सूर्य-गुरु की युति से जल्द खत्म होगा शनि का अशुभ प्रभाव, जानिये आप पर क्या होगा इसका प्रभाव

ज्योतिष अनुसार शादी-विवाह के लिए सूर्य और गुरु की युति बेहद ही शुभ मानी जाती है। इन दोनों ग्रहों का राशि परिवर्तन शादी करने वाले लोगों के लिए बेहद ही शुभ रहने वाला है।

Shani Sade Sati, Surya Guru Yuti, Religion News
गुरु और सूर्य की युति से खत्म होगा शनि का अशुभ योग

चार महीने के बाद देवउठनी एकादशी से शादी-विवाह समेत सभी मांगलिक कार्यों की शुरुआत हो चुकी है। हालांकि इसी दौरान शनि भी एक अशुभ योग बना रहा है। ऐसे में यह जानना बेहद ही जरूरी है कि शनि के अशुभ योग का असर इस दौरान होने वाली शादियों पर पड़ेगा या नहीं?

सूर्य और गुरु की युति: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नवंबर 2021 में दो बड़े ग्रह राशि परिवर्तन कर रहे हैं। बता दें कि ज्योतिष शास्त्र में कुल 9 ग्रहों का अध्ययन किया जाता है। ग्रहों के परिवर्तन से सभी राशियों पर प्रभाव पड़ता है। इस दौरान कुछ लोगों को शुभ परिणाम मिलते हैं तो कुछ लोगों को अशुभ। 16 नवंबर को सूर्य ग्रह, वृश्चिक राशि में प्रवेश कर चुके हैं तो वहीं 21 नवंबर को गुरु ग्रह, कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे।

इन दोनों ग्रहों के गोचर का असर शादियों पर भी पड़ेगा। ज्योतिष अनुसार शादी-विवाह के लिए सूर्य और गुरु की युति बेहद ही शुभ मानी जाती है। ऐसे में इन दोनों ग्रहों का राशि परिवर्तन शादी करने वाले लोगों के लिए बेहद ही शुभ रहने वाला है। इस दौरान शादी करने वाले लोगों के दांपत्य जीवन में हमेशा सुख-समृद्धि बनी रहती है। ऐसे में गुरु और सूर्य की यह युति शनि के अशुभ संयोग को भी खत्म कर देगी।

कब होगा गुरु का गोचर: गुरु ग्रह, 21 नवंबर को शनि की राशि कुंभ में प्रवेश करने जा रहे हैं, जो 13 अप्रैल तक इसी राशि में रहेंगे । गुरु के राशि परिवर्तन से शादीशुदा लोगों का दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। गुरु ग्रह का सर्वार्थसिद्धि योग में राशि परिवर्तन होगा, यह समय बेहद ही फलदायी माना जाता है। इस दौरान मां लक्ष्मी की पूजा करने से आर्थिक संकट दूर होता है।

ज्योतिषचार्यों की अनुसार अगर इस दौरान पूरे विधि-विधान से पूजा की जाए तो अविवाहितों के रिश्ते भी तय हो जाते हैं। इसी के साथ इस दिन बुध ग्रह का भी राशि परिवर्तन होगा। बुध वृश्चिक राशि में 10 दिसंबर तक रहेंगे।

पढें Religion समाचार (Religion News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
रावण ने अपने आखिरी पलों में लक्ष्मण को दिया था यह ज्ञान, आपकी सक्सेस के लिए भी जरूरी हैं ये बातेंravan, ram, laxman, ramayan, valuable things, srilanka, धर्म ग्रंथ रामायण, राम, रावण, लंकापति रावण, वध श्रीराम, शिवजी की पूजा, लक्ष्मण