scorecardresearch

Shani Dev: कर्मफल दाता शनि देव को बेहद प्रिय हैं ये 5 राशियां, साढ़ेसाती और ढैय्या के दौरान नहीं देते हैं अधिक कष्ट!

Shani Dev Favorite Five Zodiac Sign: शनि देव कर्मफल दाता हैं। शनिदेव जिस पर प्रसन्न होते हैं उसे राजा बना देते हैं।

Shani Dev: कर्मफल दाता शनि देव को बेहद प्रिय हैं ये 5 राशियां, साढ़ेसाती और ढैय्या के दौरान नहीं देते हैं अधिक कष्ट!
Shani Dev: इन 5 राशियों पर शनि रहते हैं मेहरबान (Jansatta)

शनिदेव का नाम सुनकर लोग सहम जाते हैं क्योंकि शनिदेव कर्मफलदाता हैं। ये व्यक्ति को उसके कर्म के अनुसार फल देते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि दो राशियों- मकर और कुंभ राशि के स्वामी हैं। अत: ये दोनों राशियां शनिदेव को अत्यंत प्रिय हैं। आपको बता दें कि सूर्य और चंद्र को छोड़कर सभी ग्रह दो राशियों के स्वामी हैं। हालांकि इन दो राशियों के अलावा कुछ अन्य राशियां भी हैं जो शनिदेव को प्रिय हैं। इन राशियों पर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या विशेष रूप से पीडि़त नहीं होती है।

शनि देव की प्रिय राशि वृषभ राशि (Saturn’s favorite zodiac sign is Taurus)

शुक्र की राशि वृषभ पर शनिदेव की विशेष कृपा है। दरअसल शुक्र की राशि में शनि का योग (Saturn’s conjunction in Venus’s sign) माना जाता है। ऐसे में चाहे शनि गोचर कर रहा हो या वृष राशि के जातकों की कुंडली में ये अशुभ प्रभाव नहीं देते हैं। हालांकि बाकी ग्रहों की स्थिति प्रतिकूल होने पर भी शनि अधिक कष्ट नहीं देता है।

शनि देव की प्रिय राशि तुला राशि (Saturn’s favorite zodiac sign is Libra)

शुक्र राशि तुला भी शनि को सर्वाधिक प्रिय है। शनि तुला राशि में उच्च का होता है। इस राशि के जातकों को शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या तब तक नहीं होती जब तक उनकी कुंडली में सभी ग्रह अनुकूल रहते हैं। शनि तुला राशि वालों को उन्नति में मदद करता है।

Shani Video: इन राशियों पर शुरु होने वाली है शनि की ढैय्या, देखें वीडियो

Shani Dhaiyya and Shani Sadhe Saati Video

शनि देव की प्रिय राशि धनु राशि (Saturn’s favorite zodiac sign is Sagittarius)

बृहस्पति की राशि धनु भी शनि को प्रिय है। इस राशि के जातकों को ये ज्यादा परेशानी भी नहीं देते हैं। शनि का बृहस्पति के साथ सम संबंध है। इसलिए शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या (Shani Sadhe Saati and Shani Dhaiyya Effect) के दौरान धनु राशि के जातकों को ज्यादा कष्ट नहीं होता है। शनि इस राशि के जातकों को मान सम्मान और धन की प्राप्ति भी होती है।

शनि देव की प्रिय राशि मकर राशि (Saturn’s favorite zodiac sign is Capricorn)

मकर राशि के स्वामी शनि हैं। इसलिए यह राशि शनि की प्रिय राशियों में से एक है। शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या (Shani Sadhe Saati and Shani Dhaiyya Remedies) के दौरान इस राशि के जातकों को ज्यादा कष्ट नहीं होता है। हालाँकि, मकर राशि वाले आसानी से हार नहीं मानते हैं, इसलिए शनि देव का शत्रुतापूर्ण स्वभाव सामने आ जाता है।

शनि देव की प्रिय राशि कुंभ राशि (Saturn’s favorite zodiac sign is Aquarius)

कुंभ राशि पर शनि का प्रभाव (Shani Sadhe Saati aur Shani Dhaiyya) कम होता है। कुंभ राशि के स्वामी शनि हैं इसलिए इस राशि के जातकों पर इनकी कृपा बनी रहती है। शनिदेव की कृपा से इस राशि के जातकों को धन संबंधी परेशानी नहीं होती है। कुंभ राशि पर शनि का प्रभाव बहुत ही कम समय के लिए होता है।

पढें Religion (Religion News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 18-11-2022 at 02:38:44 pm
अपडेट