ताज़ा खबर
 

सागर तट पर पहुंचे श्री राम, अब लंका पर चढ़ाई की तैयारी

शाम के एपिसोड में दिखाया गया कि इंद्रजीत ब्रह्मास्त्र का प्रयोग कर हनुमान जी को बंदी बना लेते हैं। लेकिन उन्हें इस बात का ज्ञान नहीं होता कि हनुमान जी को किसी भी अस्त्र और शस्त्र द्वारा बंदी नहीं बनाया जा सकता।

सागर तट पर पहुंचे भगवान श्री राम और उनकी सेना।

रामानंद सागर द्वारा निर्मित रामायण का कोरोनावायरस लॉक डाउन के चलते एक बार फिर से दूरदर्शन पर प्रसारण किया गया है। जिससे लोग इस समय इस लोकप्रिय शो का आनंद उठा सकें। आपको बता दें कि टीवी पर इसने वापसी के साथ नये रिकॉर्ड भी बना लिये हैं। इस शो को जमकर टीआरपी मिल रही है। बीते एपिसोड में दिखाया गया कि रावण की सोने की लंका को हनुमान जी ने अपनी पूंछ से जला दिया।

शाम के एपिसोड में दिखाया गया कि इंद्रजीत ब्रह्मास्त्र का प्रयोग कर हनुमान जी को बंदी बना लेते हैं। लेकिन उन्हें इस बात का ज्ञान नहीं होता कि हनुमान जी को किसी भी शस्त्र द्वारा बंदी नहीं बनाया जा सकता। रावण से मिलने की चाह में हनुमान जी खुद बंदी बन जाते हैं। उन्हें रावण की सभा में पेश किया जाता है। रावण हनुमान को देखकर हैरान हो जाते हैं और कहते हैं कि इस वानर से सब डर रहे थे। सभी कहते हैं कि ये कोई साधारण वानर नहीं बल्कि मायावी है।

रावण हनुमान से पूछता है, बोल वानर किसके कहने पर सुंदर उपवन को उजाड़ दिया। हनुमान कहते हैं- अपने शरीर को स्वस्थ रखना और सुरक्षित रखना उसका पहला धर्म है। मैं समंदर पार करके आया हूं। मुझे भूख लगी थी इसलिए मैंने सारे फल तोड़कर खा लिये। रावण कहता है कि तुम्हें हमारी शक्ति का कोई भी भान नहीं। इस पर हनुमान कहते हैं कि सुना है महाराज, आपको तो बाली 6 महीने तक कांख में दबाए घूमता रहा। आपने छल से माता सीता का अपहरण किया। अपने लिए कटु बातें सुनकर रावण काफी क्रोधित हो जाता है। फिर सभाजन की बात को मानते हुए हनुमान जी की पूंछ जलाकर उन्हें दंड देने का आदेश देता है और फिर श्री राम भक्त हनुमान अपनी जली हुई पूंछ से रावण की पूरी लंका को जला देते हैं। अब आज के एपिसोड का लाइव अपडेट देखने के लिए बने रहिए हमारे इस लाइव ब्लॉग पर…

Live Blog

Highlights

    10:19 (IST)10 Apr 2020
    माता सीता को श्रीराम के आने की मिली सूचना

    सीता माता श्रीराम के आने की सूचना सुनकर प्रसन्न हो जाती हैं। अब अगले एपिसोड में श्रीराम सेना समेत सागर तट को पार करेंगे।

    10:17 (IST)10 Apr 2020
    मंदोदरी का घबराया मन, रावण से कहा कि हो रहे हैं कई अपशगुन

    रावण मंदोदरी की बात सुनकर हसने लगा। मंदोरदी ने कहा कि आपको भी भय का अनुभव हो रहा होगा रावण कहता है कि हमें ऐसा कुछ भी अनुभव नहीं हो रहा। मंदोदरी हो रहे अपशगुन के बारे में रावण को बताती है और सीता को सम्मान पूर्वक छोड़ देने की बात कहती है। रावण मंदोदरी को अपशब्द कहता है कि तुम अपना पद छिन जाने के कारण चिंतित हो। इतने में रावण को श्रीराम के आने की सूचना मिली। मंदोदरी फिर रावण को समझाने की कोशिश करती है लेकिन रावण अहंकार वश कुछ भी सुनने को तैयार नहीं है।

    10:07 (IST)10 Apr 2020
    सागर तट पर श्री राम की सेना पहुंच चुकी है...

