ताज़ा खबर
 

आज दिखेगा पूरा चांद, अपनी राशि के अनुसार करें उपाय

Sharad Purnima 2017, Moon Rise Time Today: आज यानि शरद पूर्णिमा की शाम को चांद 6 बजकर 2 मिनट पर निकलेगा और उसके पश्चात से खीर बनाकर चांदनी रात में रखें।

चांद ( फाइल फोटो)

शरद पूर्णिमा के दिन चंद्रमा निकलने के पश्चात अवश्य ही सावधान हो जाना चाहिए क्योंकि इस दिन चंद्रमा अपने पूरे 16 क्रियाओं में उगता है। इसलिए जो उपाय इस दिन के लिए ज्योतिषों ने जो उपाय सुझाए हों उन्हें अपनाने से देवी लक्ष्मी आपको अवश्य वरदान देती हैं। शरद पूर्णिमा की तिथि 5 अक्टूबर 1 बजकर 47 मिनट से शुरु हो जाएगी। शरद पूर्णिमा की तिथि 6 अक्टूबर को रात 12 बजकर 9 मिनट पर खत्म होगी। जैसा कि शास्त्रो के अनुसार सुझाया गया है कि चंद्रमा निकलने के बाद कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए तो आज यानि शरद पूर्णिमा की शाम को चांद 6 बजकर 2 मिनट पर निकलेगा और उसके पश्चात से खीर बनाकर चांदनी रात में रख दें साथ ही अपनी राशि के अनुसार उपाय करने से धन और समृद्धि संबंधी परेशानियों से जल्द छुटकारा मिलेगा। मां लक्ष्मी आप पर अवश्य ही कृपा करेंगी।

मेष- शरद पूर्णिमा पर मेष राशि के लोग कन्याओं को खीर खिलाएं और चावल को दूध में धोकर बहते पानी में बहाएं। ऐसा करने से आपके सारे कष्ट दूर हो सकते हैं।

वृष- इस राशि में चंद्रमा उच्च का होता है। वृष राशि शुक्र की राशि है और राशि स्वामी शुक्र प्रसन्न होने पर भौतिक सुख-सुविधाएं प्रदान करते हैं। शुक्र देवता को प्रसन्न करने के लिए इस राशि के लोग दही और गाय का घी मंदिर में दान करें।

मिथुन- इस राशि का स्वामी बुध, चंद्र के साथ मिल कर आपकी व्यापारिक एवं कार्य क्षेत्र के निर्णयों को प्रभावित करता है। उन्नति के लिए आप दूध और चावल का दान करें तो उत्तम रहेगा।

कर्क- आपके मन का स्वामी चंद्रमा है, जो कि आपका राशि स्वामी भी है। इसलिए आपको तनाव मुक्त और प्रसन्न रहने के लिए मिश्री मिला हुआ दूध मंदिर में दान देना चाहिए।

सिंह- आपका राशि का स्वामी सूर्य है। शरद पूर्णिमा के अवसर पर धन प्राप्ति के लिए मंदिर में गुड़ का दान करें तो आपकी आर्थिक स्थिति में परिवर्तन हो सकता है।

कन्या- इस पवित्र पर्व पर आपको अपनी राशि के अनुसार 3 से 10 वर्ष तक की कन्याओं को भोजन में खीर खिलाना विशेष लाभदाई रहेगा।

तुला- इस राशि पर शुक्र का विशेष प्रभाव होता है। इस राशि के लोग धन और ऐश्वर्य के लिए धर्म स्थानों यानी मंदिरों पर दूध, चावल व शुद्ध घी का दान दें।

वृश्चिक- इस राशि में चंद्रमा नीच का होता है। सुख-शांति और संपन्नता के लिए इस राशि के लोग अपने राशि स्वामी मंगल देव से संबंधित वस्तुओं, कन्याओं को दूध व चांदी का दान दें।

धनु- इस राशि का स्वामी गुरु है। इस समय गुरु उच्च राशि में है और गुरु की नौवीं दृष्टि चंद्रमा पर रहेगी। इसलिए इस राशि वालों को शरद पूर्णिमा के अवसर पर किए गए दान का पूरा फल मिलेगा। चने की दाल पीले कपड़े में रख कर मंदिर में दान दें।

मकर- इस राशि का स्वामी शनि है। गुरु की सातवी दृष्टि आपकी राशि पर है जो कि शुभ है। आप बहते पानी में चावल बहाएं। इस उपाय से आपकी मनोकामनाएं पूरी हो सकती हैं।

कुंभ- इस राशि के लोगों का राशि स्वामी शनि है। इसलिए इस पर्व पर शनि के उपाय करें तो विशेष लाभ मिलेगा। आप दृष्टिहीनों को भोजन करवाएं।

मीन- शरद पूर्णिमा के अवसर पर आपकी राशि में पूर्ण चंद्रोदय होगा। इसलिए आप सुख, ऐश्वर्य और धन की प्राप्ति के लिए ब्राह्मणों को भोजन करवाएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App