 26 दिसंबर को लगने वाले आंशिक सूर्य ग्रहण का प्रभाव दक्षिण भारत में ज्यादा होगा। इसे कन्नूर, कोझीकोड, मदुरै और त्रिशूर क्षेत्रों में साफ तौर पर देखा जा सकेगा। हालांकि इसके लिए मौसम का साफ रहना जरूरी है।

बता दें कि चंद्रमा के पृथ्वी और सूर्य के बीच में आ जाने की वजह से यह खगोलीय घटना होती है। इस स्थिति में पृथ्वी से सूर्य का दिखना आंशिक या संपूर्ण रूप से कुछ समय के लिए बंद हो जाता है। इस घटनाक्रम को सूर्य ग्रहण के नाम से जाना जाता है। हिंदू धर्म में ग्रहण(सूर्य या चंद्र ग्रहण) को लेकर कई सारी मान्यताएं प्रचलित हैं। इस वजह से हमारे देश में ग्रहण को महज एक खगोलीय घटना ही नहीं माना जाता। बल्कि ग्रहण लगने पर लोग कई तरह की सावधानियां बरतते हैं। इन सावधानियों से ग्रहण के नकारात्मक प्रभाव से बचने की मान्यता है।

6 जनवरी, 2019 को जिस वक्त सूर्य ग्रहण लगेगा, उस समय भारत में सुबह होगी। ग्रहण का समय 5 AM से 9.18 AM तक होगा। ज्योतिषियों के मुताबिक इस ग्रहण में सूर्य का संयोग शनि बुध और चंद्र से बन जाएगा। सूर्य शनि और चंद्र का प्रभाव होने से दुर्घटनाओं की संभावना बन जाएगी। साथ ही राजनैतिक रूप से भयंकर उथल-पुथल मच सकती है।

Next Stories
1 राशि के हिसाब से जानिए किस लड़की को कैसा दूल्हा मिलने की है मान्यता!
2 समुद्र शास्त्र: ठोड़ी के गड्ढे खोलते हैं ये पांच राज!
3 पूजा में पत्नी का पति के किस ओर बैठना माना गया है शुभ, जानिए
चुनावी चैलेंज
X