    श्री राम ने सागर को किया प्रणाम। इसी सागर को पार कर पहुंचेंगे लंका। 

    10:04 (IST)10 Apr 2020
    हर हर महादेव के जयकारे के साथ युद्ध के लिए निकली सेना

    श्री राम की सेना युद्ध के लिए निकल पड़ी है। अब अगले एपिसोड में आप देखेंगे कि लंका जाने के मार्ग में कितनी कठिनाइयां आयेंगी और सबका सामना कैसे श्री राम और उनकी सेना करती है। 

    09:58 (IST)10 Apr 2020
    Ramayan 10 April Episode: सेना तैयार, राम जी ने बढ़ाया हौसला

    राम जी सेना को समझा रहे हैं कि सैनिक का एक ही लक्ष्य युद्ध में होता है विजय। ये अधर्म पर धर्म की विजय है। युद्ध में जीतने के लिए मन में उत्साह और ह्रदय में प्रभु पर विश्वास रखो। इससे कोई तुम्हें पराजित नहीं कर पायेगा। 

    09:54 (IST)10 Apr 2020
    राम जी ने युद्ध के लिए बनाई रणनीति

    भगवान हनुमान ने रावण की लंका के रहस्य से सबको अवगत कराया साथ ही ये भी बताया कि उन्होंने लंका को काफी हद तक क्षति पहुंचा दी है। कौन सा मार्ग सुरक्षित रहेगा लंका में प्रवेश करने के लिए हनुमान जी ने सभी बातें बताईं। अब भगवान राम आगे की रणनीति पर चर्चा कर रहे हैं।

    09:48 (IST)10 Apr 2020
    सुग्रीव ने भगवान राम को अपनी शक्तिशाली सेना से परिचित कराया

    राम जी ने कहा ऐसे वीर मेरे साथ होंगे तो मैं निश्चय की विजयी होंगे। श्री राम हनुमान जी से लंका में जो कुछ भी देखा है उसके बारे में सभाजनों को बताने के लिए कहते हैं। हनुमान जी लंका की पूरी जानकारी भगवान राम सहित सभी लोगों को देते हैं। 

    09:42 (IST)10 Apr 2020
    हनुमान जी- प्रभु जिस पर आप की कृपा हो जाए उसके लिए दुनिया का कोई कार्य संभव नहीं

    हनुमान जी ने श्री राम से उनकी अपार भक्ति मांगी। भगवान ने हनुमान जी को अपना आशीर्वाद दिया। 

    09:39 (IST)10 Apr 2020
    श्री राम ने बुलाई सभा, लंका की ओर जाने की तैयारी

    श्री राम ने सुग्रीव को सभाजनों को बुलाकर रणनीति बनाने का आदेश दिया। श्री राम हनुमान जी पर बेहद ही प्रसन्न होते हैं। राम जी ने हनुमान जी से कहा कि आज कोई भी तुम्हारे समान मेरा उपकारी नहीं है मैं आज जन्म जन्म के लिए तेरा ऋणी हो गया हूं। ये सुनकर हनुमान जी बेहद ही भावुक होते हैं और प्रभु के चरणों में नतमस्तक हो जाते हैं।

    09:30 (IST)10 Apr 2020
    Ramayan Update: हनुमान जी ने श्री राम को माता सीता की निशानी दी

    श्री राम पूछते हैं कि क्या हमारे लिए कुछ कहा है सीता ने। हनुमान जी बताते हैं कि सीता मां ने लक्ष्मण को कहे गए अपशब्द की मांफी मांगी है और अपनी छोटी सी भूल के लिए राम जी से भी क्षमा याचना की है। अब हनुमान जी ने भगवान राम को सीता मां की दी हुई निशानी सौंपते हैं। 

    09:26 (IST)10 Apr 2020
    Jai Shree Ram: सीता जी से मिलने की बात सुनकर श्री राम बेहद ही भावुक हो गए

    श्री राम हनुमान जी से सीता माता के बारे में पूछते हैं कि वो कैसी हैं। सीता मां की दशा के बारे में हनुमान जी राम को बताते हैं। कि कैसे सभी राक्षसनियां सीता मां पर नजर रखी हैं। अगर वे नहीं होती तो माता सीता जीवित ही नहीं रह पातीं। हनुमान जी ने भगवान राम से कहा कि अगर माता को जीवित देखना चाहते हैं तो अब विलंब ना कीजिए।

    09:23 (IST)10 Apr 2020
    किष्किंधा लौटे भगवान हनुमान

    सुग्रीव ने हनुमान जी के आने की सूचना भगवान राम को दी। जिसे सुनकर भगवान प्रसन्न हो उठे। अब भगवान हनुमान भगवान राम के समक्ष प्रस्तुत होते हैं। राम जी पूछते हैं कि आपके कार्य सिद्ध हुए। अंगत हनुमान जी की विजय की गाथा श्री राम को सुनाते हैं और माता सीता से मिलने की सूचना भगवान राम को देते हैं। राम जी ने सीता मां की कुशलता पूछी। 

