scorecardresearch

48 घंटे बाद शुक्र होने जा रहे हैं मार्गी, इन राशियों पर पड़ेगा विशेष प्रभाव; खुल सकते हैं तरक्की के नए द्वार

Venus Transit 2022 : नवग्रहों में सबसे चमकीला और रोमांटिक ग्रह शुक्र 29 जनवरी 2022 को गुरु की राशि धनु में चाल बदलने जा रहे हैं। उल्टी चाल से चल रहे शुक्र अब वापस सीधी चाल यानी मार्गी चलेंगे।

shukra rashi parivartan, shukra rashi parivartan september 2021, shukra rashi parivartan kanya 2021, venus transit 2021, venus transit september 2021, planet change 2021, shukra gochar 2021,
तुला राशि वालों के लिए ये गोचर काफी अच्छा रहेगा। पेशेवर जीवन में आपको सफलता मिलेगी।

वैदिक ज्योतिष में शुक्र का गोचर एक महत्वपूर्ण स्थिति होती है जिसका प्रभाव हर मानव के जीवन पर शुभ अथवा अशुभ रूप से दिखाई देता है। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक जब की कोई ग्रह मार्गी होता है या राशि परिवर्तन करता है तो उसका सीधा प्रभाव मनुष्यों के जीवन पर पड़ता है। ज्योतिष में मार्गी का मतलब ग्रहों का सीधा चलना होता है। शुक्र का धनु राशि में मार्गी (29 जनवरी 2022) होने से सभी बारह राशियों के जातकों के जीवन में क्या कुछ बदलाव और परिवर्तन आने की आशंका है यह जानने के लिए यह लेख पढ़ें।

आपको बता दें कि शुक्र ग्रह अभी धनु राशि में गोचर कर रहे हैं, जहां वो अभी वक्री (उल्टी) अवस्था में हैं। लेकिन शुक्र देव 29 जनवरी को मार्गी होने जा रहे हैं। ज्योतिष शास्त्र में शुक्र का गोचर लगभग 23 दिन की अवधि का होता है, अर्थात शुक्र एक राशि में लगभग 23 दिन तक रहता है और फिर अपना राशि परिवर्तन कर जाता है।

शुक्र के मार्गी होने से जीवन में भौतिक सुख, वैवाहिक सुख, भोग-विलास, शौहरत, कला, प्रतिभा, सौन्दर्य, रोमांस, काम-वासना, आदि में वृद्धि होती है। क्योंकि शुक्र देव इन सब चीजों के ही कारक माने जाते हैं। साथ ही शुक्र ग्र​ह दो राशियों वृष और तुला के स्वामी हैं। शुक्र कन्या राशि में नीच और मीन राशि में उच्च के माने गए हैं। आइए जानते हैं शुक्र के मार्गी यानी सीधी चाल होने से किन-किन राशियों के जातकों के जीवन में बदलाव होने वाला है।

मेष (Aries): मेष राशि के जातकों के लिए शुक्र का मार्गी होना शुभ रहने वाला है। साथ ही इस दौरान आपको भाग्य का पूरा साथ मिलेगा, जिसके परिणामस्वरूप कार्यस्थल पर आप जिस भी कार्य में हाथ डालेंगे उसमे आपको निश्चित रूप से सफलता की प्राप्त होगी। बात करें प्रेम संबंधों की तो शादीशुदा जातकों को जीवनसाथी के साथ भरपूर समय बिताने का अवसर मिलेगा। करियर में उन्नति के साथ व्यवसाय करने वालों को लाभ मिलने के संकेत मिल रहे हैं।

वृषभ (Taurus): शुक्र वृषभ राशि के स्वामी हैं। ऐसे में शुक्र का अष्टम भाव में मार्गी होना आपको अपने जीवन में मिले-जुले फल देने का कार्य करेगा। यदि आप पहले से किसी बीमारी से पीड़ित थे तो इस दौरान आपकी समस्या बढ़ने की आशंका अधिक रहेगी। इसलिए अपने स्वास्थ्य जीवन को लेकर अधिक सावधान रहें।कुछ छोटी-मोटी यात्रा के संकेत हैं और ये यात्रा आपके लिए शुभ ही रहेंगी। अपने कार्यक्षेत्र में शत्रुओं से सावधान रहें। क्योंकि वे आप पर हावी होने की कोशिश कर सकते हैं। इस दौरान कोशिश करें कि बाहर के खाने से परहेज करें, जितना हो सके केवल घर का बना खाना ही खाने खाने की कोशिश करें।

मिथुन (Gemini): शुक्र, बुध के मित्र ग्रह हैं और इस अवधि के दौरान धनु राशि में उनके सप्तम भाव में मार्गी होगा। ऐसे में आपके सप्तम भाव में शुक्र का पहले से वहां मौजूद मंगल के साथ युति करना आपको सामान्य से अधिक अनुकूल फल देने का कार्य करेगा। इस राशि के जातकों को संबंधों में उत्तम फल मिलने के योग बनेंगे। अविवाहित जातक जो विवाह के लिए सोच रहे हैं या प्रेमी के साथ अपने विवाह की बात को आगे बढ़ाना चाह रहे हैं, उनके लिए यह समय उत्तम है।

विशेष रूप से इस दौरान पार्टनर के साथ किसी भी प्रकार के विवाद में पड़ने से बचना होगा। वहीं शादीशुदा जातकों को भी भाग्य का साथ मिलेगा। मिथुन राशि के जातकों को कार्यक्षेत्र में उन्नति मिलने के आसार हैं। लेकिन इस अवधि के दौरान सबसे अधिक नकारात्मक विचारों को अपने ऊपर हावी होने देने से रोकना होगा।

यह भी पढ़ें: मेष राशिफल 2022वृषभ राशिफल 2022, मिथुन राशिफल 2022कर्क राशिफल 2022सिंह राशिफल 2022कन्या राशिफल 2022तुला राशिफल 2022वृश्चिक राशिफल 2022धनु राशिफल 2022मकर राशिफल 2022कुंभ राशिफल 2022, मीन राशिफल 2022

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.