ताज़ा खबर
 

धनवान बनने की रखते हैं इच्छा, धर्मग्रंथ अनुसार ‘कभी नहीं डालें दूसरों की पत्नी पर बुरी नजर’

महिलाओं का सम्मान करने से धन-धान्य की कमी नहीं आती है।

विधवा स्त्री पर बुरी नजर डालना महापाप माना जाता है।

महिलाओं का सम्मान हमेशा करना चाहिए, इसका पाठ कोई पढ़ा नहीं सकता है। सिर्फ अपने घर की ही नहीं समाज की सभी महिलाओं के लिए इज्जत की भावना रखनी चाहिए। यही हमारे संस्कारों की परिचायक होती हैं। हिंदू धर्म के पवित्र ग्रंथ रामचरितमानस में माना गया है कि महिलाओं का सम्मान हमेशा और हर स्थिति में करना चाहिए। इसके साथ ही उसमें लिखा है कि अपने से जुड़ी महिलाओं का अपमान किया जाए तो वो आपके भविष्य के लिए हानिकारक हो सकता है। अपने घर की महिलाओं या किसी भी महिला पर बुरी डालने वाले से मनुष्य महापाप के भागीदारी बन जाते हैं। इस तरह के लोगों से भगवान नराज हो जाते हैं और उन्हें इसकी सजा जीवनभर भुगतनी पड़ती है।

शास्त्रों के अनुसार माना जाता है कि जो लोग दूसरों की पत्नी की तरफ बुरी नजर रखते हैं उन्हें महापापी माना जाता है और वो कभी धनवान नहीं हो पाते हैं। ऐसे व्यक्ति को जीवन में किसी भी काम में सफलता हासिल नहीं होती है। इसी के साथ माना जाता है जो लोग विधवा स्त्री पर बुरी नजर रखते हैं वो समाज में रहने लायक नहीं माने जाते हैं। उन्हें हर स्थान पर हार का सामना करना पड़ता है। जीवन में किसी भी प्रकार का सुख और समृद्धि उन्हें नहीं मिल पाती है। माना जाता है कि विधवा स्त्री की इज्जत हर किसी को करनी चाहिए क्योंकि भगवान की उस पर विशेष कृपा मानी जाती है।

घर में आने वाली पुत्रवधु को का सम्मान अपनी पुत्री से भी बढ़कर किया जाना चाहिए। जो व्यक्ति अपनी पुत्रवधु को नुकसान पहुंचाता है उसे महापापी माना जाता है और समय आने पर ईश्वर उसका सब नष्ट कर देते हैं। माना जाता है कि जो लोग अपने आस-पास की महिलाओं का सम्मान करते हैं माता लक्ष्मी उनसे प्रसन्न होकर उनके घर जीवनभर के वास पर आती हैं। धनवान और धान्य की उनके घर कभी कमी नहीं आती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App