    09:20 (IST)10 Apr 2020
    10 अप्रैल सुबह 9 बजे का एपिसोड : माता सीता ने हनुमान जी को निशानी स्वरूप दी अपनी चूड़ामंढी

    निशानी पाकर हनुमान जी ने माता सीता से कहा कि अगर श्री राम इस निशानी से संतुष्ट नहीं हुए तो। तब सीता माता उन्हें ऐसी बात बताती हैं जो श्री राम और माता सीता को ही पता है। सीता मां कहानी बताते बताते अपना धैर्य खो देतीं हैं। उनकी आंखों से लगातार आंसू गिरे जा रहे हैं। हनुमान जी माता सीता की ऐसी दशा देखकर काफी विचलित हो जाते हैं और माता सीता को वचन देते हैं कि कुछ ही दिन में आप सुनेंगी कि श्री राम ने लंका को घेर लिया है।

    09:13 (IST)10 Apr 2020
    10 अप्रैल सुबह 9 बजे का एपिसोड : हनुमान जी ने भगवान राम के लिए माता सीता से मांगी कोई निशानी

    सीता मां हनुमान जी को सदा राम जी का लाडला बना रहने का आशीर्वाद देती हैं। जिसे सुनकर भगवान हनुमान काफी प्रसन्न हो जाते हैं। अब वो माता सीता से ऐसी निशानी मांग रहे हैं जिसे वो भगवान राम को दिखा सकें।

    09:10 (IST)10 Apr 2020
    10 अप्रैल सुबह 9 बजे का एपिसोड : लंका जलाकर सीता मां के पास पहुंचे हनुमान जी

    सीता हनुमान जी को देखकर प्रसन्न हो जाती हैं। हनुमान जी ने लंका में जो क्षति उन्होंने पहुंचाई है उसके बारे में सीता जी को बताते हैं। हनुमान कहते हैं कि मैं तो रावण का भी अंत कर देता लेकिन मुझे राम जी की आज्ञा नहीं है। हनुमान जी सीता को बता रहे हैं कि राम जी जल्द आयेंगे। हनुमान जी इतना कहकर माता सीता से आशीर्वाद लेकर वापस लौट रहे हैं। 

    09:10 (IST)10 Apr 2020
    10 अप्रैल सुबह 9 बजे का एपिसोड : लंका जलाकर सीता मां के पास पहुंचे हनुमान जी

    सीता हनुमान जी को देखकर प्रसन्न हो जाती हैं। हनुमान जी ने लंका में जो क्षति उन्होंने पहुंचाई है उसके बारे में सीता जी को बताते हैं। हनुमान कहते हैं कि मैं तो रावण का भी अंत कर देता लेकिन मुझे राम जी की आज्ञा नहीं है। हनुमान जी सीता को बता रहे हैं कि राम जी जल्द आयेंगे। हनुमान जी इतना कहकर माता सीता से आशीर्वाद लेकर वापस लौट रहे हैं। 

    09:07 (IST)10 Apr 2020
    10 अप्रैल सुबह 9 बजे का एपिसोड : अब सभाजन बैठकर विचार विमर्श कर रहे हैं

    रावण के नाना रावण को समझाने की कोशिश करते हैं कि अपनी हट छोड़ दो। कहते हैं कि एक स्त्री के लिए इतना मूल्य चुकाना उचित नहीं है। रावण अपने पुत्र से कहता है कि लंका को फिर से पहले की तरह किया जाये। 

    09:05 (IST)10 Apr 2020
    10 अप्रैल सुबह 9 बजे का एपिसोड : हनुमान जी ने किया लंका का दहन

    श्री हनुमान जी ने लंका जलाने के बाद समुद्र के पास जाकर अपने पूंछ की आग बुझाते हैं। अब सभाजन रावण को सावधान रहने की राय देते हैं और विभिषण का मकान नहीं जला इस बात को लेकर सभी संदेह जताते हैं। 

    Next Stories
    1 Career/Job Horoscope, 10 April 2020: वृष वालों को बिजनेस में मिलेगी सफलता, मिथुन वालों को लापरवाही के कारण हो सकता है नुकसान
    2 लव राशिफल 10 अप्रैल 2020: कर्क वालों के अपने साथी के साथ खत्म होंगे मनमुटाव, जानिए अपना आज का लव राशिफल
    3 Horoscope Today,10 April 2020: वृषभ वालों का समाज में बढ़ेगा सम्मान, जानिए बाकी राशि वालों के लिए आज का दिन कैसा