scorecardresearch

Shukra Margi: 24 घंटे बाद शुक्र होंगे धनु राशि में मार्गी, इन राशियों के लोगों को रहना होगा सावधान!

Venus Transit: शुक्र ग्रह 30 जनवरी दिन रविवार को मकर राशि में मार्गी होंगे। शुक्र के मार्गी होने से सुख, धन, दौलत, रोमांस, विलासिता आदि में वृद्धि होती है।

religion, horoscope
प्रतीकात्मक तस्वीर (जनसत्ता)

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जब की कोई ग्रह राशि परिवर्तन करता है या मार्गी होता है, तो उसका सीधा प्रभाव मानव जीवन पर पड़ता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शुक्र का गोचर लगभग 23 दिन की अवधि का होता है, अर्थात शुक्र एक राशि में लगभग 23 दिन तक रहता है और फिर अपना राशि परिवर्तन कर जाता है। शुक्र ग्रह को शुभ माना जाता है इसलिए यह ग्रह जब वक्री या मार्गी होता है तो इसका सीधा प्रभाव जातक के व्यवहार व स्वभाव पर पड़ता है।

शुक्र ग्रह को जीवन में भौतिक सुखों के कारक के रूप में देखा जाता है, क्योंकि इसके प्रभाव से ही जातक को जीवन में भोग-विलास, शौहरत, कला, प्रतिभा, भौतिक सुख, वैवाहिक सुख, सौन्दर्य, रोमांस, काम-वासना, आदि की प्राप्ति होती है। वैदिक ज्योतिष में शुक्र का गोचर एक महत्वपूर्ण स्थिति होती है जिसका प्रभाव हर मानव के जीवन पर शुभ अथवा अशुभ रूप से दिखाई देता है। शुक्र धनु राशि में मार्गी (29 जनवरी 2022) होने से जातक के जीवन में क्या कुछ बदलाव और परिवर्तन आने की आशंका है यह आज हम आपको इस लेख में बताएंगे-

कन्या (Virgo): कन्या राशि के जातकों के लिए शुक्र दूसरे और नौवें घर के स्वामी हैं और अब शुक्र आपके चौथे भाव में मार्गी होंगे। जातकों के लिए यह समय काफी शुभ रहेगा लेकिन आपके कुछ खर्चों में बढ़ोतरी भी संभव है, इसलिए चीजों की खरीदारी करते समय बहुत सोच-समझकर ही कोई भी निर्णय लें। इसके अलावा जो पिछले समय से नया मकान या वाहन लेने के सोच रहे थे, उन्हें इस दौरान शुक्र की कृपा से अनुकूल अवसर मिलने वाले हैं।

तुला (Libra): शुक्र तुला राशि के स्वामी होने के साथ-साथ आपके अष्टम भाव पर भी अपना स्वामित्व रखते हैं और अब इस अवधि के दौरान यह आपके तृतीय भाव में मार्गी होंगे। चूंकि शुक्र आपके राशि स्वामी हैं और अब उनका आपके तीसरे भाव में होना आपको मिले-जुले फल देने वाला है। इस दौरान आपके शत्रु लगातार आप पर हावी होने की कोशिश करते रहेंगे। लंबी दूरी की यात्रा कष्टकारी रह सकती है। कार्यक्षेत्र पर भी आपको विशेष सावधान रहने की ज़रूरत होगी। इसके अलावा स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।

वृश्चिक (Scorpius): शुक्र वृश्चिक राशि के बारहवें भाव व सप्तम भाव को नियंत्रित करते हैं और अब इस दौरान वे आपकी राशि से संचित धन और संपत्ति के दूसरे भाव में मार्गी होंगे। इस समय शुक्र देव आपके दूसरे भाव में पहले से उपस्थित मंगल के साथ युति करते हुए, आपकी राशि में धन योग का निर्माण करेंगे। अटक हुआ धन मिलने के संकेत हैं लेकिन खर्चों पर नियंत्रण रखें। शादीशुदा जातकों को अपने दांपत्य जीवन में कुछ संघर्ष करना पड़ सकता है। इस दौरान अधिक से अधिक शांत रहें।

मकर (Capricornus): मकर राशि के जातकों के लिए शुक्र आपके पांचवें और दसवें भाव के स्वामी होते हैं और अब वे इस समय मकर राशि के जातकों के बारहवें भाव में मार्गी होंगे। ऐसे में शुक्र का आपके बारहवें भाव में मार्गी होना आपके लिए काफी शुभ रहने वाला है। लेकिन इस दौरान जातकों को अपने कार्यस्थल पर अपने विरोधियों से सावधान रहने की आवश्यकता होगी। शत्रु इस दौरान आपके ऊपर हावी होने की कोशिश करेंगे।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.