ताज़ा खबर
 

ऊपर से नीचे की ओर हस्ताक्षर करने वालों के नकारात्मक होने की है मान्यता, जानिए बाकियों का हाल

कुछ लोगों की हस्ताक्षर एक सीध में होती है। समुद्र शास्त्र में कहा गया है कि ऐसे लोगों की सेहत सामान्य रहती है। इसके साथ ही ये लोग आर्थिक रूप से भी सही स्थिति में होते हैं।

Author नई दिल्ली | October 2, 2018 6:46 PM
सांकेतिक तस्वीर।

सामुद्रिक शास्त्र के मुताबिक किसी शख्स के हस्ताक्षर के आधार पर उसके स्वभाव को जाना जा सकता है। इसके साथ ही हस्ताक्षर से व्यक्ति की आर्थिक स्थिति के बारे में भी जानकारी मिल जाने की बात कही गई है। कुछ लोग अपनी हस्ताक्षर बहुत ही घनिष्ठ रूप में करते हैं। यानी कि उनकी हस्ताक्षर के अक्षरों के बीच जगह ना के बराबर होती है। सामुद्रिक शास्त्र के मुताबिक ऐसे लोग कंजूस प्रवृत्ति के होते हैं। ये लोग धन खर्च करने में काफी हिचकिचाते हैं। वहीं, जिन लोगों की हस्ताक्षर काफी फैली हुई होती है। उनके बारे में कहा जाता है कि वे लोग काफी दिखावा करते हैं। इसके लिए वे लोग धन भी खूब खर्च करते हैं।

आपने कुछ ऐसे लोगों को देखा होगा जिनकी हस्ताक्षर एक सीध में होती है। समुद्र शास्त्र में कहा गया है कि ऐसे लोगों की सेहत सामान्य रहती है। इसके साथ ही ये लोग आर्थिक रूप से भी सही स्थिति में होते हैं। कुछ लोग अपनी हस्ताक्षर नीचे से ऊपर की ओर करते हैं। इनके बारे में मान्यता है कि ये लोग धार्मिक प्रवृत्ति के होते हैं। धर्म से जुड़े कार्यों में इनका मन लगता है। साथ ही इनकी आर्थिक स्थिति अच्छी होने की बात कही गई है। कहते हैं कि जरूरत पड़ने में ये लोग धन खर्च भी करते हैं।

कुछ लोग अपनी हस्ताक्षर ऊपर से नीचे की ओर करते हैं। सामुद्रिक शास्त्र में कहा गया है कि ये लोग नकारात्मक स्वभाव के होते हैं। साथ ही इनकी सेहत काफी कमजोर रहने की बात कही गई है। इसके अलावा इन लोगों को अपने जीवन में आर्थिक तंगी का सामना भी खूब करना पड़ता है। कुछ लोगों की हस्ताक्षर का पहला अक्षर बड़ा और बाकी अक्षर काफी छोटे होते हैं। ऐसे लोगों को यह सलाह दी जाती है कि इन्हें अपनी व्यय करने की आदत पर नियंत्रण हासिल करना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App