ताज़ा खबर
 

Sawan 2020: शुरू हो रहा है भगवान शिव का पसंदीदा महीना, जानिये कोरोना के बीच कैसे करें उनकी अराधना

Shravan Month 2020: सावन के दौरान मंदिरों में सरकारी गाइडलाइन्स के अनुसार और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ही बाबा भोले भंडारी का जलाभिषेक किया जाएगा

sawan 2020, coronavirus, sawan somvar, sawan 2020 start date, Lord Shivaइस साल सावन का महीना 6 जुलाई से शुरू हो रहा है और 3 अगस्त को इसका समापन होगा

Sawan 2020 Dates: इस साल सावन का महीना 6 जुलाई से शुरू हो रहा है और 3 अगस्त को इसका समापन होगा।  इस महीने को भगवान शिवजी का प्रिय महीना माना जाता है। सावन के महीने के बारे में ज्योंतिषियों का कहना है कि इस महीने में भगवान शिवजी की पूजा करने से वो खुश होते हैं। इस सावन के महीने में एक शुभ संयोंग भी बना रहा है। बता दें इस सावन के महीने में पांच सोमवार हैं, ऐसा कई सालों बाद देखने को मिला है। सावन के पहले दिन सोमवार होने के कारण इसको विशेष महत्वपूर्ण माना जा रहा है। सोमवार के दिन को भगवान शिवजी का दिन माना जाता है। कहा जाता है कि इस दिन भगवान शिवजी का व्रत रखने वाले पर भोलनाथ की कृपा बनी रहती है।

कोरोना के बीच सावन माह: सावन के महीने में हर साल शिव भक्त कांवड़ यात्रा निकालते थे। पर इस बार कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण कांवड़ यात्रा का उत्साह ठंडा पड़ चुका है। सावन के दौरान मंदिरों में सरकारी गाइडलाइन्स के अनुसार और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ही बाबा भोले भंडारी का जलाभिषेक किया जाएगा। इस बार न तो मंदिरों में भक्तों की ज्यादा भीड़ होगी और न ही शोभायात्राएं निकल सकेंगी। हालांकि, देवों के देव महादेव की पूजा-अर्चना आप घर में भी कर सकते हैं। बता दें कि कई सालों के बाद इस बार सावन में 36 शुभ संयोग बन रहे हैं। इस बार सावन में 11 सर्वार्थ सिद्धि, 10 सिद्धि योग, 12 अमृत योग और 3 अमृत सिद्धि योग भी बन रहे हैं।

घर पर कैसे करें पूजा: सावन माह की शुरुआत होने पर भक्तों को सुबह सूरज उगने से पहले ही नहा-धोकर साफ वस्त्र धारण कर लेना चाहिए। घर में पूजन के स्थान पर भगवान शिव की प्रतिमा या तस्वीर स्थापित करें। भगवान शिव का जल से अभिषेक करने के साथ ही उन्हें काले तिल अर्पित करें। ऐसी मान्यता है कि ‘ऊं नम: शिवाय’ मंत्र का जाप करने मात्र से ही भगवान शंकर भक्तों की हर मुराद को पूरा कर देते हैं। इसके अलावा, महादेव को बेल पत्र, चावल, जौ, घी और दूध, दही भी चढ़ा सकते हैं।

इन बातों का रखें ख्याल: शास्त्रों के अनुसार सावन माह में भक्तों को बैंगन खाने से परहेज करना चाहिए क्योंकि कई लोग इस सब्जी को अशुद्ध मानते हैं। इसके अलावा, इस दौरान व्रत रखने वाले लोगों को दूध का सेवन भाी नहीं करना चाहिए। इसके पीछे धार्मिक मान्यता ये है कि दूध से भोले बाबा का अभिषेक किया जाता है इसलिए इसका सेवन वर्जित है। इस महीने में भक्तों को मास-मदिरा तथा प्याज-लहसुन के सेवन से भी परहेज करना चाहिए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Chanakya Niti: किसी से मिलने के समय इन बातों को रखें याद, लोगों को जल्दी कर सकेंगे प्रभावित
2 Rashifal Money Career: करियर व आर्थिक दृष्टि से कैसा होगा कर्क, कन्या और कुंभ राशि वालों का दिन, जानिये
3 Love Rashifal 27 June 2020: मिथुन राशि वालों के प्यार में आ सकती है बाधा, सिंह राशि वालों को भी धोखे मिलने के हैं आसार
ये पढ़ा क्या?
X