scorecardresearch

अक्टूबर में शनि देव होने जा रहे हैं मार्गी; ज्योतिष शास्त्र अनुसार इन 5 राशियों को मिलेगी साढ़ेसाती और ढैय्या से राहत

वैदिक ज्योतिष अनुसार शनि देव 23 अक्टूबर को मार्गी होने जा रहे हैं, शनि देव के मार्गी होने से 5 राशि वालों को शनि की ढैय्या और साढ़ेसाती से राहत मिल सकती है।

अक्टूबर में शनि देव होने जा रहे हैं मार्गी; ज्योतिष शास्त्र अनुसार इन 5 राशियों को मिलेगी साढ़ेसाती और ढैय्या से राहत
शनि देव होने जा रहे हैं मार्गी- (जनसत्ता)

Shani Margi 2022: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जब भी कोई ग्रह राशि परिवर्तन करता है। तो उसका सीधा असर मानव जीवन और पृथ्वी पर देखने को मिलता है। आपको बता दें कि शनि ग्रह 12 जुलाई को मकर राशि में वक्री हुए थे और वो अक्टूबर में मार्गी होने जा रहे हैं। मार्गी होने का मतलब है कि शनि अब सीधी चाल में भ्रमण करेंगे। शनि के मार्गी होने से 5 राशि के जातकों को शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या में राहत मिलने वाली है। आइए जानते हैं ये राशियां कौन सी हैं…

इन राशियों को मिलेगी साढ़ेसाती और ढैय्या से राहत

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक 12 जुलाई को शनि देव मकर राशि में वक्री हुए थे, जिसके बाद वह अक्टूबर में मार्गी होने जा रहे हैं। अभी धनु, मकर और कुंभ राशि पर शनि की साढ़ेसाती चल रही है। वहीं  वहीं कर्क और वृश्चिक राशि के लोग लोगों पर ढैय्या चल रही है। आपको बता दें कि जब शनि देव व्रक चाल से चल रहे थे। तो इन लोगों को कष्टों का सामना करना पड़ रहा था। इन लोगों के काम में रुकावट आ रही थी। व्यापार धीमी गति से चल रहा था। वहीं अब शनि देव 23 अक्टूबर से मार्गी होने जा रहे हैं। जिससे अब इन लोगों के काम बनने लगेंगे। व्यापार में अच्छा धनलाभ होगा। नई नौकरी का प्रस्ताव आ सकता है। साथ ही अगर आप नौकरी कर रहे हैं तो आपका प्रमोशन और इंक्रीमेंट हो सकता है। किसी पुराने रोग से मुक्ति मिल सकती है।

वैदिक ज्योतिष में शनि ग्रह का महत्व:

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक शनि देव कर्मों के अनुसार व्यक्ति को फल प्रदान करते हैं। साथ ही ज्योतिष में इनको न्याय प्रिय देवता माना गया है। शनि देव तुला राशि में उच्च के माने गए हैं तो मेष इनकी नीच है।

वहीं शनि देव पुष्य, अनुराधा, पूर्वाभाद्रपद नक्षत्रों के स्वामी हैं। बुध और शुक्र के साथ इनका मित्रता का भाव है और सूर्य, चंद्रमा और मंगल शत्रु ग्रह माने जाते हैं।  शनि के गोचर काल की अवधि करीब 30 महीने की होती है। साथ ही शनि की महादशा ज्योतिष के अनुसार 19 साल की मानी जाती है।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 28-09-2022 at 12:04:32 pm